केजरीवाल ने मोदी से मांगा आशीर्वाद

नई दिल्ली। मुख्यमंत्री की लगातार तीसरी बार शपथ लेने वाले अरविंद केजरीवाल ने आज कहा वह पूरी दिल्ली के सीएम और राजधानी के चौतरफा विकास को प्रतिबद्ध हैं उन्हें इस काम के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आशीर्वाद की जरुरत है।

ऐतिहासिक रामलीला मैदान में आज उपराज्यपाल अनिल बैजल के पद एवं गोपनीयता की शपथ लेने के बाद केजरीवाल ने पहले संबोधन में कहा कि वह सभी के लिए काम करेंगे चाहे वे किसी भी दल और जाति-धर्म के हो।

अगले पांच साल के दौरान दिल्ली के चौतरफा विकास के लिए जनता की साथ मांगते हुए केजरीवाल ने मोदी के आशीर्वाद की जरूरत बताई। उन्होंने नये प्रकार की राजनीति के लिए दिल्ली की जनता को श्रेय देते हुए कहा कि अब पूरे देश की राजनीति बदल रही है। केजरीवाल के साथ उनके पुराने मंत्रिमंडल के छह मंत्रियों मनीष सिसोदिया, गोपाल राय, सत्येंद्र जैन, कैलाश गहलोट, इमरान हुसैन और राजेंद्र पाल गौतम ने भी शपथ ली।

इसे भी पढ़ें :- केजरीवाल तीसरी बार बने मुख्यमंत्री

मुख्यमंत्री ने इस बार चुनाव में मिली जीत का सेहरा जनता के सिर बांधते हुए कहा, आज आपके बेटे ने तीसरी बार शपथ ली है और यह मेरी जीत नहीं है। इसका श्रेय आप सभी और दिल्ली के एक-एक नागरिक को है। यह एक जीत एक-एक मां, बहन, युवा, छात्र और परिवार की है। पिछले पांच साल के दौरान हमारा प्रयास रहा कि दिल्ली के एक-एक नागरिक की जिंदगी में खुशहाली हाे सकें। हमारी कोशिश रही कि किस तरह दिल्ली का खूब तेजी के साथ विकास हो।

अगले पांच साल के दौरान भी हमारी यही कोशिश जारी रहेगी। सब लोग अपने गांव में फोन करके बता देना हमारा बेटा सीएम बन गया अब चिंता की कोई बात नहीं है। केजरीवाल ने कहा कि चुनाव में उन्हें जिसने वोट दिया और जिसने नहीं दिया वह सभी के लिए बिना किसी भेदभाव के काम करेंगे। उन्होंने पूरी दिल्ली को साथ लेकर चलने का भरोसा देते हुए कहा, अभी चुनाव हुए कुछ लोगों ने आप पार्टी और कुछ ने भाजपा को वोट दिया।

आज जब मुख्यमंत्री पद की शपथ ली है तो मैं सबका मुख्यमंत्री हूं। मैं आप, भाजपा, कांग्रेस और अन्य सभी पार्टी वालों का भी मुख्यमंत्री हूं। पिछले पांच साल के दौरान मैंने किसी के साथ सौतेला व्यवहार नहीं किया। किसी का काम यह कहकर नहीं रोका कि तुम दूसरी पार्टी के हो। मैंने सबका काम किया।

इसे भी पढ़ें :- यह हर दिल्लीवासी की जीत : केजरीवाल

मुख्यमंत्री ने कहा कि उन्होंने यह कभी नहीं सोचा कि यह मोहल्ला किस राजनीतिक के समर्थकों का है और किसका नहीं। उन्होंने कहा, मुझे पता चला यह मोहल्ला भाजपा वालों का है मैंने वहां भी काम कराया। मैं दिल्ली की दो करोड़ जनता से यह कहना चाहता हूं कि चुनाव संपन्न हो गये हैं। आपके जिसको वोट दिया अब आप सभी मेरा परिवार हो। आप चाहे किसी भी पार्टी के हो आप मेरे परिवार का हिस्सा हो, कभी कोई काम हो मेरे पास बेहिचक आना। सबका काम करुंगा चाहे कोई किसी पार्टी, किसी धर्म या जाति का हो।

केजरीवाल ने आगे दिल्ली का और विकास करने के लिए सभी का साथ मांगते हुए कहा कि राजधानी के लिए बहुत बड़े-बड़े काम करने हैं। उन्होंने कहा, मैं अकेले बड़े-बड़े काम नहीं कर सकता और हम सब मिलकर काम करेंगे। चुनाव में राजनीति और एक दूसरे के खिलाफ बयानबाजी होती है। हमारे विरोधियों ने हमें जो कुछ कहा हमने उन्हें माफ कर दिया और आज मैं उनसे भी निवेदन करता हूं जो कुछ उठापटक हुई उसे भूल जाओ मैं सभी पार्टियों के साथ मिलकर दिल्ली का विकास करना चाहता हूं।

इसे भी पढ़ें :- शपथ समारोह में नहीं आए भाजपा सांसद

मैं केंद्र के साथ मिलकर काम करना चाहता हूं। मैं दिल्ली को दुनिया का सबसे अच्छा शहर बनाना चाहता हूं। मैंने पीएम को को भी न्योता भेजा था, वह कहीं और व्यस्त हैं, आ नहीं पाये, लेकिन मैं इस मंच से दिल्ली को आगे बढ़ाने के लिए पीएम का भी आशीर्वाद चाहता हूं।
उन्होंने कहा कि दिल्ली ने इस चुनाव में नई राजनीति काम की राजनीति, स्कूल की राजनीति, अस्पताल की राजनीति, सस्ती बिजली की राजनीति, अच्छी सड़कों की राजनीति, भ्रष्टाचार मुक्त भारत की राजनीति और 21 वीं सदी की राजनीति।

मुख्यमंत्री ने अपने संबोधन के अंत में ‘हम होंगे कामयाब’ और पूरे देश में बजा डंका कविताएं गाईं और भारत माता के नारे वहां मौजूद पार्टी के समर्थकों और अन्य नागरिकों से लगवाए।
उन्होंने अंत में कविता का पाठ किया:-
जब भारत मां का हर बच्चा
अच्छी शिक्षाा पाएगा
जब भारत के हर बंदे को अच्छा इलाज मिल पाएगा
जब सुरक्षा और सम्मान
महिलाओं में आत्म विश्वास जगायेगा
जब किसान का पसीना उसके
घर में भी खुशहाली लाएगा
जब हर भारत वासी
जीवन की मूलभूत सुविध पायेगा
जब धर्म जाति से उठकर
हर भारत वासी भारत को आगे बढ़ायेगा
तब ही अमर तिरंगा
आसमान में शान में लहराएगा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Shares