मुठभेड़ में तीन आतंकी मरे

श्रीनगर। जम्मू कश्मीर में पिछले कई दिनों से सुरक्षा बलों की आतंकवादियों से अलग अलग इलाकों में मुठभेड़ चल रही है। बुधवार को पुलवामा जिले के कंगन इलाके में सुरक्षा बलों ने एक मुठभेड़ में जैश ए मोहम्मद के तीन आतंकियों को मार गिराया। इनमें से एक जैश का कमांडर अब्दुल रहमान था। उसकी पहचान फौजी भाई, इदरीस और लंबू के नाम से भी थी।

जम्मू-कश्मीर पुलिस के मुताबिक फौजी भाई नाम का जो आतंकी मारा गया है वो मौलाना मसूद अजहर का भतीजा नहीं है। मसूद अजहर के भतीजे का नाम भी फौजी भाई है। बहरहाल, बताया जा रहा है कि लंबू आईईडी एक्सपर्ट था। पिछले दिनों पुलवामा के अयानगुंड में कार में मिले आईईडी विस्फोटक को लंबू ने ही तैयार किया था। पुलवामा में पिछले साल सीआरपीएफ के जवानों पर हुए हमले के वक्त भी वह सक्रिय था।

लंबू मूल रूप से पाकिस्तान के मुल्तान का था और 2017 से पुलवामा में जैश ए मोहम्मद की गतिविधियों में शामिल था। खुफिया सूचना के बाद राष्ट्रीय राइफल्स, केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल और जम्मू कश्मीर पुलिस के विशेष अभियान समूह, एसओजी ने बुधवार को तलाशी अभियान छेड़ा था। सुरक्षा बलों ने एनाउंसमेंट कर आतंकियों से सरेंडर करने के लिए भी कहा, लेकिन आतंकियों ने फायरिंग शुरू कर दी। ऐहतियात के तौर पर पुलवामा जिले में मोबाइल इंटरनेट सेवा बंद की गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Shares