सेलिब्रिटी की जरूरत बनते विज्ञापन

फि ल्मी सितारें हो या क्रिकेटर अथवा किसी अन्य खेल की विशिष्ट हस्ती, विज्ञापनों में चेहरा दिखाना सभी की अनिवार्य जरूरत बन गया है। सिर्फ इसलिए नहीं कि इससे प्रतिष्ठा व लोकप्रियता बढ़ती है बल्कि इसलिए कि अपने मूल कर्म क्षेत्र में खासी मशक्कत करने के बाद जो रकम मिल पाती है उससे कहीं ज्यादा विज्ञापनों में हिस्सा बनने से हंसते खेलते जेब में आ जाती है। महेंद्र सिंह धोनी को ही आम्रपाली के ब्रांड एंबेसडर होने के नाते हर एनडोर्समेंट के लिए आठ करोड़ रुपए मिल रहे थे।

सेलिब्रिटी से क्यों पसंद-नापसंद तय हो?

किस आरो से साफ हुआ कौन सा पानी पीना स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद है? किस क्रीम से काला रंग जल्दी गोरा हो सकता है? कौन सा पेस्ट शुद्धता की गारंटी देता है? बच्चों का उचित विकास किस पेय से हो सकता है? सवालों की लिस्ट काफी लंबी है मसलन किस साबुन से हाथ धोना चाहिए, क्या पहनना चाहिए, क्या और कैसे खाना चाहिए वगैरह वगैरह।

और लोड करें