सौरव के शामिल होने का सस्पेंस - Naya India
देश | पश्चिम बंगाल | समाचार मुख्य| नया इंडिया|

सौरव के शामिल होने का सस्पेंस

कोलकाता। भारत के पूर्व टेस्ट कप्तान और भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड यानी बीसीसीआई के अध्यक्ष सौरव गांगुली को लेकर सस्पेंस बढ़ गया है। जानकार सूत्रों का कहना है कि भारतीय जनता पार्टी की ओर से परदे के पीछे काम कर रही टीम ने गांगुली को इस बात के लिए तैयार कर लिया है कि वे सात मार्च को होने वाली प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की रैली में शामिल हों। हालांकि गांगुली के करीबी जानकार अब भी इस बात से इनकार कर रहे हैं। उनका कहना है कि गांगुली की राजनीति में जाने में कोई दिलचस्पी नहीं है।

बहरहाल, सात मार्च की रैली में गांगुली के शामिल होने पर सस्पेंस है वैसे ही मिथुन चक्रवर्ती के रैली में शामिल होने और भाजपा ज्वाइन करने की चर्चा भी जोरों पर है। बताया जा रहा है कि मिथुन चक्रवर्ती और बांग्ला फिल्मों के बड़े अभिनेता प्रोसेनजीत भी भाजपा में शामिल हो सकते हैं। इन दोनों के अलावा कई और बड़ी हस्तियां प्रधानमंत्री मोदी की मौजूदगी में पार्टी ज्वाइन करेंगी। गौरतलब है कि भाजपा पश्चिम बंगाल में ममता बनर्जी को टक्कर देने के लिए एक बड़े चेहरे की तलाश में लगी है।

भाजपा ने असम की पहली सूची जारी की

भारतीय जनता पार्टी ने असम विधानसभा चुनाव के लिए 70 उम्मीदवारों की पहली सूची जारी कर दी है। पार्टी ने पिछली बार जीते 11 विधायकों को इस बार टिकट नहीं दी है। शुक्रवार को जारी हुई सूची के मुताबिक मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल अपनी पारंपरिक माजुली सीट से चुनाव लड़ेंगे। तमाम अटकलों को दरकिनार करते हुए हिमंता बिस्वा सरमा को भी टिकट दिया गया है। वे अपनी परंपरागत जालकुबरी सीट से लड़ेंगे। पहले उनके चुनाव लड़ने पर अटकलें लगाई जा रही थीं।

बहरहाल, भाजपा की केंद्रीय चुनाव समिति की बैठक में 70 नामों पर मुहर लगाई गई। राज्य की 126 विधानसभा सीटों में से भाजपा 92 सीटों पर चुनाव लड़ेगी। बाकी 26 सीटें उसने असम गण परिषद को और आठ सीटें अपनी नई सहयोगी यूनाइटेड पीपुल्स पार्टी लिबरल के लिए छोड़ी है। भाजपा अपने 22 उम्मीदवारों के नाम का ऐलान भी एक-दो दिन में करेगी। गौरतलब है कि राज्य में तीन चरण में विधानसभा चुनाव होने हैं। पहले चरण का मतदान 27 मार्च को होना है।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *