विपक्ष ने की न्यायिक जांच की मांग

नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश के कानपुर में आठ पुलिस वालों की हत्या के आरोपी गैंगेस्टर विकास दुबे के एक कथित मुठभेड़ में मारे जाने की घटना पर विपक्षी पार्टियों ने कई सवाल उठाए हैं। विपक्षी पार्टियों ने इस घटना की न्यायिक जांच की मांग की है। कांग्रेस पार्टी की महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा और बहुजन समाज पार्टी की अध्यक्ष मायावती ने इस घटना की न्यायिक जांच कराने की मांग की है।

प्रियंका ने एक वीडियो शेयर करते हुए कहा है- उत्तर प्रदेश उप्र की कानून व्यवस्था बदतर हो चुकी है। राजनेता और अपराधी गठजोड़ प्रदेश पर हावी है।  कानपुर कांड में इस गठजोड़ की सांठगांठ खुल कर सामने आई। उन्होंने आगे कहा-  कौन कौन लोग इस तरह के अपराधी की परवरिश में शामिल हैं, ये सच सामने आना चाहिए। सुप्रीम कोर्ट के मौजूदा जज से पूरे कांड की न्यायिक जांच होनी चाहिए। इसके पहले प्रियंका गांधी वाड्रा ने एक ट्विट भी किया था, जिसमें उन्होंने विकास दुबे को संरक्षण देने का आरोप लगाया था। उन्होंने कहा था- अपराधी तो खत्म, लेकिन अपराधी को संरक्षण देने वालों का क्या?

बसपा प्रमुख मायावती ने भी इस मामले में सुप्रीम कोर्ट की निगरानी में निष्पक्ष जांच की मांग की है। उन्होंने कहा कि इस मामले में सुप्रीम कोर्ट की जांच होनी चाहिए ताकि उन आठ पुलिसकर्मियों के परिवारों को उचित न्याय मिल सके। उन्होंने शुक्रवार को एक ट्विट में लिखा-  कानपुर पुलिस हत्याकांड की और साथ ही इसके मुख्य आरोपी दुर्दांत विकास दुबे को मध्य प्रदेश से कानपुर लाते समय आज पुलिस की गाड़ी के पलटने और उसके भागने पर यूपी पुलिस द्वारा उसे मार गिराए जाने आदि के समस्त मामलों की माननीय सुप्रीम कोर्ट की निगरानी में निष्पक्ष जांच होनी चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Shares