किसानों के खाते में गए 17 हजार करोड़

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पीएम किसान योजना के तहत साढ़े आठ करोड़ किसानों के लिए 17 हजार करोड़ रुपए जारी किए। यह पीएम किसान योजना की छठी किस्त है। इसके साथ ही प्रधानमंत्री ने कृषि के विकास के लिए लाख करोड़ रुपए के एग्रो इंफ्रा फंड का भी ऐलान किया। प्रधानमंत्री ने इस मौके पर किसानों की जम कर तारीफ की। कोविड-19 महामारी से उत्पन्न संकट से निपटने में देश के किसानों के योगदान की तारीफ करते हुए मोदी ने कहा कि किसानों के चलते भारत की ग्रामीण अर्थव्यवस्था आज भी मजबूत है और इससे पूरी अर्थव्यवस्था को सहारा मिला है।

प्रधानमंत्री ने किसान सम्मान निधि की छठी किस्त के तहत साढ़े आठ करोड़ से भी अधिक किसानों को 17 हजार एक सौ करोड़ रुपए की राशि जारी की और एग्रो इंफ्रा फंड के तहत एक लाख करोड़ रुपए की वित्तपोषण सुविधा का उद्घाटन किया। पीएम किसान के तहत किसानों को हर साल दो-दो हजार रुपए की तीन किस्तों में कुल छह हजार रुपये की सहायता दी जाती है।

मोदी ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए किसानों को संबोधित करते हुए कहा- संकट के इस दौर में हमारे किसानों ने पिछले छह माह में यह दिखा दिया है कि हमारा ग्रामीण और कृषि क्षेत्र आपदा में देश की कितनी बड़ी मदद कर सकता है। उन्होंने कहा- इन किसानों की तपस्या से ही हम 80 करोड़ लोगों को मुफ्त भोजन सामग्री सुलभ कराने का विश्व का सबसे बड़ा कार्यक्रम चालने में समर्थ हुए हैं।

इस कार्यक्रम में देश भर के किसान, सहकारी समितियां और नागरिक जुड़े। केंद्रीय कृषि व किसान कल्याण मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर भी इस कार्यक्रम में शामिल थे। प्रधानमंत्री ने इस मौके पर कहा- भारत की कृषि और ग्रामीण अर्थव्यवस्था संकट में भी मजबूत है। हमने इस दौरान बीज और उर्वरकों का रिकॉर्ड उत्पादन किया है। उन्होंने कहा- किसानों ने महामारी के खतरे के बीच भी कटाई-बुवाई में रिकॉर्ड बनाए हैं।

मोदी ने कहा कि देश में आज समस्या कृषि उत्पादन को लेकर नहीं, बल्कि कटाई के बाद होने वाले नुकसान को लेकर है। उन्होंने कहा कि कृषि अवसंरचना कोष कटाई बाद फसल प्रबंधन अवसंरचना और सामुदायिक कृषि परिसंपत्तियों जैसे कि शीत भंडार गृह, संग्रह केंद्रों, प्रसंस्करण इकाइयां आदि बनाने में मददगार होगा। मोदी ने कहा कि कृषि से संबंधित हालिया दो अध्यादेशों से किसानों को मंडी के बाहर अपनी उपज बेचने के लिए नए बाजार अवसर उपलब्ध होंगे। प्रधानमंत्री ने इस मौके पर किसान रेल का भी जिक्र किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Shares