kishori-yojna
रेल, कृषि, कानून मंत्रालय पर दावेदारी

अभी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपनी सरकार में फेरबदल या विस्तार करने का ऐलान नहीं किया है लेकिन मंत्रालयों पर दावेदारी शुरू हो गई है। पता नहीं कैसे पर यह धारणा बन गई है कि रेल, कृषि और कानून मंत्रालय में बदलाव होगा। तभी इन तीन मंत्रालयों के दावेदार सबसे ज्यादा दिख रहे हैं। वैसे भी बिहार की सहयोगी जनता दल यू ने पहले से इस मंत्रालय की दावेदारी की हुई है। जदयू नेता और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार काफी समय तक रेल मंत्री रहे हैं। बिहार के नेता लालू प्रसाद और रामविलास पासवान भी रेल मंत्री रहे हैं। सो, रेल मंत्रालय पर बिहार के नेता स्वाभाविक रूप से अपनी दावेदारी मानते हैं। इस बीच खबर है कि कांग्रेस से भाजपा में गए ज्योतिरादित्य सिंधिया भी रेल मंत्रालय चाहते हैं। उनके पिता दिवंगत माधव राव सिंधिया भी रेल मंत्री रह चुके हैं। हालांकि रेल के अलावा मानव संसाधन और शहरी विकास मंत्रालय भी उनकी पसंद है। यह भी पढ़ें: भारत-चीन का कारोबार डेढ़ गुना बढ़ा बहरहाल, रेल के अलावा बिहार की दावेदारी कृषि मंत्रालय पर भी है। ध्यान रहे बिहार के चतुरानन मिश्र, नीतीश कुमार और राधामोहन सिंह कृषि मंत्री रह चुके हैं। कहा जा रहा है कि बिहार के पूर्व… Continue reading रेल, कृषि, कानून मंत्रालय पर दावेदारी

रात में चलनी वाली ट्रेनों का बढ़ेगा किराया !  जानें सच

New Delhi: कोरोना काल (Corona period) में देश में पहली बार भारत की ट्रेनों के पहिए पूरी तरह से रुक गये थे. कोरोना की रफ्तार कम होने के बाद से एक बार फिर थमी ट्रेनों की गति फिर से बढ़ने लगी है. अभी भी सभी ट्रेनों का परिचालन (trains operating) पूरी तरह से शुरु नहीं किया गया है लेकिन बहुत हद तक लोग कनेक्टिंग औऱ स्पेशल ट्रेनों की मदद से यात्रा कर पाने में सक्षम हो पा रहे हैं. इसी बीच आम लोगों के बीच सोशल मीडिया (social media) में  एक बार फिर से परेशान करने वाली खबर आ रही है. वायरल होते मैसेज में दावा किया जा रहा है कि  रेलवे अब रात में चलने वाले ट्रेनों के किराये को बढ़ाने की कोशिश कर रहा है. अगर ऐसा हो जाता है तो निश्चय ही आम लोगों को इसका फर्क पड़ेगा. बता दें कि  फेसबुक, वाट्सएप और अन्य सोशल मीडिया पर भी इस तरह की खबरें जमकर शेयर की जी रही है. इन खबरों के वायरल होेे के बाद एक रेलवे को भी उक्त विषय पर अपना बयान जारी करना पड़ा. इसे भी पढ़ें- भारत और इंग्लैंड के बीच शेष तीन टी-20 दर्शकों के बिना खेले जाएंगे बताए जा रहे हैं… Continue reading रात में चलनी वाली ट्रेनों का बढ़ेगा किराया ! जानें सच

रेल मंत्रालय जो कहता है, वो करता है: गोयल

रेल मंत्री पीयूष गोयल ने दावा किया है कि रेल मंत्रालय जो कहता है, वो करता है। उन्होंने कहा कि राज्यों ने ‘श्रमिक स्पेशल’ ट्रेनों की जितनी मांग की थी, उससे ज्यादा रेल मंत्रालय ने उपलब्ध कराया।

पाकिस्तान में आंशिक रूप से पैसेंजर ट्रेन सेवा जल्द होगी बहाल

पाकिस्तान के रेल मंत्रालय ने कोरोना वायरस महामारी के बीच सभी चार प्रांतों में ट्रेन संचालन को आंशिक रूप से फिर से शुरू करने की रणनीति को अंतिम रूप दे दिया है।

रेलवे ने ट्रेन टिकट पर मिलने वाली छूट खत्म की

नई दिल्ली। रेल मंत्रालय ने कोरोनावायरस के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए ट्रेन टिकटों पर मिलने वाली सभी छूट को खत्म कर दिया है। हालांकि, यह छूट 4 कैटेगरी के दिव्यांगजनों और 11 कैटेगरी के मरीजों के लिए जारी रहेगी। गौरतलब है कि रेलवे ने कोरोना से निपटने के लिए 155 जोड़ी ट्रेनों की सर्विस रद्द कर दी है। साथ ही रेलवे ने प्लेटफॉर्म टिकट पहले ही 50 रुपए तक कर दिया है। इसके बाद अब सभी कैटेगरी की ट्रेन टिकट पर मिलने वाली छूट को पूरी तरह से खत्म कर दिया गया है। हालांकि, स्टूडेंट्स, दिव्यांगजनों की 4 कैटेगरी और 11 तरह के मरीजों को मिलने वाली छूट जारी रहेगी। रेल मंत्रालय ने यह फैसला कोरोनावायरस को देखते हुए लिया है। यह छूट अगली सूचना तक नहीं दी जाएगी। रेलवे ने बताया है कि यह फैसला लोगों को यात्रा करने से हतोत्साहित करने और कोरोनावायरस के बढ़ते संक्रमण को कम करने के लिए किया गया है।

विमानों की तरह ट्रेन में देख सकेंगे फिल्म, वीडियो

नई दिल्ली। ट्रेन सफर के दौरान और रेलवे स्टेशनों पर यात्रियों को जल्द ही रेलवे मनोरंजक वीडियो, फिल्में और अन्य सामग्री उपलब्ध करायेगा। रेल मंत्रालय ने मंगलवार को बताया कि सभी प्रीमियम, एक्सप्रेस और मेल ट्रेनों तथा उपनगरीय ट्रेनों में मीडिया सर्वर लगाये जायेंगे जिनमें कई भाषाओं में फिल्में, मनोरंजक कार्यक्रम, लाइफस्टाइल से जुड़ी सामग्रियां उपलब्ध होंगी। ये मनोरंजक सामग्रियां मांग पर यात्रियों को उनके इलेक्ट्रॉनिक डिवाइसों पर उपलब्ध करायी जायेंगी। इसमें नि:शुल्क और सशुल्क दोनों तरह की सेवा का प्रावधान होगा। परियोजना के जरिये रेलवे को बिना किराया बढ़ाएं राजस्व अर्जन वृद्धि में भी मदद मिलेगी। रेलवे को सब्सक्रिप्शन और विज्ञापन के रूप में राजस्व प्राप्ति होगी। इस परियोजना को दो साल में शुरू किया जायेगा और 2022 तक पूरी तरह लागू किया जायेगा। इसके तहत यात्री फिल्में, टेलीविजन शो, शैक्षणिक कार्यक्रम आदि देख सकेंगे। मनोरंजक सामग्री उपलब्ध कराने के लिए रेलवे बोर्ड ने रेलटेल को जिम्मेदारी दी है जो रेल मंत्रालय के अधीन मिनीरत्न कंपनी है। रेलटेल ने इसके लिए जी इंटरटेनमेंट की इकाई मार्गो नेटवर्क के साथ 10 साल का समझौता किया है जो इस परियोजना में डिजिटल मनोरंजन सेवा प्रदाता होगा। देश में चलने वाली 8,731 ट्रेनों में से 5,728 में यह परियोजना लागू की जानी… Continue reading विमानों की तरह ट्रेन में देख सकेंगे फिल्म, वीडियो

और लोड करें