ईरान ने माना यूक्रेन का विमान गिराया

तेहरान। ईरान ने शनिवार को स्वीकार किया कि उसने अनजाने में यूक्रेन के विमान को मार गिराया था, जिससे उसमें सवार 176 लोगों की मौत हो गई थी। हालांकि शुरू में जब पश्चिमी देशों ने उस पर यह आरोप लगाया था तब उसने इस आरोप से इनकार किया था। ईरान के राष्ट्रपति हसन रूहानी ने कहा कि सैन्य जांच में सामने आया कि मानवीय भूल के कारण दागी गई मिसाइलों के चलते बोइंग 737 दुर्घटना का शिकार हो गया। उन्होंने इसे अक्षम्य गलती बताया है।

ईरान के सर्वोच्च नेता अयातुल्ला अली खमनेई ने शोक जताया और सशस्त्र बलों को खामियों को दूर करने का आदेश दिया ताकि ऐसी त्रासद घटना फिर न हो। गौरतलब है कि बुधवार को तेहरान के इमाम खमनई अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे से कीव के लिए उड़ान भरने के कुछ देर बाद ही तड़के धड़ाम से एक खेत में गिरा था। गौरतलब है कि अमेरिकी हमले में ईरान के शीर्ष जनरल कासिम सुलेमानी के मारे जाने के बाद ईरानी सशस्त्र बलों द्वारा इराक में अमेरिकी सैन्य ठिकानों को निशाना बना कर किए गए मिसाइल हमले के कुछ समय बाद यह घटना घटी।

पिछले दिनों एक वीडियो सामने आया तब ईरान पर इसकी भरोसेमंद जांच की इजाजत देने के लिए दबाव पड़ने लगा। इस वीडियो फुटेज में नजर आता है कि एक तेजी से आती हुई वस्तु विमान में टक्कर मारती है। यूक्रेन और कनाडा ने ईरान के यह स्वीकार करने के बाद जवाबदेही की मांग की। ईरानी सेना ने सबसे पहले इस गलती को कबूला और उसने कहा कि बोइंग 737 को भूलवश शत्रु लक्ष्य समझ लिया गया। उसने कहा कि अमेरिकी धमकी के बाद ईरान बिल्कुल सतर्क था और जब यह विमान उसके संवेदनशील सैन्य स्थल के बिल्कुल करीब पहुंच गया तब मानवीय भूल से उसे दागा गया।

इसके बाद यूक्रेन के राष्ट्रपति वोलोदिमीर जेलेंस्की ने मांग की है कि ईरान इस विमान को मार गिराने के लिए जिम्मेदार लोगों को सजा दे और मुआवजा दे। कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो ने कहा कि जवाबदेही की जरूरत है। उन्होंने मारे गए परिवारों और उनके प्रियजनों के लिए पारदर्शिता व इंसाफ की मांग की। उइससे पहले ईरान के विदेश मंत्री मोहम्मद जवाद जरीफ ने ट्वीट किया- अमेरिकी दुस्साहस के चलते पैदा हुए संकट के समय मानवीय चूक के चलते यह दुर्घटना हुई। हमें गहरा दुख है सभी पीड़ितों के परिवारों और अन्य प्रभावित राष्ट्रों से हमारी माफी और संवेदना।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Shares