सतर्क हो जाना जरूरी

कोरोना वायरस के नए वैरिएंट को इसे हलके में नहीं लिया जाना चाहिए। सोशल डिस्टेंसिंग और दूसरी सावधानियों पर फिर गंभीरता से अमल होना चाहिए।

ऐतिहासिक होगा UP Election, क्या ममता बना पाएंगी BJP के खिलाफ कांग्रेस मुक्त विपक्ष…

ममता बनर्जी ने कांग्रेस को पश्चिम बंगाल में कमजोर कर दिया है. लेकिन अब ममता बनर्जी पूरे देश में कांग्रेस की ईट सरकाने में लगी हैं….

बच्चों पर ये कहर!

करोना काल में बच्चों को यौन शोषण भी बढ़ गया। ये बात एनसीआरबी की वार्षिक रिपोर्ट से जाहिर हुई है।

सही दिशा में कदम

ऐसे लेन-देने से पैसे वाले लोग और भी अधिक अकूत पैसा बना सकते हैं, लेकिन उससे देश की अर्थव्यवस्था या राजकोष को कोई फायदा नहीं होता।

BSP सुप्रिमो मायावती को दो दिन में दूसरा झटका, विधायक शाह आलम ने छोड़ी हाथी की सवारी

बसपा सुप्रिमो मायावती (Mayawati) को बड़ा झटका देते हुए उनकी पार्टी के नेता सदन और आजमगढ़ के मुबारकपुर से विधायक शाह (Shah Alam) आलम उर्फ गुड्डू जमाली ने पार्टी का साथ छोड़ दिया है।

संकट का नया मोर्चा

जियो मार्ट ने जहां कारोबार शुरू कर दिया है, वहां से मिल रही खबरें एक बड़ा संकट पैदा होने का संकेत दे रही हैँ।

अमेरिका में जाति प्रथा!

कैलिफॉर्निया यूनिवर्सिटी के डेविस कैंपस में जाति को अब आधिकारिक रूप से भेदभाव की नीति में शामिल किया गया है।

यूपी चुनाव से पहले योगी सरकार को दोहरी सफलता, Congress छोड़ अदिति सिंह और BSP छोड़ वंदना सिंह हुई BJP में शामिल

यूपी में कांग्रेस को फिर से जोरदार झटका लगा है। बुधवार को रायबरेली सदर सीट से कांग्रेस की विधायक अदिति सिंह (Aditi Singh) ने कांग्रेस पार्टी का हाथ छोड़कर भाजपा का कमल थाम लिया है।

लोकतंत्र का संकट काल

अभी एक दशक पहले तक यह मान कर चला जाता था कि उदार लोकतंत्र दुनिया की सर्व मान्य व्यवस्था है। जिन देशों में इसका अभाव था, उनके बारे में समझा जाता था कि देर-सबेर वहां भी ये व्यवस्था कायम हो जाएगी।

ऐसे कानून की क्या जरूरत?

नरेंद्र मोदी सरकार के साथ मुश्किल यह है कि वह अपने वैचारिक इकॉसिस्टम से जुड़े समूहों के अलावा सबको अवैध मानती है।

Farm Law वापस लिया लेकिन नहीं मानी गलती…हार में भी जीत तलाशना तो कोई आपसे सीखे…

Nishant Sharma नई दिल्ली | Farm Law PM Modi : बीते सप्ताह प्रधानमंत्री मोदी ने कृषि कानूनों को वापस ले लिया. गुरु नानक देव साहिब के प्रकाश पर्व के अवसर पर उन्होंने राष्ट्र को संबोधित करते हुए यह घोषणा कर दी. किसान खुश हो गए और मिठाइयां बटने लगीं. लेकिन क्या आपने पीएम मोदी का देश के नाम किया गया संबोधन ध्यान से सुनना? यदि आपने ऐसा किया होता तो आपको पता होता है कि पीएम मोदी ने कहीं भी यह स्वीकार नहीं किया कि कृषि कानूनों में कोई गलती थी. इतना ही नहीं उन्होंने अपने संबोधन के दौरान यह भी नहीं माना कि इन कानूनों से किसानों का किसी भी प्रकार का कोई अहित हो रहा था. वह बस एक ही बात कह रहे थे कि हम किसानों तक अपनी बात समझाने में विफल हो गए. हार में भी ढूंढते हैं जीत Farm Law PM Modi : पीएम मोदी की यह आदत आज की नहीं है इसके पहले भी वे कई बार ऐसा कर चुके हैं. इसमें कोई शक नहीं है कि कृषि कानूनों को वापस लेने से भारतीय जनता पार्टी की किरकिरी हो गई है. लेकिन पीएम मोदी का संबोधन कुछ ऐसा था जैसे कृषि कानूनों में कोई… Continue reading Farm Law वापस लिया लेकिन नहीं मानी गलती…हार में भी जीत तलाशना तो कोई आपसे सीखे…

कांग्रेस से ‘आजाद’ हुए ‘कीर्ति’, थाम लिया TMC का हाथ, ममता बनर्जी को बिहार में मिला बड़ा चेहरा

नई दिल्ली | Kirti Azad Joins TMC: विधान सभा चुनावों (Assembly Election 2022) से पहले कांग्रेस पार्टी को झटका देते हुए दिग्गज नेता कीर्ति आजाद (Kirti Azad) ने आखिरकार आज मंगलवार को ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) की पार्टी TMC का दामन थाम ही लिया। कीर्ति आजाद के साथ ही जनता दल (यूनाइटेड) के पूर्व महासचिव पवन वर्मा (Pavan Varma) भी तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) में शामिल हो गए हैं। अपने दिल्ली दौरे के दौरान तृणमूल कांग्रेस सुप्रिमो और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने दोनों नेताओं का पार्टी में स्वागत किया है। ये भी पढ़ें:- Infographics : वैश्विक अनुसंधान में हुआ साबित, कोविड के खिलाफ मास्क है सबसे असरदार बोले आजाद- देश को विभाजित करने वालों के खिलाफ लडूंगा Kirti Azad Joins TMC: पूर्व क्रिकेटर और दिग्गज कांग्रेस नेता कीर्ति आजाद बिहार की दरभंगा संसदीय सीट से तीन बार लोकसभा के लिए चुने गए थे। आजाद ने आज TMC में शामिल होने के बाद कहा कि, ममता बनर्जी ने जमीन पर उतर कर लड़ाई लड़ी है। मैं भी देश को विभाजित करने का काम कर रहे लोगों के खिलाफ लड़ाई लड़ूंगा। बता दें कि, कीर्ति आजाद 1983 की क्रिकेट विश्व कप विजेता टीम के सदस्य थे। दिसंबर 2015 में केन्द्रीय… Continue reading कांग्रेस से ‘आजाद’ हुए ‘कीर्ति’, थाम लिया TMC का हाथ, ममता बनर्जी को बिहार में मिला बड़ा चेहरा

चुनावों से पहले कांग्रेस पार्टी को जोरदार झटका! आज TMC में शामिल हो सकते हैं दिग्गज कांग्रेस नेता Kirti Azad

आज कांग्रेस नेता व पूर्व सांसद कीर्ति आजाद (Kirti Azad) कांग्रेस का हाथ छोड़कर ममता दीदी की तृणमूल कांग्रेस (TMC) का दामन थामने जा रहे हैं!

सवाल है उपाय का

वजह शायद यही है कि अमेरिका के सत्ता तंत्र पर कॉरपोरेट सेक्टर और उसके लॉबिस्ट की पकड़ अब इतनी जोरदार हो गई है कि दो दशक पहले माइक्रोसॉफ्ट कंपनी के खिलाफ जैसी कार्रवाई हुई थी

किसान आंदोलन का संदर्भ

2017-18 में भी मजबूत किसान आंदोलन उठा था। एमएसपी की कानूनी गारंटी तब उसकी केंद्रीय मांग थी। उस आंदोलन के बारे में विश्लेषकों की राय बनी थी कि 2019 के आम चुनाव में वही प्रमुख नैरेटिव होगा।

और लोड करें