राहुल ज्यादा झुकेंगे तो कांग्रेस टूटेगी

सवाल था कि कांग्रेस के बागी नेता किस हद तक जा सकते हैं? तो जवाब में…

हमारा गणतंत्र है सफल

आगामी 26 जनवरी को देश 72वां गणतंत्र दिवस मनाएगा। जिस प्रकार वैश्विक महामारी कोविड-19 ने विश्व…

आगामी यथार्थ का शिला-पूजन

आपको दिख रहा है या नहीं कि वैश्विक सियासत के समंदर में प्राकृतिक न्याय की लहरें…

कोरोना खिलाफ मोदी की सार्थक लड़ाई

कोरोना महामारी के प्रकोप से बचाने के लिए भारत में दुनिया का सबसे बड़ा टीकाकरण अभियान…

अर्णब पत्रकारिता और मीडिया साख

वक्त बता रहा है कि जो हिम्मत बड़े बड़े मुख्यमंत्री नहीं दिखा पाए वह सबसे जूनियर…

कमल मोरारका थे इंसानी फ़रिश्ते

इस किस्से पर शायद आप यकीन नहीं करें। पर है सच। मुंबई के एक मशहूर उद्योगपति…

क्या कोविड-19 से मुक्ति का समय करीब?

क्या अगले कुछ माह में भारत सहित शेष दुनिया कोविड-19 के कहर से मुक्त होगी? क्या…

शव-साधकों के दौर का महामृत्युंजय मंत्र

अपने सियासी आराध्यों के जुग-जुग जीने की दुआएं तो आराधक हमेशा से करते रहे होंगे, मगर…

ट्रंप पर लानत, मुल्क अमेरिका को सलाम!

सारी सावधानियों के बावजूद अनहोनी हो सकती है। लेकिन फर्क यहां पैदा होता है कि बचाव…

नरेंद्र से नरेंद्र तक

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर स्वामी विवेकानंद के जीवन, कार्यों और विचारों का बहुत प्रभाव है। स्वामी…

कुछ को अपनी पहचान से नफरत क्यों?

गत 30 दिसंबर को पाकिस्तान के खैबर पख्तूनख्वा में बहुसंख्यक मुसलमानों की भीड़ ने अल्पसंख्यक हिंदुओं…

अधिनायकत्व के जनाज़े का उपसंहार

यह तो मेरी समझ में आ गया कि अमेरिका में जो हुआ, क्यों हुआ। लेकिन यह…

किसानों पर ऐसी बेरहमी राष्ट्रवाद नहीं!

जनवरी की बारिश जिसे मावटा कहा जाता है, उसकी हर बूंद गेहूं की फसल के लिए…

मूक विवशता के बरस की विदाई के बाद

मनहूसियत की तकनीकी विदाई का जश्न तो मरे मन से हम-आप ने बृहस्पतिवार की रात मना…

वर्ष 2020 के संदेश और सबक

जरा साल कई घटनाओं का साक्षी रहा और भारत सहित शेष विश्व के लिए कई महत्वपूर्ण…

किसानों से है उम्मीदों के बीज!

जा रहा साल पूरी तरह निराशा का साल बन जाता लेकिन किसान आंदोलन ने उम्मीदों का…

ईसाइयों को करना चाहिए आत्मचिंतन

कोविड-19 के वैश्विक प्रकोप के साए में विश्व (भारत सहित) ने 25 दिसंबर को क्रिसमस मनाई।…

लौट गया घर सांस-फ़क़ीरा

मुझे लगता है कि मोतीलाल वोरा जी को भी 48 बरस की अपनी कांग्रेसी सियासत में…

भाजपा, कांग्रेस और बुद्धिजीवी

यूरोप में ‘इंटेलेक्चुअल’ और ‘आइडियोलॉजी’ जैसी अवधारणाएं फ्रांसीसी क्रांति के समय से आरंभ हुई हैं। भारतीय…

अटल के संकल्पों को पूरा करते मोदी

भाषा लोगों को जोड़ती हैं। सड़कें गांव, शहरों और महानगरों को जोड़ती हुई विकास की तरफ…

राहुल पढ़े इंदिरा इतिहास, असंतुष्टों से निपटे

कांग्रेस के असंतुष्ट नेता बार-बार अपनी पार्टी का 50 साल पुराना इतिहास पढ़ रहे हैं। वे…

बंगाल में हिंसा का कौन जिम्मेदार?

शायद ही कोई ऐसा भारतीय होगा जो बंगाल की प्रतिभा, बौद्धिकता एवं पांडित्य को देखकर अचंभित…

“गोदी मीडिया” 73 सालों की हकीकत!

भारत के सार्वजनिक विमर्श में इन दिनों "गोदी मीडिया" जुमला बहुत प्रचलित है और दुर्भाग्य से…

एकल-संप्रभुता के पीछे से झांकता फूस-महल

ऐसा खड़ूस होना भी किस काम का कि किसी की सुनूंगा ही नहीं। न बड़ों की,…

लव-जिहाद, यानी काफिर से नफरत!

इस्लाम मात्र एक धर्म नहीं वरन एक संपूर्ण सभ्यता है। इस के दायरे से जीवन का…

बंगाल चुनाव कही बहुत विभाजक न हो जाए!

वे बहुत से लोगों की देश भक्ति पर सवाल उठाते हैं मगर हमें उनकी देश भक्ति…

क्या रजनीकांत से राजनीति बदलेगी?

दक्षिण भारत की राजनीति में क्या अब परिवर्तन आएगा? अभी तक कर्नाटक को छोड़कर भारतीय जनता…

रोबोटिक-जनतंत्र के जनकराज की बलैयां

इस बृहस्पतिवार की दोपहर मैं ने नए संसद भवन के निर्माण का भूमि-पूजन कर उसकी आधारशिला…

औवेसी और भाजपा की लड़ाई में भविष्य क्या?

हिन्दुओं के बाद अब मुसलमान भी प्रधानमंत्री मोदी और अमित शाह के जाल फंसने लगे हैं।…

किसान आंदोलन में पेंच ही पेंच!

आलेख लिखे जाने तक, हजारों की संख्या में आक्रोशित किसान दिल्ली से सटी सीमा पर धरना…

Amazon Prime Day Sale 6th - 7th Aug