किसान आज करेंगे चक्का जाम

केंद्र सरकार के बनाए तीन कृषि कानूनों के विरोध में आंदोलन कर रहे किसान संगठनों के साथ केंद्र सरकार की अगली वार्ता मंगलवार को होनी है। उससे पहले किसानों ने आगे की योजना का ऐलान किया है।

विपक्ष ने बढ़ाया दबाव

केंद्र सरकार के बनाए तीन विवादित कृषि कानूनों की वापसी के लिए साझा विपक्ष ने सरकार पर दबाव बढ़ा दिया है। गुरुवार को संसद में सभी विपक्षी पार्टियों के सांसदों ने एक सुर में सरकार से कहा कि वह इन कानूनों को वापस ले

आंदोलन का बदलता रूप

पश्चिम उत्तर प्रदेश में किसान आंदोलन का दायरा फैलता जा रहा है। मुजफ्फरनगर फिर बड़ौत और उसके बाद बिजनौर में हुई किसान पंचायतों का संकेत यही है कि जमीन पर सरकार के खिलाफ गुस्सा थमने का नाम नहीं ले रहा है।

अभी बातचीत की संभावना नहीं

केंद्रीय कृषि कानूनों के विरोध में आंदोल कर रहे किसानों की केंद्र सरकार के साथ अभी बातचीत शुरू होने की संभावना नहीं है। दोनों पक्षों ने वार्ता के लिए अपनी अपनी शर्तें रख दी हैं।

जींद ‘महापंचायत’ ने कृषि कानूनों को रद्द करने का प्रस्ताव पारित किया

हरियाणा के जींद जिले में हजारों किसानों की मौजूदगी के बीच किसान महापंचायत ने बुधवार को सर्वसम्मति से तीन विवादास्पद कृषि कानूनों को रद्द करने का प्रस्ताव पारित किया, जहां बीकेयू नेता राकेश टिकैत ने घोषणा की

ट्रैक्टर रैली की मंजूरी

गणतंत्र दिवस पर किसानों के प्रस्तावित ट्रैक्टर परेड को लेकर दिल्ली पुलिस के साथ किसान संगठनों की आज एक महत्वपूर्ण बैठक होनी है, जिसमें इस परेड के लिए रोड मैप तय कर लिया जाएगा।

कृषि सुधार कानूनों का विकल्प दें किसान: तोमर

कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने आज किसान संगठन से तीन कृषि सुधार कानूनों को वापस लेने की हठधर्मिता को छोड़ कर इनका विकल्प प्रस्तुत करने का अनुरोध किया है ।

किसानों का आंदोलन 48वें दिन जारी, सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर नजर

केंद्रीय कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों के आंदोलन का मंगलवार को 48वां दिन है। देश की राजधानी दिल्ली की सीमाओं पर डटे किसान संगठनों ने कह दिया है कि किसी कमेटी में मसले

किसान आंदोलन का आज 29वां दिन, साफ नहीं किस मसले पर हो वार्ता

किसान आंदोलन आज 29वें दिन जारी है। नये कृषि कानून के मसले पर सरकार और किसान संगठनों के बीच गतिरोध बना हुआ है।

किसान आंदोलन 12वें दिन जारी, दिल्ली की कई सीमाएं सील

किसानों का आंदोलन लगातार 12वें दिन जारी है। किसान संगठनों की ओर से केंद्र सरकार द्वारा लागू तीन कृषि कानूनों के विरोध में किसान देश की राजधानी दिल्ली की सीमाओं पर 26 नवंबर से डटे हुए हैं और कल भारत बंद का आह्वान किया है।

किसान और सरकार दोनों अड़े!

केंद्र सरकार के बनाए तीन कृषि कानूनों के विरोध में प्रदर्शन कर रहे किसानों के साथ केंद्र सरकार की वार्ता एक बार फिर विफल हो गई है।

मेरे हाथ में कुछ नहीं, मैंने केंद्र से मुद्दे सुलझाने की अपील की : अमरिंदर

किसानों के आंदोलन को देखते हुए केंद्र और किसान संगठनों की लगातार बातचीत हो रही है। इस बीच पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने गुरुवार को कहा कि मेरे

किसानों के समर्थन में उतर सकती है शाहीन बाग की दबंग दादी, पहुंचेगी सिंघू बॉर्डर

कृषि कानूनों के खिलाफ विभिन्न राज्यों के कई किसान और किसान संगठन लगातार विरोध कर रहे हैं। अब इस आंदोलन में टाइम मैगजीन की 100 प्रभावशाली लोगों की लिस्ट में शामिल हुई शाहीन बाग की दादी भी उतरेंगी।

सरकार से बातचीत के मसले पर बैठक में फैसला लेंगे किसान संगठन

किसानों की समस्याओं पर सरकार से बातचीत के लिए आमंत्रण मिलने के बाद किसान संगठन जल्द ही इस पर फैसला लेंगे। इसके लिए पंजाब के किसान संगठनों की जल्द एक बैठक होने जा रही है।

किसानों की चेतावनी, बोले, ‘न हम उधर जाएंगे, न कोई इधर आएगा’

कृषि कानूनों के खिलाफ विभिन्न राज्यों के कई किसान और किसान संगठन का प्रदर्शन जारी है, पंजाब-हरियाणा और यूपी के किसान लगातार आंदोलन छेड़े हुए हैं।

और लोड करें