चीफ सेलेक्टर का बड़ा बयान, खिलाड़ियों को समंदर में नहीं फेंक सकते

विराट कोहली की जगह रोहित शर्मा को भारतीय टीम के नए वनडे कप्तान बनाए जाने के बीसीसीआई के फैसले को करीब 48 घंटे हो चुके हैं। लेकिन इस पर अभी भी बहस जारी है।

वेंगसरकर ने कहा, 'रोहित शर्मा को वनडे और टी20 इंटरनेशनल में भारत के नए कप्तान बनाने का बीसीसीआई का फैसला सही कदम है।

रोहित पिछले कुछ समय से अच्छा कर रहे हैं और वह अपनी कप्तानी की बारी का इंतजार कर रहे थे। मुझे लगता है कि यह एक अच्छा कदम है। 

विराट कोहली टेस्ट क्रिकेट पर ध्यान केंद्रित कर सकते हैं और रोहित व्हाइट बॉल पर, जिसमें उन्होंने अब तक एक कप्तान के रूप में असाधारण प्रदर्शन किया है।

उन्होंने आईपीएल में मुंबई इंडियंस के लिए कई खिताब जीते हैं और भारतीय टीम के कप्तान के रूप में उन्हें जो भी दिया गया है, उसमें भी उन्होंने अच्छा प्रदर्शन किया है।

उन्होंने आगे कहा, 'जब मैं सेलेक्शन कमेटी का प्रमुख था तो मैंने अनिल कुंबले को कप्तान बनाया और उसी समय धोनी और दूसरे खिलाड़ियों को तैयार किया।

मैंने ईशांत शर्मा को तैयार किया जिन्हें मैं इंग्लैंड दौरे पर ले गया। मैं जानता था कि ईशांत को वहां मौका नहीं मिलेगा लेकिन मुझे ये पता था कि ऑस्ट्रेलिया दौरे पर वो अच्छा प्रदर्शन कर सकता है।

सेलेक्टरों का काम ही है खिलाड़ियों को तैयार करना। आप किसी खिलाड़ी को समंदर में फेंककर उनके तैरने की उम्मीद नहीं कर सकते।

नई वेब स्टोरी के लिए यहाँ क्लिक करें

Open Hands

Thanks For  Watching