• डाउनलोड ऐप
Friday, May 14, 2021
No menu items!
spot_img

हरिशंकर व्यास कॉलम

कलियुगी वज्रमूर्खता, गधेड़ापन!

मेरे तो गिरधर गोपाल (मोदी) दूसरा न कोई-3: तो इक्कीसवीं सदी के सन् इक्कीस में भारत-हिंदू पड़ाव का क्या...

बुद्धि जब कलियुग से पैदल हो!

मेरे तो गिरधर गोपाल (मोदी) दूसरा न कोई-2:  हम हिंदू मानते है कि हम कलियुग में रह रहे है।...

मेरे तो गिरधर गोपाल (मोदी), दूसरा न कोई!

‘नया इंडिया’ के एक सुधी पाठक, हैदराबाद के सोहन लाल कादेल ने पिछले सप्ताह मुझे मैसेज भेज पूछा- आपकी...

डा. वेदप्रताप वैदिक कॉलम

यह टीका-टिप्पणी का वक्त नहीं

कोरोना के टीके को लेकर भारत में कितनी जबर्दस्त टीका-टिप्पणी चल रही है। नेता लोग सरकारी बंगलों में पड़े-पड़े...

ये बादशाहत जरुरी नहीं

कुछ लोगों ने दिल्ली उच्च न्यायालय में याचिका लगाई है कि माहमारी के इस दौर में ‘सेंट्रल विस्टा’ के...

अजीत द्विवेदी कॉलम

सत्य बोलो गत है!

‘राम नाम सत्य है’ के बाद वाली लाइन है ‘सत्य बोलो गत है’! भारत में राम से ज्यादा राम...

लेख स्तम्भ

दुस्साहस भरी दलीलें

केंद्र सुप्रीम कोर्ट में कहा कि उसकी वैक्सीन नीति उपलब्धता और जोखिम के मूल्यांकन पर आधारित है। यह नीति...
- Advertisement -spot_img

राजरंग

चुनाव टले रहे तो क्या करेंगी ममता?

यह एक काल्पनिक सवाल है पर बहुत मौजू हैं कि अगर पश्चिम बंगाल में विधानसभा के उपचुनाव टले रहे...

ताज़ा खबर

क्या खुद को फांसी पर लटका ले?

बेंगलुरू। देश की अलग अलग उच्च अदालतों और सर्वोच्च अदालत की ओर से कोरोना वायरस की महामारी और टीकाकरण पर की गई टिप्पणों पर...

हरिशंकर व्यास कॉलम

कलियुगी वज्रमूर्खता, गधेड़ापन!

मेरे तो गिरधर गोपाल (मोदी) दूसरा न कोई-3: तो इक्कीसवीं सदी के सन् इक्कीस में भारत-हिंदू पड़ाव का क्या...

अपने मोदीजी अब गिरधर गमांग!

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज किस मनोदशा में होंगे? अपना मानना है गिरधर गमांग की मनोदशा में। सन् 1999 में...

जिंदगीनामा ठहरा, ठिठका!

 ‘पंडित का जिंदगीनामा’ लिखना कोई साढ़े तीन महिने स्थगित रहा। ऐसा होना नहीं चाहिए था। आखिर जब मौत हवा में व्याप्त है तो जिंदगी पर  सोचना अधिक हो जाता है। तब स्मृति, आस्था, जिंदगी के गुजरे वक्त की याद ज्यादा कुनबुनाती है।

महामारी में ‘मृत्यु’ ही है विषय!

अच्छा नहीं लगा, एक पुण्यात्मा की स्मृति में चंद लोगों को देख कर। वजह? शायद महामारी काल! मतलब मृत्यु काल! वक्त का यह रूप सभी सभ्यताओं में मौत का प्रतिबिंब है।

गेस्ट कॉलम

देश

विदेश

- Advertisement -spot_img

खास खबर

Video News

- Advertisement -spot_img

खेल की दुनिया

फिल्मी दुनिया

- Advertisement -spot_img

युवा और कॅरियर

लाइफ स्टाइल