Team India lost the series

टीम इंडिया को मिली हार सीरीज़ हुई 2-2 से बराबर, जाने हार के कारण.....

Source : Social Media

टेस्ट क्रिकेट के इतिहास में पहली बार ऐसा हुआ है, जब टीम इंडिया के खिलाफ किसी टीम ने टेस्ट क्रिकेट में 378 रनों का बड़ा टारगेट हासिल कर लिया हो। 

इंग्लैंड ने ना सिर्फ यह टारगेट हासिल किया, बल्कि जिस तरह से एकतरफा तरीके यह टारगेट हासिल किया, उसने टीम इंडिया की कई कमियों को जगजाहिर कर दिया है। 

रोहित शर्मा की गैरमौजूदगी में इस मैच के लिए कमान जसप्रीत बुमराह को सौंपी गई थी। बुमराह ने जिस तरह से इंग्लैंड की पहली पारी में कप्तानी की, उससे सभी प्रभावित हुए थे, 

लेकिन दूसरी पारी में उनके अंदर अनुभव की कमी साफ नजर आई। भारत ने पहली पारी में 416 रन बनाकर इंग्लैंड को पहली पारी में 284 रनों पर समेट दिया था। 

इसके बाद टीम इंडिया दूसरी पारी में महज 245 रनों पर ही ऑलआउट हो गई। 378 रनों का टारगेट बहुत बड़ा देखने में तो लग रहा था, लेकिन जो रूट और जॉनी बेयरेस्टो ने जिस तरह से रनों का पीछा किया, 

उसके हिसाब से तो 500 का टारगेट भी कम ही होता। जो रूट 142 और बेयरेस्टो 114 रन बनाकर नॉटआउट लौटे। इंग्लैंड ने सात विकेट से मैच जीता और साथ ही सीरीज में 2-2 से बराबरी हासिल की। 

2021 में शुरू हुई टेस्ट सीरीज का ऐसा अंत शायद ही किसी भारतीय क्रिकेट फैन ने सोचा होगा। एजबेस्टन टेस्ट के प्लेइंग XI में अश्विन का नहीं होना टीम इंडिया को काफी भारी पड़ा

Open Hands

Thanks For  Watching

इसी तरह की नई वेब स्टोरी के लिए यहाँ क्लिक करें और जुड़े रहे नया इंडिया के साथ.