कांग्रेस के प्रति शिव सेना का सद्भाव

भारत की राजनीति में अक्सर दिलचस्प चीजें देखने को मिलती रहती हैं। महाराष्ट्र की महा विकास अघाड़ी सरकार में शामिल तीन पार्टियों- शिव सेना, एनसीपी और कांग्रेस में जिस तेजी से समीकरण बन और बिगड़ रहे हैं और इस समय की सबसे दिलचस्प घटना है। पहले लगता था कि शिव सेना हिंदुवादी पार्टी है तो कांग्रेस के साथ उसका तालमेल नहीं बैठेगे, जबकि एनसीपी के नेता शरद पवार पहले कांग्रेस में थे तो उनके साथ सहज तालमेल रहेगा। लेकिन अब उलटा हो रहा है। कांग्रेस और एनसीपी में शह-मात का खेल शुरू हो गया है तो दूसरी ओर कांग्रेस और शिव-सेना में कमाल का सद्भाव देखने को मिला है। एक तरफ एनसीपी सुप्रीमो शरद पवार और उनकी पार्टी भाजपा विरोधी मोर्चे की कमान कांग्रेस के साथ निकाल कर अपने हाथ में लेने की तैयारी कर रहे हैं तो दूसरी ओर शिव सेना का कहना है कि भाजपा विरोधी मोर्चे की अगुवाई कांग्रेस को ही करनी चाहिए। शिव सेना ने तो तीसरे मोर्चे की संभावना को ही खत्म कर दिया है, जिसके बारे में ममता बनर्जी और दूसरे कई क्षत्रप बात कर रहे हैं। एनसीपी सुप्रीम शरद पवार भी तीसरे मोर्चे की राजनीति में शामिल हो सकते हैं। लेकिन शिव सेना… Continue reading कांग्रेस के प्रति शिव सेना का सद्भाव

महा विकास अघाड़ी का मामला सुलझा

शरद पवार की क्या राजनीति है, इस पर कांग्रेस में इन दिनों बहुत मंथन चल रहा है। कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी प्रचार में नहीं जा रही हैं लेकिन ऐसा नहीं है कि उन्होंने राजनीति से संन्यास ले लिया है। वे परदे के पीछे अभी सक्रिय हैं। इस समय उनकी सबसे बड़ी चिंता शरद पवार की राजनीति है। बताया जा रहा है कि पिछले दिनों जब पवार की बेटी सुप्रिया सुले उनसे मिलने गई थीं तब उन्होंने इस बारे में बात की थी। सोनिया ने उनसे दो टूक पूछा था कि उनके पिता शरद पवार की क्या राजनीति है? बताया जा रहा है कि सोनिया ने खास तौर से यह पूछा था कि क्या शरद पवार भाजपा के साथ जाने पर भी विचार कर रहे हैं? वे यह भी जानना चाहती थीं कि कांग्रेस के नेतृत्व वाले यूपीए को लेकर उनकी क्या सोच है? जानकार सूत्रों के मुताबिक सुप्रिया ने सोनिया को भरोसा दिलाया कि शरद पवार का यूपीए से अलग होने का कोई इरादा नहीं है। इसके आगे कांग्रेस नेता चुप्पी साध लेते हैं पर एक हफ्ते पहले ही कांग्रेस के एक वरिष्ठ नेता ने पत्रकारों से औपचारिक बातचीत में यह संकेत दे दिया था कि मामला जल्दी ही सुलझ… Continue reading महा विकास अघाड़ी का मामला सुलझा

ठाकरे ने बढ़ाई कांग्रेस की चिंता

उद्धव ठाकरे ने विधानसभा में बजट भाषण पर चर्चा के दौरान अपने भाषण में कई ऐसा बातें कहीं, जिनसे कांग्रेस में चिंता हुई है। उन्होंने मजाकिया अंदाज में भाजपा पर तंज करते हुए कहा कि ‘हम पहले उनके साथ थे और आगे भी कभी साथ हो सकते हैं’।

शिव सेना जैसी कांग्रेस की राजनीति!

महाराष्ट्र में कांग्रेस पार्टी और उसकी सहयोगी एनसीपी इस समय शिव सेना के साथ सरकार में शामिल हैं। सरकार में शामिल होने से ऐसा लग रहा है कि कांग्रेस पर शिव सेना का असर होने लगा है।

राहुल का जवाब और फिर सफाई!

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के दौरान एक सवाल के जवाब में कहा कि महाराष्ट्र में कांग्रेस सरकार नहीं चला रही है, नीतिगत फैसले नहीं कर रही है

कांग्रेस, राहुल क्यों ऐसी बात कर रहे?

कांग्रेस पार्टी के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी के कई राजनीतिक बयान सेल्फगोल की तरह होते हैं, आत्मघाती होते हैं।

किसान खुदकुशी क्यों बढ़ी?

महाराष्ट्र किसान आत्म-हत्या की घटनाओं के लिए खास बदनाम रहा है। लेकिन पिछले नवंबर में कुछ ऐसा हुआ, जो इस राज्य के आम रिकॉर्ड की तुलना में भी असामान्य है। राज्य में नवंबर 2019 में लगभग 300 किसानों ने आत्महत्या कर ली। मीडिया रिपोर्टों के मुताबिक राज्य में आखिरी बार एक महीने में 300 से ज्यादा आत्महत्याएं 2015 में हुई थीं। किसानों की आत्महत्या महाराष्ट्र के लिए पिछले तीन दशक से एक ऐसी चुनौती बना हुआ है। साफ है कि इसका सामना करने में एक के बाद एक हर सरकार विफल साबित हुई है। ताजा आंकड़ों का संकेत है कि हालात और गंभीर होते जा रहे हैं। पिछले वर्ष जनवरी से नवंबर तक की अवधि में पिछले साल की इसी अवधि के मुकाबले ज्यादा आत्महत्याएं हुईं। 2018 में इसी अवधि में 2,518 आत्महत्याएं हुई थीं। 2019 में इसी अवधि में ये बढ़कर 2,532 हो गईं। जानकारों के मुताबिक इसके पीछे दो कारण हैं। भारत में यूं तो कृषि क्षेत्र की हालत हमेशा ही खराब रहती है, पर पिछले 20 साल का डेटा देख कर यह पता चलता है कि चुनावी वर्ष में कृषि की हालत और बिगड़ जाती है। इसकी वजह यह है कि किसान एक कृषि मौसम के खत्म… Continue reading किसान खुदकुशी क्यों बढ़ी?

कांग्रेस, एनसीपी के नेता नाराज

मुंबई/नई दिल्ली। महाराष्ट्र में उद्धव ठाकरे सरकार का विस्तार होते की कांग्रेस और एनसीपी दोनों पार्टियों में घमासान छिड़ गया है। दोनों पार्टियों के कई नेताओं ने नाराजगी जताई है। कांग्रेस के कम से कम पांच विधायकों ने नाराजगी जताई है। कांग्रेस के नाराज कार्यकर्ताओं ने पार्टी के कार्यालय में तोड़फोड़ भी की है तो एनसीपी के एक नाराज विधायक ने इस्तीफा देने का ऐलान किया है। कांग्रेस के नए मंत्रियों ने मंगलवार को दिल्ली में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी से मुलाकात की। ख़बरों के मुताबिक कांग्रेस के नेता और पूर्व मुख्यमंत्री पृथ्वीराज चव्हाण, पूर्व मंत्री नसीम खान, तीन बार की विधायक प्रणीति शिंदे, संग्राम थोपते, अमीन पटेल, रोहिदास पाटिल आदि नेता नाराज हैं। इनमें से कुछ ने मल्लिकार्जुन खड़गे से मुलाकात कर नाराजगी जताई है। इसे लेकर मंगलवार को महाराष्ट्र कांग्रेस के नेताओं की सोनिया गांधी और पार्टी के वरिष्ठ नेताओं के साथ बैठक भी हुई। गौरतलब है कि सोमवार को महाराष्ट्र के उद्धव ठाकरे सरकार के मंत्रिमंडल का विस्तार किया गया। मुंबई के विधान भवन में हुए शपथ ग्रहण समारोह में अजित पवार, आदित्य ठाकरे सहित कुल 36 विधायकों ने शपथ ली। बहरहाल, महाराष्ट्र में कैबिनेट विस्तार के दौरान मंत्री पद को लेकर… Continue reading कांग्रेस, एनसीपी के नेता नाराज

महाराष्ट्र में आज केबिनेट विस्तार

मुंबई। महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने के एक महीने बाद उद्धव ठाकरे अपने मंत्रिमंडल का विस्तार करने जा रहे हैं। 30 दिसंबर को उनके मंत्रिमंडल का विस्तार होगा, जिसमें करीब 35 मंत्रियों को शपथ दिलाई जा सकती है। गौरतलब है कि उद्धव ठाकरे ने 28 नवंबर को मुख्यमंत्री पद की शपथ ली थी। उनके साथ गठबंधन सरकार में शामिल तीन पार्टियों- शिव सेना, एनसीपी और कांग्रेस के दो-दो मंत्रियों को शपथ दिलाई गई थी। बहुमत साबित करने और विधानसभा का सत्र बीतने के बाद सोमवार को वे अपनी सरकार का विस्तार कर रहे हैं। बताया जा रहा है कि इसमें तीन पार्टियों को बराबर मंत्री शपथ ले सकते हैं। कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष और महाराष्ट्र सरकार के मंत्री बाला साहेब थोराट ने कहा है कि मंत्रियों के शपथ ग्रहण समारोह के लिए सूची को अंतिम रूप दे दिया गया है। उन्होंने कहा है कि कांग्रेस के 12 मंत्री होंगे, इनमें से 10 को कैबिनेट रैंक मिलेगी। हालांकि कांग्रेस के पहले से ही दो मंत्री हैं और अगर 12 मंत्री और बनाए जाते हैं तो इसका मतलब होगा कि सरकार में उसके 14 मंत्री हो जाएंगे। गौरतलब है कि राज्य सरकार में मुख्यमंत्री सहित कुल 43 मंत्री हो सकते… Continue reading महाराष्ट्र में आज केबिनेट विस्तार

महाराष्ट्र में विभागों का बंटवारा

मुंबई। महाराष्ट्र में शिव सेना, एनसीपी और कांग्रेस की साझा सरकार बनने के करीब तीन हफ्ते बाद मंत्रियों के बीच विभागों का बंटवारा हो गया। हालांकि अभी सिर्फ छह मंत्रियों के साथ सरकार काम कर रही है और मंत्रिमंडल का विस्तार विधानसभा सत्र के बाद किया जाना है। बहरहाल, गुरुवार को हुए विभागों के बंटवारे में शिव सेना के एकनाथ शिंदे को गृह विभाग मिला है। एनसीपी के नेता जयंत पाटिल वित्त मंत्रालय संभालेंगे। कांग्रेस के बाला साहेब थोराट को राजस्व मंत्रालय का जिम्मा मिला है। गौरतलब है कि सरकार बनने के बाद से तीनों पार्टियों के बीच विभागों के बंटवारे को लेकर माथापच्ची चल रही थी। इस पर बुधवार को फैसला हुआ, जिसका ऐलान गुरुवार को किया गया। इस बंटवारे के मुताबिक एनसीपी के छगन भुजबल को जल संपदा और ग्राम विकास मंत्रालय का प्रभार दिया गया है। शिव सेना कोटे से मंत्री बने सुभाष देसाई के पास उद्योग और खेल महकमा रहेगा। कांग्रेस के नितिन राउत को पीडब्लुडी का महकमा मिला है। गौरतलब है कि उद्धव ठाकरे ने 28 नवंबर को शिवाजी पार्क में बड़े ही धूमधाम से मुख्यमंत्री पद की शपथ ली थी। मुख्यमंत्री के साथ छह मंत्रियों को शपथ दिलाई गई थी। शिव सेना, एनसीपी और… Continue reading महाराष्ट्र में विभागों का बंटवारा

महाराष्ट्र: विधानसभा का विशेष सत्र आज होगा

नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट के आदेश के मुताबिक बुधवार को महाराष्ट्र विधानसभा का विशेष सत्र बुलाया गया है। राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने बुधवार को सुबह आठ बजे से सदन का विशेष सत्र आहूत किया है। इससे पहले सर्वोच्च अदालत ने राज्यपाल को निर्देश दिया था कि वे बुधवार को विशेष सत्र बुलाएं। उससे पहले तत्काल प्रोटेम स्पीकर नियुक्त करें, जो बुधवार को सभी विधायकों को शपथ दिलाए। इसके बाद सर्वोच्च अदालत ने पांच बजे शाम तक देवेंद्र फड़नवीस सरकार को बहुमत साबित करने को कहा था। पर चूंकि अदालत के फैसले के बाद देवेंद्र फड़नवीस ने मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया, इसलिए अब किसी सरकार के बहुमत साबित करने का कोई मतलब नहीं है। अब नई सरकार शपथ लेने के बाद बहुमत साबित करेगी। पर उससे पहले राज्यपाल ने विधानसभा का विशेष सत्र बुला लिया और प्रोटेम स्पीकर भी नियुक्त कर दिया है। विशेष सत्र में प्रोटेम स्पीकर सभी विधायकों को शपथ दिलाएंगे। इससे पहले मंगलवार को जस्टिस एनवी रमन्ना, जस्टिस अशोक भूषण और जस्टिस संजीव खन्ना की तीन जजों की खंडपीठ ने अपने आदेश में कहा कि विधानसभा चुनाव के नतीजों की घोषणा हुए एक महीना हो गया लेकिन अभी तक अनिश्चितता बनी है। पीठ ने कहा… Continue reading महाराष्ट्र: विधानसभा का विशेष सत्र आज होगा

कांग्रेस ने राज्यपाल पर उठाए सवाल

महाराष्ट्र में सरकार बनाने के मामले में सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद कांग्रेस ने संवैधानिक पदों पर बैठे लोगों पर तीखी प्रतिक्रिया दी है। कांग्रेस ने राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री और महाराष्ट्र के राज्यपाल तीनों को निशाना बनाया है

महाराष्ट्र पर फैसला आज

महाराष्ट्र में भाजपा और एनसीपी के बागी अजित पवार की सरकार बनवाने के राज्यपाल के फैसले को चुनौती देने वाली याचिका पर सुप्रीम कोर्ट मंगलवार की सुबह साढ़े दस बजे फैसला सुनाएगा।

केंद्र व महाराष्ट्र सरकार को नोटिस

महाराष्ट्र में शुक्रवार की पूरी रात चले घटनाक्रम के बाद शनिवार की सुबह चुपके चुपके भाजपा की सरकार बनवाने के राज्यपाल के फैसले को चुनौती देने वाली याचिका पर रविवार को छुट्टी के दिन विशेष सुनवाई हुई।

अजित पवार का दावा, शरद पवार का इनकार

राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) के प्रमुख शरद पवार ने अपने भतीजे अजीत पवार के भारतीय जनता पार्टी-राकांपा गठबंधन के एक स्थिर सरकार देने वाले बयान का खंडन करते हुए रविवार को कहा कि महाराष्ट्र में भाजपा के साथ गठबंधन का सवाल ही नहीं उठता।

और लोड करें