हाथरस मामला: कहीं पे निगाहें, कहीं पे निशाना

हाथरस घटनाक्रम में जिस प्रकार रोज नए-नए खुलासे हो रहे है और संबंधित दोनों पक्षों की…

लुच्चा-मुक्त, टुच्चा-मुक्त सियासत के लिए

यह तो ज़माने से कहा जाता रहा है कि लफ़ंगों का अंतिम आश्रय-स्थल राजनीति है। मगर…

फारूक बोलते है बिना सोचे-समझे

कश्मीर में कहते हैं कि फारूक अब्दुल्ला के बारे में खुदा भी नहीं जानता कि वह…

शिक्षा व्यवसाय से हिन्दू बाहर किए जा रहे

राष्ट्रवादी कहलाने वालों की सत्ता में उन के वैचारिक समर्थकों, एक्टिविस्टों की विचित्र दुर्गति है। वे…

शिक्षा में हिन्दू विरोध

हिन्दू आज भी जजिया भर रहे हैं – 3: एक केंद्रीय विश्वविद्यालय में एक पाठ्यक्रम बनाने…

अयोध्या और सांप्रदायिक सौहार्द का सवाल

गत तीस सितंबर को अयोध्या विध्वंस मामले में लखनऊ की विशेष सीबीआई अदालत का निर्णय आया।…

मंदिरों पर राजकीय कब्जा क्यों?

पारंपरिक भारत में किसी हिन्दू राजा ने मंदिरों पर अपना अधिकार, या नियंत्रण नहीं जताया था,…

केवल हिन्दू मंदिरों पर राजकीय कब्जा

डॉ. भीमराव अंबेदकर भारतीय संविधान के मुख्य निर्माता थे। यह उन्हीं का कथन है कि हमारा…

यूपी में प्रियंका बनी असली विपक्ष

उत्तर प्रदेश में बाजी पलट रही है! प्रियंका गांधी ने साबित कर दिया है कि राज्य…

ताकि किसान व देश दोनों का संकट खत्म हो!

संसद द्वारा पारित कृषि सुधार संबंधित विधेयकों पर राजनीतिक संग्राम जारी है। झूठ और भ्रामक प्रचारों…

कमलनाथ, शिवराज और कार्तिक का कृष्ण पक्ष

सेंधमारी के ज़रिए मध्यप्रदेश में आई भारतीय जनता पार्टी की सरकार को ख़ुद के बूते बने…

भारत, चीन से कैसे निपटे?

भारत आखिर चीन से कैसे निपटे? एक तरीका तो यह है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने…

Amazon Prime Day Sale 6th - 7th Aug