आप ने कृषि कानूनों को रद्द करने को पीएम मोदी की ‘अहंकारी’ सरकार पर किसानों की जीत बताया

मांग की कि केंद्र उन किसानों में से प्रत्येक को “शहीद” का दर्जा दे, जिन्होंने “तीन काले कानूनों” का विरोध करते हुए अपने जीवन का बलिदान दिया।

कृषि-कानूनों पर शुभ शीर्षासन

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज तीनों कृषि-कानूनों को वापस लेने की स्पष्ट घोषणा कर दी है।

कृषि कानूनों को खत्म करने पर कंगना रनौत ने दी प्रतिक्रिया, कहा -‘दुखद, शर्मनाक और बिल्कुल अनुचित’

सभी किसान मित्रों से अपने खेतों और परिवारों को घर लौटने और इस शुभ अवसर पर एक नई शुरुआत करने का अनुरोध किया

कृषि कानूनों की जीत पर राहुल गांधी का बड़ा बयान, कहा – “सत्याग्रह ने अहंकार को हराया”

तीन कानून किसानों के लाभ के लिए थे लेकिन हम सर्वोत्तम प्रयासों के बावजूद किसानों के एक वर्ग को मना नहीं सके।

गुरु नानक जयंती पर पीएम नरेंद्र मोदी की बड़ी घोषणा, तीन विवादित कृषि कानूनों को वापस लिया जाएगा

तीन कानून किसानों के लाभ के लिए थे लेकिन हम सर्वोत्तम प्रयासों के बावजूद किसानों के एक वर्ग को मना नहीं सके।

भवानीपुर सीट से BJP को भारी मतों से हराने वाली Mamata Banerjee बोलीं- ये रामराज्य नहीं, किलिंग राज्य है

ममता ने इस घटना पर कहा है कि ‘ये बेहद दुखद और दुर्भाग्यपूर्ण घटना है। मेरे पास इस घटना की आलोचना के लिए कोई शब्द ही नहीं है। क्या यही रामराज्य है? नहीं ये ‘किलिंग राज्य’ है’।

पंजाब की राजनीति में तहलका मचाने वाले Navjot Singh Sidhu हिरासत में, कहा- पंजाब में लागू नहीं होने देंगे कृषि कानून

चंडीगढ़ | Navjot Singh Sidhu Detained: पंजाब की राजनीति में लगातार सुर्खियों में छाने रहने वाले नवजोत सिंह सिद्धू एक बार फिर से चर्चा में आ गए हैं। नवजोत सिंह सिद्धू को चंडीगढ़ पुलिस ने हिरासत में ले लिया है। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी की गिरफ्तारी के विरोध में नवजोत सिंह कांग्रेस कार्यकर्ताओं के साथ राज्यपाल आवास के बाहर धरना दे रहे थे। जिसके बाद पुलिस ने उन्हें हिरासत में लिया है। गौरतलब है कि, लखीमपुर खीरी (Lakhimpur Violence) में हुई घटना के बाद प्रियंका गांधी लखीमपुर के लिए रवाना हुईं थी, लेकिन उत्तर प्रदेश प्रशासन ने उन्हें लखीमपुर पहुंचने से पहले ही हिरासत में ले लिया था। सिद्धू इसी का विरोध कर रहे थे। ये भी पढ़ें:- लखीमपुर खीरी हिंसा : जहां प्रियंका गांधी और अखिलेश नहीं पहुंच सके वहां कैसे पहुंच गए टिकैट, पढ़ें इनसाइड स्टोरी … पंजाब में लागू नहीं होने देंगे कृषि कानून Navjot Singh Sidhu Detained: पंजाब की राजनीति में तहलका मचाने वाले सिद्धू ने किसानों के प्रति सहानुभूति दिखाते हुए चंडीगढ़ में राज्यपाल आवास के बाहर धरने के दौरान केन्द्र सरकार के खिलाफ कृषि कानूनों के विरोध में नारे लगाए। सिद्धू ने कहा कि वे पंजाब में कृषि कानूनों को लागू नहीं होने देंगे।… Continue reading पंजाब की राजनीति में तहलका मचाने वाले Navjot Singh Sidhu हिरासत में, कहा- पंजाब में लागू नहीं होने देंगे कृषि कानून

धान खरीद पर सरकार ने बदला फैसला, तो कांग्रेस बोली- मोदी सरकार को ऐसे ही रद्द करने पड़ेंगे तीनों कृषि कानून

पंजाब और हरियाणा में किसानों के प्रदर्शन के बाद आखिरकार सरकार को धान खरीद की तारीख को बदलना पड़ा है। अब दोनों ही राज्यों में 3 अक्टूबर यानि कल रविवार से धान खरीद की शुरुआत की जाएगी।

पंजाब में घमासान के बीच CM Channi और PM Modi की खास मुलाकात, चन्नी ने दिया पीएम को धन्यवाद

CM Channi Meet PM Modi: पंजाब सीएम चन्नी ने पीएम मोदी की तारीफ करते हुए उनका धन्यवाद किया है। उन्होंने कहा कि, सीएम और प्रधानमंत्री के बीच बातचीत होती रहनी चाहिए, अच्छे माहौल और अच्छा प्यार होना चाहिए

Repeal Farm Laws : पंजाब के सीएम चन्नी की पीएम मोदी से ‘सकारात्मक’ बैठक में तीन मांगें

पंजाब में जारी संकट और प्रदेश कांग्रेस में हंगामे के बीच मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने राजधानी में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की।

Bharat Bandh: संयुक्त किसान मोर्चा की ओर से आज ’भारत बंद’, विपक्षी पार्टियों ने भी किया समर्थन, दिल्ली की सीमाएं सील

किसान आंदोलन की अगुवाई कर रहे संयुक्त किसान मोर्चा ने आंदोलन के 10 महीने पूरे होने पर देश से भारत बंद को सफल बनाने की अपील की है।

ममता से मिले राकेश टिकैत

कोलकाता। किसान आंदोलन के नेता राकेश टिकैत ने बुधवार को पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी से मुलाकात की। उन्होंने मुख्यमंत्री से किसानों के मसले पर बातचीत की। गौरतलब है कि बंगाल में चुनाव प्रचार के दौरान राकेश टिकैत ने भाजपा के विरोध में सभाएं की थीं लोगों से भाजपा को हराने की अपील की थी। नतीजों के बाद पहली बार कोलकाता पहुंचे टिकैत ने ममता से कहा कि उन्होंने बड़े दुश्मन को हराया है। उस समय किसान नेताओं ने कहा था कि भाजपा बंगाल में हारेगी तो किसानों की बात सुनेगी। हालांकि नतीजों के एक महीने से ज्यादा समय बीत जाने के बाद भी केंद्र सरकार ने किसानों से बात नहीं की है। बहरहाल, बताया जा रहा है कि टिकैत और ममता के बीच केंद्र के कृषि कानूनों के खिलाफ जारी आंदोलन को तेज करने और सरकार को घेरने की रणनीति पर चर्चा हुई। बैठक के बाद ममता ने केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए कहा- पिछले सात महीनों से उन्होंने किसानों से बात करने की जहमत तक नहीं उठाई। मेरी मांग है कि तीनों कृषि कानून तुरंत वापस लिए जाएं। उन्होंने साथ ही कहा कि किसान आंदोलन को उनका समर्थन जारी रहेगा। वे दूसरे राज्यों के मुख्यमंत्रियों से… Continue reading ममता से मिले राकेश टिकैत

अब बड़े “खेला” की तैयारी : ममता बनर्जी से मिलेंगे राकेश टिकैट तो शुभेंदु पहुंचे पीएम मोदी के पास

नई दिल्ली |  कृषि कानून के विरोध में चलाए जा रहे किसान आंदोलन के सूत्रधार माने जाने वाले राकेश टिकैत आज टीएमसी प्रमुख और बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी से मुलाकात करेंगे. बता दें कि यह मुलाकात किसान आंदोलन के लिए काफी महत्वपूर्ण माना जा रहा है. कई जानकारों का कहना है कि राकेश टिकट अब किसान आंदोलन को निर्णायक मोड़ पर ले जाना चाह रहे हैं. वहीं दूसरी ओर मोदी शाह की जोड़ी को मात देने के बाद ममता बनर्जी बड़ा खेला खेलने की कोशिश में है. देश की राजनीति को करीब से जानने वाले लोगों का कहना है कि ममता अब अपना राजनीतिक कद बढ़ाना चाहती हैं ऐसे में उनके लिए किसान आंदोलन एक अच्छा विकल्प हो सकता है. I will meet her around 3 pm today. We will talk about agriculture, health, education and the local farmers: Rakesh Tikait, Bharatiya Kisan Union (BKU) ahead of his meeting with West Bengal CM Mamata Banerjee today in Kolkata pic.twitter.com/hFSZQjsyen — ANI (@ANI) June 9, 2021 TMC के लिए किया था प्रचार बता दें कि बंगाल विधानसभा चुनाव के दौरान राकेश टिकैत ने भी ममता बनर्जी के पक्ष में वोट मांगे थे. हालांकि उन्होंने कभी भी खुलकर टीएमसी का समर्थन… Continue reading अब बड़े “खेला” की तैयारी : ममता बनर्जी से मिलेंगे राकेश टिकैट तो शुभेंदु पहुंचे पीएम मोदी के पास

किसान आंदोलन : SKM द्वारा बंद केएमपी एक्सप्रेस वे किसानों ने 24 घंटे बाद खोला

संयुक्त किसान मोर्चा (United Kisan Morcha) के 24 घंटे से बंद किए गए केएमपी एक्सप्रेस वे (KMP Express Way) को आज सुबह करीब 8 बजे खोल दिया है।

बढ़ते कोरोना मामले पर बोले राकेश टिकैत, पूरे देश में लग जाए लॉकडाउन, आंदोलन नहीं होगा खत्म

गाजीपुर बॉर्डर। देशभर में Corona के मामले बढ़ते जा रहे हैं और हालात फिर बिगड़ते जा रहे हैं। Corona के कारण हर तरफ खतरा बढ़ गया है। ऐसे में दिल्ली की सीमाओं पर बैठे सैंकड़ो की संख्या में किसानों पर भी Corona का सीधा खतरा बना हुआ है। लेकिन Kisaan इस Aandolan को न खत्म करने की बात दोहरा रहे हैं। बीते कुछ समय से Corona ने ऐसी स्पीड पकड़ी कि सात-आठ महीने का रिकॉर्ड टूट गया हैं। देश में पहली बार अब एक दिन में एक लाख से ज्यादा मरीज मिल रहे हैं। लेकिन Agricultural Law के खिलाफ हो रहे विरोध में किसान ऐसे खतरा होने के बावजूद हटने का विचार नहीं कर रहें हैं। Bhartiya Kisan Union के नेता Rakesh Tikait ने इस मसले पर बात करते हुए कहा कि, इसको शाहीन बाग मत बनाने दो उन लोगों को। पूरे देश मे लॉकडाउन लग जाए लेकिन ये Aandolan खत्म नहीं होगा। जो भी Corona Guidelines होंगी उसका पालन Aandolan स्थलों पर किया जाएगा। हालांकि Border पर Kisan Corona नियमो की साफ अनदेखी भी कर रहें हैं। Kisan ना तो मुंहँ पर मास्क और न ही सेनिटाइजर इस्तेमाल करते नजर आते हैं। जिससे कोरोना का खतरा किसानों पर ज्यादा… Continue reading बढ़ते कोरोना मामले पर बोले राकेश टिकैत, पूरे देश में लग जाए लॉकडाउन, आंदोलन नहीं होगा खत्म

और लोड करें