वझे को नही मिली जमानत - Naya India
देश | महाराष्ट्र | समाचार मुख्य| नया इंडिया|

वझे को नही मिली जमानत

मुंबई। देश के सबसे बड़े उद्योगपति मुकेश अंबानी के घर से थोड़ी दूरी पर विस्फोटक से भरी स्कॉर्पियो गाड़ी मिलने के विवाद में घिरे पुलिस अधिकारी सचिन वझे की मुश्किलें बढ़ गई हैं। असिस्टेंट पुलिस इंस्पेक्टर सचिन वझे की अग्रिम जमानत की याचिका ठाणे की सेशन कोर्ट खारिज कर दी है। अदालत ने शनिवार को कहा कि पहली नजर में उनके खिलाफ कुछ सबूत मिले हैं। इस बीच वझे का एक व्हाट्सऐप स्टैटस वायरल हो रहा है, जिसमें उन्होंने लिखा है कि अब दुनिया को अलविदा कहने का वक्त आ गया है।

गौरतलब है कि मुकेश अंबानी के घर एंटीलिया के बाहर से बरामद हुई स्कॉर्पियो कार के मालिक मनसुख हिरेन की मौत के मामले में वझे पर आरोप लगे हैं। महाराष्ट्र के गृह विभाग के आदेश पर मुंबई पुलिस के सचिन वझे को क्राइम ब्रांच से हटा दिया गया। उन्हें नागरिक सुविधा केंद्र में भेजा गया है। पिछले दिनों महाराष्ट्र एटीएस ने स्कॉर्पियो मालिक की मौत के मामले में वझे से 10 घंटे तक पूछताछ की थी। उसके बाद गिरफ्तारी से बचने के लिए वझे ने शुक्रवार को अग्रिम जमानत की याचिका दायर की थी। मामले की अगली सुनवाई 19 मार्च को होगी। गौरतलब है कि राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़नवीस ने वझे को गिरफ्तार करने की मांग की है।

इनकाउंटर स्पेशलिस्ट रहे वझे का जो स्टैट्स वायरल हुआ है उसमें उन्होंने लिखा- तीन 3 मार्च 2004 को, सीआईडी में मेरे सहयोगियों ने मुझे झूठे आरोप में गिरफ्तार किया था। वह मामला अभी भी क्लियर नहीं हुआ है, लेकिन अब इतिहास खुद को दोहरा रहा है। मेरे सहकर्मी अब मेरे लिए फिर से एक जाल बिछा रहे हैं। उन्होंने आगे लिखा है- बचने की कोई उम्मीद नहीं। यह दुनिया को अलविदा कहने का समय है। हालांकि बाद में यह स्टैट्स दिखना बंद हो गया। बताया जा रहा है कि अधिकारियों के कहने पर वझे ने इसे हटा दिया।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ट्रेंडिंग खबरें arrow
x
न्यूज़ फ़्लैश
Assembly Election : तमिलनाडु, पुडुचेरी में उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला कल
Assembly Election : तमिलनाडु, पुडुचेरी में उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला कल