मिर्गी एक छिपी हुई महामारी, भारत में 1.5 करोड़ से ज्यादा लोग प्रभावित : एम्स डॉक्टर

भारत में मिर्गी के अनुमानित 1.5 करोड़ या इससे ज्यादा मामले सामने आए हैं, जो किसी छिपी हुई महामारी से कम नहीं है। ये जानकारी एम्स दिल्ली के न्यूरोसर्जरी के प्रोफेसर डॉ शरत चंद्र ने दी।

पूर्व प्रधानमंत्री डॉ मनमोहन सिंह से मिलने पहुंचे राहुल, चिकित्सकों से बात कर ली स्वास्थ्य की जानकारी…

मनमोहन सिंह का हाल लेने के लिए कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी श्री सिंह के परिवार वालों से मुलाकात की….

पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के स्वास्थ्य को लेरक PM Modi चिंतित, जल्द स्वस्थ होने के लिए की प्रार्थना

पीएम मोदी ने ट्वीट कर मनमोहन सिंह के जल्द स्वस्थ्य होने की कामना करते हुए लिखा है कि, मैं डॉ मनमोहन सिंह जी के अच्छे स्वास्थ्य और शीघ्र स्वस्थ होने की प्रार्थना करता हूं।

AIIMS निदेशक ने की लोगों से अपील, कहा- त्योहार में खुशियां घर लाएं, कोरोना नहीं…

डॉक्टर गुलेरिया ने लोगों से अपील की है कि त्योहारों के सीजन में ज्यादा सतर्क रहें. उन्होंने कहा कि पिछली बार भी कोरोना त्योहारों में काफी बढ़ गए थे…

AIMS निदेशक रणदीप गुलेरिया ने कहा- आने वाले आने वाले 6 से 8 सप्ताह अहम, जीवित रहे तो खूब त्योहार मना सकते हैं…

एम्स के निदेशक रणदीप गुलेरिया ने आगामी त्योहारों को देखते हुए लोगों को आगाह किया है. उन्होंने कहा है कि आने वाले 6 से 8 सप्ताह में और भी ज्यादा सतर्क रहने की…

क्या कोरोना की पहली और दूसरी लहर से हम कुछ सीख पाये हैं.. तीसरी लहर भी 6 से 8 हफ्तों में आने की संभावना -डॉ रणदीप गुलेरिया

नई दिल्ली |  भारत में हाल ही में कोरोना की दूसरी लहर के मामलों में गिरावट होनी शुरु हुई है। सरकारों ने अनलॉक की प्रक्रिया शुरु कर दी है। लेकिन जैसे ही बाजार खुले है लोगों ने बाजारों में भीड़ लगानी शुरु कर दी है। बाजार की कुछ तस्वीरें वायरल हो रही है जिसमें लोग बिना मास्क, सामाजिक दूरी के बाजारों में बीड़ लगा रहे है। कोरोना की दूसरी लहर से हम पूरी तरह से उबरे भी नहीं है कि अगले 6-8 हफ्तों में कोरोना वायरस की तीसरी लहर दस्तक दे सकती है। यह आशंका एम्स के निदेशक डॉक्टर रणदीप गुलेरिया ने व्यक्त की है। डॉक्टर रणदीप गुलेरिया ने यह भी संकेत दिए है कि तीसरी लहर से बचा नहीं जा सकता है। जब दूसरी लहर का प्रकोप चल रहा था उस समय ही कुछ एक्सपर्ट्स ने तीसरी लहर की चेतावनी ज़ारी कर दी थी। लापरवाही के चलते तीसरी लहर जल्द आएगी हाल ही में डॉ. रणदीप गुलेरिया ने एनडीटीवी से बातचीत में कहा कि राज्य सरकारों ने लॉकडाउन में छूट देनी शुरु कर दी है। बाजारों में फिर से भीड़ बढ़ने लगी है। ऐसा लग नहीं रहा है कि कोरोना की दूसरी लहर हमें अभी बर्बाद करके गुज़री है।… Continue reading क्या कोरोना की पहली और दूसरी लहर से हम कुछ सीख पाये हैं.. तीसरी लहर भी 6 से 8 हफ्तों में आने की संभावना -डॉ रणदीप गुलेरिया

अध्ययन में चौंकाने वाला खुलासा! वैक्सीन की दोनों डोज लेने के बाद भी संक्रमित कर सकता है कोरोना का ‘Delta’ Variant

नई दिल्ली | कोरोना वायरस को लेकर एक चौंकाने और डराने वाला खुलासा हुआ है। जिसके अनुसार, कोरोना वायरस (Coronavirus) कोरोना वैक्सीन (Corona Vaccine) की दोनों डोज लेने के बाद भी किसी को भी संक्रमित कर सकता है। एक अध्ययन में ये चौंकाने वाली बात सामने आई कि कोरोना का ‘डेल्टा’ वेरियंट (Delta Varient) कोविशील्ड और कोवैक्सीन (Covishield and Covaxin) की दोनों डोज लेने के बाद भी संक्रमित कर सकता है। ये भी पढ़ें- कोरोना मरीजों में मिला हर्पीज़ सिम्पलेक्स वायरस, डॉक्टर्स ने बताया बेहद खतरनाक रिपोर्ट के मुताबिक AIIMS दिल्ली और नेशनल सेंटर ऑफ डिसीज कंट्रोल के अलग-अलग अध्ययनों में यह खुलासा हुआ है। यह वायरस पहली बार भारत में अक्टूबर में पाया गया था। हालांकि इन दोनों ही अध्ययनों की अभी तक समीक्षा नहीं की गई है। एम्स की स्टडी में पाया गया कि, डेल्टा वेरियंट ब्रिटेन में पाए गए अल्फा वेरियंट के मुकाबले 40 से 50 फीसदी ज्यादा संक्रामक है और भारत में कोरोना वायरस की बढ़ोतरी का यही सबसे बड़ा कारण है। ‘डेल्टा’ वेरिएंट इन्फेक्शन फैलाने में ज्यादा सक्षम भारत में कोविशील्ड और कोवैक्सीन (Covaxin) दोनों तरह के टीका लेने के बाद भी डेल्टा ( B.1.617.2) वेरिएंट से संक्रमित होना पाया गया है। भारत में ब्वअंÛपद और… Continue reading अध्ययन में चौंकाने वाला खुलासा! वैक्सीन की दोनों डोज लेने के बाद भी संक्रमित कर सकता है कोरोना का ‘Delta’ Variant

बच्चों पर कोवैक्सीन के परीक्षण शुरू करने के लिए आज से दिल्ली AIIMS में स्क्रीनिंग

नई दिल्ली | एम्स दिल्ली (AIIMS Delhi) सोमवार से कोवैक्सिन परीक्षणों के लिए बच्चों की स्क्रीनिंग शुरू करेगा। बिहार की राजधानी में पटना में इसी तरह के परीक्षण शुरू होने के एक सप्ताह बाद यहां यह परीक्षण प्रारंभ किए जाएंगे। ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया ने पिछले महीने 11 मई को बच्चों पर ट्रायल की अनुमति दी थी। राशन माफिया मददगार केंद्र, केजरीवाल ने मोदी सरकार पर लगाए गंभीर आरोप अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) सोमवार से भारत निर्मित कोविड -19 वैक्सीन कोवैक्सिन के नैदानिक ​​​​परीक्षणों के लिए बच्चों की स्क्रीनिंग शुरू करेगी। पिछले हफ्ते एम्स पटना ने भारत बायोटेक के 12 से 18 साल के बच्चों के लिए इसी तरह का ट्रायल शुरू किया था। ड्रग्स कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया (डीसीजीआई) से अनुमति मिलने के बाद, एम्स दिल्ली अब वास्तविक परीक्षण शुरू करने से पहले स्क्रीनिंग की यह प्रक्रिया शुरू कर रहा है। डीसीजीआई की मंजूरी 12 मई को एक विषय विशेषज्ञ समिति (एसईसी) की सिफारिश के बाद आई थी। भारत बायोटेक के टीके को बच्चों पर क्लिनिकल परीक्षण करने के लिए 11 मई को DCGI की मंजूरी मिलने के बाद पिछले मंगलवार को एम्स पटना में कोवैक्सिन के लिए बाल चिकित्सा परीक्षण शुरू हुआ है। एम्स, पटना के… Continue reading बच्चों पर कोवैक्सीन के परीक्षण शुरू करने के लिए आज से दिल्ली AIIMS में स्क्रीनिंग

केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल की तबीयत बिगड़ी, अस्पताल में भर्ती

नई दिल्ली। केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक  (Ramesh Pokhriyal Nishank) की आज मंगलवार को तबीयत खराब होने के बाद AIIMS में भर्ती करवाया गया है. जानकारी के अनुसार, कोरोना संक्रमण (Post COVID) के बाद की समस्याओं के चलते उन्हें अस्पताल में एडमिट करवाया गया है. शिक्षामंत्री अप्रेल कोरोना संक्रमित हो गए थे, हालांकि वे बिल्कुल ठीक हो चुके हैं. लेकिन संक्रमण के बाद होने वाली तकलीफों के चलते उनकी तबीयत बिगड़ी गई है. ये भी पढ़ें:- MP के पूर्व मंत्री Laxmikant Sharma का Corona से निधन, व्यापम घोटाले में आया था नाम केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल अप्रेल कोरोना से संक्रमित(Corona Positive) हुए थे. उन्होंने खुद ट्वीट के जरिए इसकी जानकारी साझा की थी. उन्होंने कहा था कि, मेरी कोविड-19 जांच में संक्रमण की पुष्टि हुई है. ये भी पढ़ें:- Corona से देश में राहत, गिरावट के साथ 24 घंटें में मिले 1 लाख 27 हजार नए संक्रमित, कई राज्यों में शुरू हुआ Unlock आज परीक्षाओं पर किया जाना था अंतिम फैसला बता दें कि शिक्षामंत्री पोखरियाल आज ही सीबीएसई समेत तमाम स्टेट बोर्ड के लिए 12वीं की बोर्ड परीक्षाओं पर फैसला सुनाने वाले थे. बीते महीने केंद्रीय मंत्रियों की बैठक में परीक्षाओं को लेकर विचार किया गया था और सभी… Continue reading केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल की तबीयत बिगड़ी, अस्पताल में भर्ती

CORONA VACCINE : कोरोना वैक्सीन के दोनों डोज़ लेने के बाद भी कैसे हो रहा है संक्रमण..आइये जानते है विशेषज्ञ की राय

कोरोना संक्रमण से बचाने के लिए कोरोना की वैक्सीनेशन का अभियान जोर शोर से चल रहा है। देश भर में अब तक 18 करोड़ 40 लाख 53 हजार 149 लोगों को वैक्सीन डोज दी जा चुकी है। लेकिन इसको लेकर भी सवाल खड़े हो रहे हैं कि वैक्सीनेशन लेने के बाद भी लोग कोरोना की चपेट में तेजी से आ रहे हैं। कोरोना की वैक्सीन यानी कोरोना की  संजीवनी बूटी को लगवाने के बाद भी लोग संक्रमित क्यों हो रहे है। देश के जाने माने हार्ट रोग विशेषज्ञ डॉ. के के अग्रवाल के निधन होने के बाद वैक्सीनेशन को लेकर ज्यादा चर्चा होने लगी है। बताया जाता है कि डॉक्टर केके अग्रवाल कोरोना वैक्सीनेशन की दोनों डोज ले चुके थे। लेकिन वह कोरोना को मात देने में सफल नहीं हो सके। करीब 1 सप्ताह से उनका इलाज एम्स, नई दिल्ली में डॉक्टरों की एक विशेष टीम कर रही थी। हालत में कोई सुधार नहीं होने के चलते उनका रात्रि 11:30 बजे उनका निधन हो गया। इसके बाद अब यह चर्चा तेजी से हो रही है कि अगर कोरोना वैक्सीन की दोनों डोज़ लेने के बाद आखिर किस तरह की एहतियात बरती जाए? या फिर वैक्सीन लेने के बाद कोरोना से… Continue reading CORONA VACCINE : कोरोना वैक्सीन के दोनों डोज़ लेने के बाद भी कैसे हो रहा है संक्रमण..आइये जानते है विशेषज्ञ की राय

झोलाछाप विशेषज्ञों के हवाले कोरोना का प्रबंधन

भारत में कोरोना वायरस का प्रबंधन कौन संभाल रहा है? प्रधानमंत्री, स्वास्थ्य मंत्री या स्वास्थ्य मंत्रालय के अधिकारी? इनका जिक्र इसलिए क्योंकि चारों तरफ इन्हीं के चेहरे दिखाई देते हैं। पर असल में प्रबंधन का काम चिकित्सा क्षेत्र के कुछ विशेषज्ञों के हाथ में है। नीति आयोग के सदस्य स्वास्थ्य डॉक्टर वीके पॉल या आईसीएमआर के महानिदेशक डॉक्टर बलराम भार्गव या सरकार के मुख्य स्वास्थ्य सलाहकार डॉ. विजयराघवन, एम्स दिल्ली के निदेशक रणदीप गुलेरिया आदि, आदि। इनके चेहरे भी अक्सर टेलीविजन पर दिखाई देते रहते हैं। पर ऐसा लग रहा है कि भारत का कोरोना प्रबंधन पूरी तरह से झोलाछाप विशेषज्ञों के हवाले हैं। जिस तरह गांवों में झोलाछाप डॉक्टरों को समझ में नहीं आ रहा है कि कोरोना का इलाज कैसे करें वैसे ही इन विशेषज्ञों को भी कुछ समझ में नहीं आ रहा है। ये भी पढ़ें: दुनिया क्या जैविक युद्ध के बीच? दुनिया में कोरोना वायरस की महामारी शुरू होने के करीब डेढ़ साल बाद भारत में अब जाकर प्लाज्मा थेरेपी को इलाज के प्रोटोकॉल से बाहर किया गया है। सोचें, इतने दिनों से प्लाज्मा थेरेपी चल रही थी, लोग प्लाज्मा डोनेट कर रहे थे, प्लाज्मा बैंक बन रहा था लेकिन अब इससे इलाज पर रोक लगा… Continue reading झोलाछाप विशेषज्ञों के हवाले कोरोना का प्रबंधन

Good News: 2 से 18 साल के बच्चों के का होगा क्लीनिकल ट्रायल ,भारत बायोटेक को मिली मंजूरी

New Delhi: कोरोना कू दूसरी लहर से भारत में हर कहीं हाहाकार मचा हुआ है. लेकिन कोरोना के प्रकोप की बाच अब एक बार फिर से राहत वाली खबर भी आई  है.  भारत बायोटेक अपनी कोरोना रोधी वैक्सीन कोवैक्सीन का दो से 18 साल के बच्चों पर जल्द ही दूसरे और तीसरे चरण का क्लीनिकल ट्रायल शुरू करेगी. कोरोना पर गठित विशेषज्ञों की समिति ने मंगलवार को ट्रायल शुरू करने के लिए अपनी मंजूरी दे दी. आधिकारिक सूत्रों ने यह जानकारी दी है. दिल्ली एवं पटना के एम्स और नागपुर स्थिति मेडिट्रिना इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइसेंस समेत देश के विभिन्न केंद्रों पर 525 वालंटियर पर यह ट्रायल किया जाएगा. भारत बायोटेक ने मांगी थी ट्रायल की अनुमति हैदराबाद स्थित भारत बायोटेक ने दो से 18 साल के बच्चों पर कोवैक्सीन की सुरक्षा और प्रतिरक्षा का आकलन करने की अनुमति मांगी थी. कोरोना पर गठित केंद्रीय दवा मानक नियंत्रण संगठन (सीडीएससीओ) की विषय विशेषज्ञ समिति (एसईसी) ने मंगलवार को भारत बायोटेक के आवेदन पर व्यापक विचार विमर्श करने के बाद उसे ट्रायल की मंजूरी दी. एसईसी ने दूसरे और तीसरे चरण के ट्रायल की सिफारिश करते हुए यह शर्त भी रखी है कि भारत बायोटेक तीसरे चरण का क्लीनिकल ट्रायल शुरू करने… Continue reading Good News: 2 से 18 साल के बच्चों के का होगा क्लीनिकल ट्रायल ,भारत बायोटेक को मिली मंजूरी

Corona virus : पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने दी कोरोना को मात, AIIMS से मिली छुट्टी

नई दिल्ली | कोरोना महामारी का बढ़ता प्रकोप पूरी तरह फैला हुआ है कोरोना (Corona) से लोगों की हालत ख़राब होती जा रही है कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और देश के पूर्व प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह (Dr. Manmohan Singh) (88) कोरोना (Corona) के खिलाफ जंग जीतकर स्वस्थ हो चुके हैं। एम्स के ट्रामा सेंटर (AIIMS Trauma Center) से आज उन्हें छुट्टी मिल गई। एम्स प्रशासन (AIIMS Administration) ने उनके डिस्चार्ज होने की जानकारी दी है। दरअसल, पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह (Manmohan Singh) बीते 19 अप्रैल को कोरोना पॉजिटिव हुए थे। जिसके बाद उन्हें एम्स में भर्ती कराया गया था। दस दिनों के इलाज के बाद वह स्वस्थ हो चुके हैं। जिसके बाद आज 29 अप्रैल को उन्हें एम्स के ट्रॉमा सेंटर से छुट्टी दे दी गई। इसे भी पढ़ें – Corona Firght: जब नहीं पहुंचे रिश्तेदार तो मुस्लिम पड़ोसियों ने ना सिर्फ कंधा दिया, बल्कि राम नाम सत्य है भी कहा … खास बात है कि संक्रमित होने से पूर्व ही डॉ. मनमोहन सिंह (Manmohan Singh) ने कोवैक्सीन (CoVaccine) की दोनों डोज ली थी। माना जा रहा है कि कोरोना (Corona) के खिलाफ लड़ाई में उन्हें वैक्सीन (Vaccine) से काफी लाभ मिला। 88 वर्षीय डॉ. मनमोहन सिंह (Dr. Manmohan Singh) ने… Continue reading Corona virus : पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने दी कोरोना को मात, AIIMS से मिली छुट्टी

Patna AIIMS में 384 डाॅक्टर और मेडिकल स्टाफ कोरोना संक्रमित, राज्य में हड़कंप

पटना। Patna AIIMS Covid 19 Update : देश में बेकाबू हुआ कोरोना संक्रमण बिहार (Coronavirus in Bihar) में भी प्रचंड़ रूप में फैलता जा रहा है। इस लगातार फैलते संक्रमण के बीच राजधानी पटना एम्स (Patna AIIMS) में कोरोना ब्लास्ट हुआ। एम्स के 384 डॉक्टर और नर्सिंग स्टाफ संक्रमित हो चुके हैं। बिहार में मंगलवार को पहली बार 10 हजार से ज्यादा कोरोना के नए केस सामने आए है। आज बुधवार को पटना एम्स (AIIMS) के मेडिकल सुपरिटेंडेंट ने जानकारी देते हुए कहा कि अस्पताल के अब तक 384 डॉक्टर और नर्सिंग स्टाफ कोरोना पॉजिटिव हो चुके हैं। यह भी पढ़ें:- Bihar : Corona काल में ‘Oxygen Man’ बना ये शख्स, अब तक 900 से ज्यादा मरीजों को पहुंचा चुके हैं Oxygen सिलेंडर पंचायत चुनाव स्थगित कोरोना के लगातार बढ़ते मामलों को देखते हुए बिहार में पंचायत चुनाव स्थगित कर दिए गए हैं। अप्रेल के अंत में चुनाव को लेकर अधिसूचना जारी होनी थी, लेकिन ऐसे बिगड़े हालातो को देखते हुए राज्य निर्वाचन आयोग ने इसे स्थगित कर दिया गया है। 15 दिनों के बाद फिर से स्थिति की समीक्षा की जाएगी और इन पर निर्णय लिया जाएगा। यह भी पढ़ें:- Bihar: जदयू विधायक और पूर्व मंत्री Mevalal Chaudhary का कोरोना से निधन,… Continue reading Patna AIIMS में 384 डाॅक्टर और मेडिकल स्टाफ कोरोना संक्रमित, राज्य में हड़कंप

कोरोना अपडेट : मरीजों की बढ़ती संख्या को देखते हुए दिल्ली के एम्स में निकली भर्ती, सीधे इंटरव्यु से होगा सेलेक्शन

कोरोना वायरस का संक्रमण पुरे देश में बढ़ता ही जा रहा है। मरीजों की बढ़ती संख्या के सामने डॉक्टरों की संख्या कम हो रही है। ऐसे में अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (AIIMS), नई दिल्ली में वैकेंसी निकाली गई है। दरअसल एम्स सीनियर रेजिडेंट्स, सीनियर डेमोंस्ट्रेटर के रिक्त पदों के लिए योग्य उम्मीदवारों की तलाश कर रहा है। जुलाई के लिए नियमित चयन होने तक ADHOC आधार पर भारतीय  सीनियर रेजिडेंट्स, सीनियर डेमोंस्ट्रेटर  के पद पर तत्काल भर्ती की जानी है। इसके तहत कुल 33 विभागों में 180 भर्तियां की जाएंगी। अस्पतालों में दवाइयों, बैड,ऑक्सीजन की किल्ल्त देखी जा रही है। यह भर्तियां सीधे इंटरव्यु से होगी। इसे भी पढ़ें Oppo 7 मई को भारत में लॉन्च करेगा अपना E-Store, खरीदारों के लिए रोमांचक प्रस्ताव होगा आवेदन की तारीख आवेदन करने की आखिरी तारीख- 27 अप्रैल 2021 इंटरव्यू की तारीख और समय (ऑनलाइन ऑफ़लाइन)- 28 अप्रैल 2021, दोपहर 2 बजे इन विभागों में निकाली भर्ती एनेस्थिसियोलॉजी पेन चिकित्सा और क्रिटिकल केयर, एनेस्थिसियोलॉजी (IRCH), प्रशामक चिकित्सा (IRCH, NCI, JHAJJAR), कार्डिएक एनैस्थिसियोलॉजी, न्यूरो एनेस्थेसियोलॉजी, रेडियो-निदान, कार्डियोवस्कुलर रेडियोलॉजी और एंडोवस्कुलर इंटरवेंशन, न्यूरोइमेजिंग और इंटरवेंशनल न्यूरो-रेडियोलॉजी, रेडियोथेरेपी, बाल चिकित्सा सर्जरी, न्यूरो सर्जरी, फोरेंसिक मेडिसिन सहित कुल 33 विभागों में भर्ती की जानी है। उम्मीदवारों को जमा… Continue reading कोरोना अपडेट : मरीजों की बढ़ती संख्या को देखते हुए दिल्ली के एम्स में निकली भर्ती, सीधे इंटरव्यु से होगा सेलेक्शन

और लोड करें