आप का अगला लक्ष्य पंजाब विधानसभा चुनाव

नई दिल्ली। दिल्ली विधानसभा चुनाव में भारी जीत के बाद आम आदमी पार्टी (आप) पंजाब में 2022 के विधानसभा चुनाव के लिए अपने मॉडल को विस्तार देने को लेकर विचार-विमर्श शुरू कर चुकी है।

आप की पंजाब इकाई के प्रमुख भगवंत मान ने बातचीत में कहा कि पिछले कई दशकों में दिल्ली ने जिन मुद्दों का सामना किया है, उसका सामना पंजाब भी कर रहा है।

मान ने कह, पंजाब में सरकारों ने आम आदमी और उनके मुद्दों को नजरअंदाज किया है। यह समय है कि दिल्ली मॉडल को राज्य में लागू किया जाना चाहिए।

उन्होंने कहा कि अगर दिल्ली मॉडल पंजाब में भी लागू किया जाता है तो उन्हें खुशी होगी।  उन्होंने कहा, दिल्ली में आप को मिला जनादेश पिछले पांच सालों में उसके द्वारा की गई कड़ी मेहनत का परिणाम है। पार्टी में नई प्रक्रिया को लेकर मान ने कहा कि कोई भी जो राष्ट्र निर्माण के लिए काम करना चाहता है, आप में शामिल हो सकता है।

उन्होंने कहा, पार्टी उन सभी का स्वागत करेगी, जो पंजाब को बेहतर राज्य बनाने के लिए काम करने के लिए तैयार होंगे। जो लोग बिना किसी शर्त और लालच के इस दृष्टिकोण के लिए काम करने के लिए तैयार हैं, उनका पार्टी में स्वागत है।  आप 2017 के पंजाब विधानसभा चुनाव में दूसरी सबसे बड़ी पार्टी के रूप में उभरी थी।

इसे भी पढ़ें :- यह हर दिल्लीवासी की जीत : केजरीवाल

वह वर्तमान में राज्य में प्रमुख विपक्षी दल है। विस्तार की योजना के बारे में पंजाब विधानसभा में विपक्ष के नेता हरपाल सिंह चीमा ने कहा कि पार्टी को विस्तार की योजना अभी बनानी है। चीमा ने कहा, हम आगामी महीनों में पार्टी को पंजाब में विस्तार देने की योजना बना रहे हैं। आप के शासन का मॉडल पूरे देश में लोगों को पंसद आ रहा है।

उन्होंने कहा, कांग्रेस और भाजपा ने इतने सालों तक शासन किया है, लेकिन वे लोगों के बीच अपनी छाप बनाने में नाकाम रहे हैं, जो केजरीवाल और उनकी सरकार ने पांच सालों में बनाया है। यह पूछे जाने पर कि पंजाब में विधानसभा चुनाव में कौन पार्टी की अगुवाई करेगा? इस पर चीमा ने कहा कि इस पर कोर कमेटी अंतिम निर्णय लेगी। आप के राज्यसभा सांसद सुशील कुमार गुप्ता ने दोनों नेताओं के बयानों का समर्थन किया।

गुप्ता ने कहा, हमने एक मॉडल दिया, जिसे हर कोई पसंद करता है। यह समय है कि दिल्ली मॉडल को देश भर में लागू किया जाना चाहिए। आप ने हाल में हुए दिल्ली विधानसभा चुनाव में 70 सीटों में से 62 सीटों पर जीत हासिल की है। अब आप दिल्ली व दूसरे राज्यों में स्थानीय निकायों के चुनाव लड़ने की योजना बना रही है। इसके साथ ही पार्टी अन्य राज्यों में विधानसभा चुनावों पर ध्यान केंद्रित कर रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Shares