• डाउनलोड ऐप
Thursday, May 6, 2021
No menu items!
spot_img

बंगाल के रण में उतरे राहुल

Must Read

कोलकाता। पश्चिम बंगाल के चार चरण के मतदान तक प्रचार से दूर रहे कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी आखिरकार प्रचार में उतरे। उन्होंने बुधवार को कई चुनावी सभाओं को संबोधित किया। राहुल ने केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार और पश्चिम बंगाल की ममता बनर्जी सरकार पर तीखा हमला किया। बुधवार को उत्‍तर दिनाजपुर जिले के गोलपोखर में जनसभा को संबोधित किया और कहा कि भाजपा के पास नफरत और हिंसा फैलाने के अलावा कुछ नहीं है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और ममता बनर्जी पर निशाना साधते हुए राहुल ने कहा कि देश के प्रधानमंत्री थाली बजा कर कोरोना भगा रहे हैं। राहुल ने कहा- नरेंद्र मोदी कहते हैं कोरोना आता है तो थाली बजाओ, घंटी बजाओ, मोबाइल की लाइट जलाओ कोरोना भाग जाएगा, भाग गया कोरोना? ममता बनर्जी कहती हैं खेला होबे। ये क्या ड्रामा चल रहा है। राहुल ने भाजपा पर हमला बोलते हुए कहा कि भारतीय जनता पार्टी के पास नफरत और हिंसा के अलावा देने के लिए और कुछ नहीं है।

भाजपा पर निशाना साधते हुए राहुल ने कहा- भाजपा पश्चिम बंगाल का विभाजन और इसको बरबाद कर देना चाहती हैं, जैसा वे असम और तमिलनाडु में कर रहे हैं। वे नफरत फैला रहे हैं। उन्होंने कहा- अमित शाह और नरेंद्र मोदी को कुछ नहीं होने वाला है। आग लगेगी तो बंगाल जलेगा। बंगाल की माताएं और बहनें रोएंगी। मैं चुनाव में भाषण देने नहीं आया हूं। मैं आपलोगों को यह बताने आया हूं कि बंगाल बंट गया, तो सबसे ज्यादा नुकसान बंगाल की जनता और भविष्य को होगा।

राहुल ने कहा- भाजपा ने उत्तर प्रदेश में आग लगाई। उसकी बदौलत चुनाव जीते। उसके बाद क्या हुआ? आज वहां क्या हो रहा है? उन्होंने मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर हमला करते हुए कहा- यह पहला प्रदेश है, जहां रोजगार के लिए कट मनी देनी होती है। आपको नौकरी चाहिए, कोई काम चाहिए तो पहले ममता जी के लोगों को पैसे दो तो आपका काम होगा। ममता जी चुनाव के समय कहती हैं कि खेला होबे। कैसा खेल, यहां की सड़क कौन बनाएगा? यहां कॉलेज-यूनिवर्सिटी कौन बनाएगा?

गौरतलब है कि पश्चिम बंगाल में इस बार के विधानसभा चुनाव में राहुल गांधी का यह पहला दौरा था। वे पांचवें चरण के प्रचार में शामिल हुए। इससे पहले उन्होंने असम, केरल और तमिलनाडु के विधानसभा चुनावों में पार्टी के लिए प्रचार किया लेकिन बंगाल नहीं आए। असल में उनकी पार्टी बंगाल में सीपीएम के साथ तालमेल करके लड़ रही है, जबकि केरल में दोनों के बीच आमने-सामने का मुकाबला था। इसलिए राहुल प्रचार के लिए नहीं आए थे।

- Advertisement -spot_img

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Latest News

 Covid Relief : ‘मिशन ऑक्सीजन’ के लिए नौ युद्धपोत तैनात, नेवी ने शुरू किया ‘Samudra Setu_II’

नई दिल्ली। भारत में कोरोना संक्रमण से मचे हाहाकार के बीच इंडियन एयरफोर्स के बाद नेवी ने भी मिशन...

More Articles Like This