• अहमद पटेल की बेटी कांग्रेस में तो बेटा भाजपा में!

    राजनीति में कभी तुरुप का इक्का कहे जाने वाले कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अहमद पटेल की बेटी मुमताज़ क्या सक्रिय राजनीति में आऐंगी ? राजनीतिक गलियारों में अब ऐसी ही चर्चा होने लगी है। कांग्रेस मुख्यालय में पिछले दिनों जब छत्तीसगढ़ को लेकर कांग्रेसियों की बैठ हुई तो मुमताज़ पटेल भी वहाँ देखी गईं। वे राहुल गांधी के अलावा कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिका अर्जुन खडगे सहित कई नेताओं से मिलीं भी और तभी से शुरू हो चली है उनके सक्रिय राजनीति में आने की चर्चा । कहा तो जा रहा है कि बेटी मुमताज़ पटेल पिता की विरासत सँभालने की मंशा...

  • एमपी में भाजपा को बाग़ियों से उम्मीदें

    मध्यप्रदेश में पार्टी की पतली हालात के खुलासे के बाद भाजपा को इसका समाधान बाग़ियों में दिख रहा है। तभी अब भाजपा बाग़ियों को न सिर्फ़ पुचकारने की तैयारी में है बल्कि वह उन्हें सुविधा सम्पन्न भी करेगी ताकि पार्टी को इसका चुनावी फ़ायदा मिल सके। पिछले दिनों इस सूबे कराए गए अपने सर्वे ने पार्टी को मामा यानी कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की पतली होती हालत और एंटी इनकमबेंसी ने पार्टी की चिंता बढ़ा दी है। कर्नाटक हारने के बाद भाजपा को यह सूबा हाथ से लिखता दिखने लगा है। तभी यहां सर्वे कराया गया था लेकिन शिवराज...

  • उम्मीदों के साये में निराश कांग्रेसी

    राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा और नफ़रत की जगह मोहब्बत की दुकान की शुरूआत कर कांग्रेस 2024 के लोकसभा चुनाव में क्या हासिल कर पाती है यह अलग बात है पर कल तक जो कांग्रेसी कांग्रेसी चोला उतार भगवा चोला पहनने को बेताब थे कम से कम उन्हें धैर्य मिला है। दिल्ली के कई कथित वरिष्ठ कांग्रेसी जो भाजपा में शामिल होने का मन बना चुके थे अब वही नेता अपनी चुनावी ज़मीन तैयार करने में लगे हैं। ये अलग बात रही कि कांग्रेस से मुंहु मोड़ते इन नेताओं में कुछ को ईडी,और सीबीआई डर था तो किसी को...

  • मोहब्बत की दुकान वरूण के लिए कब ?

    नफ़रत के बाज़ार में मोहब्बत की दुकानें खोलने निकले कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी की यह दुकान क्या अपने चचेरे भाई वरूण गांधी के लिए खुली रहेगी ? कांग्रेस और विपक्ष के बहुत से नेताओं के बीच आजकल यह चर्चा भी खूब हो रही है। नेता और आमजन भी यह सवाल कर रहे हैं कि 40 साल पहले किसी मेले में बिछड़े भाईयों की तरह ही ये दोनों भाई भी अलग हो लिए थे। और तभी से अब तक दोनों भाईयों के बीच नफ़रत की राजनीतिक और सामाजिक दीवार खिंची रही है। पर भाजपा की लगातार नौ साल से...

  • दिल्ली कांग्रेस का अध्यक्ष कौन ?

    दिल्ली कांग्रेस का मुखिया कौन होगा फिलाहल इंतज़ार की बात है। दिल्ली जातीय आधार पर वोटों का गुणा- भाग करने लगा आलाकमान तय नहीं कर पा रहा है कि दिल्ली कांग्रेस की कमान किसे दी जाए। यह अलग बात है कि इस पद के दावेदारों में जहां दिल्ली के पूर्व मंत्री अरविंदर सिंह के अलावा देवेंद्र यादव, पूर्व सांसद संदीप दीक्षित, मुदित अग्रवाल और अलका लांबा शामिल हैं।पर दिल्ली के इन दावेदारों के अलावा जेएनयू छात्र संघ के पूर्व अध्यक्ष कन्हैया कुमार का नाम भी इस पद के लिये चर्चा में हैं। कन्हैया कुमार पूर्वांचल चें ताल्लुक़ रखते हैं और...

  • नया नारा, नया साथी संग केजरीवाल मैदान में

    लोकसभा चुनावों से पहले होने वाले विधानसभा चुनावों में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल भी ख़म ठोंक रहे हैं। पर हाँ इस बार न तो उनके साथ दिल्ली के उप-मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया होंगे और न ही होगा उनका पुराना नारा ‘अबकी बार केजरीवाल ‘। साथ में होंगे पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत सिंह मान और नारा होगा ‘एक मौक़ा केजरीवाल को’ । पाँच में से तीन राज्य राजस्थान,मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ में वे क्या खोते हैं और क्या पाते हैं यह बाद की बात है पर उनकी राजनीति तो खाओ और फैलाओ से कम नहीं। या फिर जिस थाली में वे खाते...

  • सिरसा सीट से बम-बम हैं अमित शाह।

    हरियाणा में भाजपा सत्ता में वापिसी करती है या नहीं यह बाद की बात है पर दावे तो सरकार बनाने के साथ ही लोकसभा की सभी सीटें जीतने के अभी से ही कर दिए गए हैं। या यूँ कहिए कि सिरसा में फैले कींचड में इस बार कमल खिलने से भाजपा इतनी उत्साहित हो गई कि उसने हरियाणा की सत्ता में वापसी का बिगुल ही फूंक दिया। साथ ही अमित शाह यह भी साफ़ कर आए कि राजनीति नई पर चेहरा पुराना ही रहेगा। यानी जिन मनोहर लाल को हरियाणा में लोग ‘खट्टर’। कहने लगे थे अब उन्हीं के चेहरे...

  • पूर्व राज्यपाल बोले पहलवानों को न्याय यूँ मिलेगा।

    राजनीतिक दांव-पेंच में उलझ चुके किसी अपराधिक मामले का समाधान क्या राजनीति से ही हो सकता है ? सवाल थोड़ा टेडा है, मगर जम्मू-कश्मीर के पूर्व राज्यपाल सत्यपाल मलिक को ऐसा ही भरोसा है। वे तो कहते हैं कि लोहे को लोहा काटता है तो राजनीति में उलझा मामला राजनीति से ही सुलझ सकता है। जी अपन बात कर रहे हैं महिला पहलवानों के यौन शोषण के आरोपों से घिरे भाजपा सांसद ब्रजभूषण शरण सिंह की। पिछले एक महीने से पीड़ित पहलवान धरना प्रदर्शन कर रहे हैं। वे गली- गली में शोर कर रहे हैं कि ब्रजभूषण सिंह को इस...

  • लोकसभा से पहले राज्यों में मोदी का चेहरा

    पाँच राज्यों में इस साल होने वाले विधानसभा चुनाव भाजपा के लिए लोकसभा चुनावों की रिहर्सल भी होंगे। इन राज्यों में होने वाले चुनावों में से राजस्थान में चेहरा खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी होंगे। इसके बाद बाक़ी राज्यों के लिए विचार किया जाएगा। भाजपा में आजकल कुछ ऐसी ही चर्चा चल रही है। मोदी के चेहरे पर चुनाव लड़ भाजपा यह जान लेना चाहती है कि आख़िर मोदी की ताक़त 2014 या 2019 जैसी ही है या फिर कमतर हुई है। यह अलग बात है कि कर्नाटक चुनाव और उससे पहले छोटे चुनाव मोदी के ही चेहरे पर लड़ चुकी...

  • फ़्री के दौर में विधायकों की सेल !

    कर्नाटक में कांग्रेस की जीत के बाद भले यह भी कहा जा रहा हो कि भाजपा ने कांग्रेस को जीतने का मौक़ा दिया ताकि 2024 की जीत के समय यह न कहा जाए कि भाजपा ईवीएम में गड़बड़ी करके जीती है। लेकिन नए संसद भवन के उद्धाटन के बाद हुई भाजपा शासित राज्यों के मुख्यमंत्रियों की बैठक में साफ़ कर दिया गया कि पार्टी यह चुनाव स्थानीय मुद्दों का समाधान न कर पाने की वजह से हारी थी। भाजपा के ही एक पूर्व सांसद पर भरोसा किया जाए संसद भवन के उद्घाटन के बाद हुई भाजपा की इस मीटिंग को...

  • चुनाव नज़दीक तो नेता बने किरकिरी

    संसद के बाहर और अंदर भाजपा को कोसने वाले आप पार्टी के एक सांसद अब भाजपा की आँखों की किरकिरी बनते दिख रहे हैं। यह बात अलग है कि पिछले दिनों भी किरकिरी बने इन नेताजी से निपटने की पूरी तैयारी कर ली गई थी पर चौकन्ने रहे रहे अपने नेताजी ने शोर-शराबा किया और क़ानूनी दांव खेल एजेंसियों के दांव से बच निकले थे। और प्रवर्तन निदेशालय ने अपनी गलती मानते हुए खिसिया कर गलती मान ली थी । लेकिन चर्चा तो फिर इन नेताजी पर एक्शन होने की है। अब भला कोई यह कहे कि आप पार्टी के...

और लोड करें