मोदी, शाह कर रहे हैं निगरानी - Naya India
समाचार मुख्य| नया इंडिया|

मोदी, शाह कर रहे हैं निगरानी

नई दिल्ली। उत्तराखंड के चमोली में ग्लेशियर टूट कर गिरने से हुए हादसे के बाद के हालात की केंद्र सरकार लगातार निगरानी कर रहा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राज्य के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत से बात की और उन्हें हर तरह की मदद का भरोसा दिया। बाद में प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि पूरा देश उत्तराखंड के साथ खड़ा है। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने भी मुख्यमंत्री रावत से बात की और उन्हें हर तरह की मदद का भरोसा दिलाया।

ग्लेशियर टूट कर नदी में गिरने से आई बाढ़ के बाद प्रधानमंत्री मोदी ने राज्य के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत से बात कर हरसंभव मदद का आश्वासन दिया। मोदी ने ट्विट कर कहा- उत्तराखंड में दुर्भाग्यपूर्ण स्थिति की लगातार निगरानी कर रहा हूं। भारत उत्तराखंड के साथ खड़ा है और देश सभी की सुरक्षा के लिए प्रार्थना कर रहा है। उन्होंने लिखा- वरिष्ठ अधिकारियों से लगातार बात कर रहा हूं और एनडीआरएफ की तैनाती, बचाव और राहत कार्यों से संबंधित जानकारियां लगातार ले रहा हूं।

प्रधानमंत्री कार्यालय ने एक अन्य ट्विट में कहा- प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उत्तराखंड की स्थिति की समीक्षा की। उन्होंने राज्य के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत और अन्य शीर्ष अधिकारियों से बात की। उन्होंने बचाव और राहत कार्य का जायजा लिया। अधिकारी प्रभावित लोगों को हरसंभव सहायता प्रदान करने के लिए काम कर रहे हैं।

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने भी उत्तराखंड के मुख्यमंत्री से बात की और उन्हें बाढ़ की स्थिति से निपटने के लिए हरसंभव मदद का भरोसा दिया। शाह ने ट्विट करके कहा कि एनडीआरएफ की टीमों को प्रभावित लोगों के बचाव और राहत कार्यों के लिए तैनात किया गया है जबकि बल के अतिरिक्त जवानों को दिल्ली से हवाई मार्ग से रवाना किया जा रहा है। उन्होंने कहा- उत्तराखंड में प्राकृतिक आपदा की सूचना के संबंध में मैंने मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत, आईटीबीपी के महानिदेशक और एनडीआरएफ के महानिदेशक से बात की है। सभी संबंधित अधिकारी लोगों को सुरक्षित करने के लिए युद्ध स्तर पर काम कर रहे हैं। एनडीआरएफ की टीमें बचाव कार्यों के लिए रवाना की गई हैं। देवभूमि को हर संभव मदद प्रदान की जाएगी।

 

सोनिया, राहुल, प्रियंका ने जताया दुख

उत्तराखंड में आई प्राकृतिक आपदा के बाद देश भर के नेताओं ने दुख जताया और अपनी तरह से मदद का हाथ बढ़ाया। कांग्रेस पार्टी की अध्यक्ष सोनिया गांधी और पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने ग्लेशियर टूट कर गिरने के हादसे पर दुख जताते हुए कांग्रेस पार्टी के नेताओं और कार्यकर्ताओं को निर्देश दिया कि वे राहत और बचाव कार्य में जुटें और लोगों की मदद करें। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने भी हादसे पर दुख जताया और उन्होंने भी कांग्रेस कार्यकर्ताओं से राहत कार्यों में सहयोग करने से अपील की। इनके अलावा लगभग सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों ने हादसे पर दुख जाहिर करते हुए अपनी ओर से मदद का हाथ बढ़ाया है। इस हादसे में 170 के करीब लोगों के मारे जाने का अंदेशा है।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
गणतंत्र दिवस समारोह के लिए छावनी बनी दिल्ली, तीसरी आंख रखेगी निगरानी, सिर्फ 24 हजार लोग होंगे शामिल
गणतंत्र दिवस समारोह के लिए छावनी बनी दिल्ली, तीसरी आंख रखेगी निगरानी, सिर्फ 24 हजार लोग होंगे शामिल