kishori-yojna
चार धाम यात्रा तो सभी के लिए स्थगित है फिर भी उत्तराखंड सरकार के मंत्री और अन्य BJP नेता बद्रीनाथ कैसे पहुंचे??

कोरोना गाइडलाइंस तो सभी पर लागू होती है फिर भले ही वो कोई नेता हो या सेलिब्रिटी या फिर कोई बड़ी हस्ती। कोई भी कोरोना नियमों का उल्लंघन नहीं कर सकता है। लेकिन 23 मई रविवार की सुबह उत्तराखंड के मंत्री और बीजेपी नेता बद्रीनाथ पहुंच गये। लगभग सभी राज्यों की सरकारों ने लॉकडाउन जैसा पाबंदियां लगा रखी है। उतराखंड सरकार ने लॉकडाउन सहित विश्व प्रसिद्ध चारधाम यात्रा (केदारनाथ, बद्रीनाथ, गंगोत्री, यमनोत्री) पर रोक लगा रखी है। मंदिर में पुजा-अर्चना करने के लिए पुजारियों को ही रहने की अनुमति है। लेकिन इसके बावजूद भी उत्तराखंड सरकार के मंत्री धन सिंह रावत और बीजेपी के अन्य नेता बद्रीनाथ धाम पहुंच गए। मंदिर के पुरोहितों ने मंत्री धन सिंह रावत की यात्रा पर ऐतराज जताते हुए इसे लॉकडाउन के नियमों का उल्लंघन बताया है। बता दें कि रावत और बीजेपी के कुछ अन्य नेता रविवार सुबह बंद्रीनाथ पहुंचे थे। सरकार ने स्पष्ठ निर्देश दिए है कि सभी को कोरोना गाइडलाइंस का पालन करना होगा। और यदि किसी ने उल्लंघन किया तो उसके खिलाफ उचित कार्यवाही की जाएगी। कोरोना गाइडलाइन के तहत चारधाम यात्रा पर सभी के लिए स्थगित कर कखी है। उत्तराखंड के मुख्यमंत्री ने तीरथ सिंह रावत ने अगले आदेश तक… Continue reading चार धाम यात्रा तो सभी के लिए स्थगित है फिर भी उत्तराखंड सरकार के मंत्री और अन्य BJP नेता बद्रीनाथ कैसे पहुंचे??

CHARDHAM YATRA POSTPOND : कोरोना ने चारधाम यात्रा पर निर्भर व्यापारियो की फिर तोड़ी कमर… सीएम  रावत ने निलंबित की चारधाम यात्रा

हिन्दु धर्म के आस्था का प्रतीक है चारधाम यात्रा। चारधाम की यात्रा उतराखंड में स्थित है-केदारनाथ, बद्रीनाथ, गंगोत्री और यमुनोत्री।  हर वर्ष चारधाम की यात्रा में हजारों-लाखों श्रद्धालु अपने भगवान के दर्शन को जाते है। लेकिन इस वर्ष जो भक्तों चारधाम यात्रा पर जाने की सोच रहे है उनके लिए एक बुरी खबर है। कोरोना के इस भयावह माहौल में उतराखंड सीएम  तीरथ सिंह रावत ने इस वर्ष की चार धाम यात्रा रद्द कर दी है। उतराखंड में कोरोना के मामले बढ़ते ही जा रहे है। कुंभ के बाद उतराखंड में कोरोना आग की तरह फैला है। इस वर्ष श्रद्धालु चारधाम यात्रा पर नहीं जा पाएंगे। मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने कहा कि राज्य में कोरोना की स्थिति को देखते हुए चारधाम यात्रा निलंबित की जाती है। सिर्फ पुजारियों को पूजा और बाकी धार्मिक  अनुष्ठान करने की इजाजत होगी। पुजारियों के अलावा किसी भी श्रद्धालु को वहां जाने की अनुमति नहीं होगी। पहले से निर्धारित तिथी पर खुलेंगे चारोंधाम के कपाट। इसे भी पढें मानवता के इंतेहान में कहीं असफल ना हो जाएं..विशेषज्ञों ने जताया मुंबई में तीसरी लहर का अनुमान 14 मई से खुलेंगे चारोधाम चारोंधाम के कपाट मई में खुलेंगे। गंगोत्री और यमुनोत्री के कपाट अक्षयतृतीया के दिन 14… Continue reading CHARDHAM YATRA POSTPOND : कोरोना ने चारधाम यात्रा पर निर्भर व्यापारियो की फिर तोड़ी कमर… सीएम रावत ने निलंबित की चारधाम यात्रा

और लोड करें