अक्षय तृतीया2021: बीका तेरो बीकाणो जोधाण स सवायो बाजसी..करणी माता के आशीर्वाद से बना बीकानेर, आइये जानते है बीकानेर के इतिहास के बारे में ..

राजस्थान के पश्चिमी सीमा पर स्थित बीकानेर के शोर्य से शायद ही कोई अपरिचित है। बीकानेर धार्मिक दृष्टि से जितना महत्व रखता है तो सांस्कृतिक दृष्टि से भी उतना ही महत्वपुर्ण है । जमीन का जेवर कहलाने वाला जुनागढ़ इस बीकानेर में है तो करणी माता का विश्व प्रसिद्ध देशनोक मंदिर भी बीकानेर की ही धरती पर स्थित है। वहीं देशनोक जो जिसमें 20,000 चुहे रहते है। बीकानेर जो अपने ऊंटो के लिए जितना प्रसिद्द है तो एशिया की सबसे बड़ी ऊन की मंडी भी यही स्थित है। बीकानेर जो अपने रसगुल्लों के लिए एक विषिष्ठ पहचान रखता है। और बीकानेरी भुजिया की विशेषता तो कुछ ऐसी है कि लाख कोशिशों का बाद भी ऐसा स्वाद वाली भुजिया बनाने में दुनिया का हर व्यक्ति नाकाम रहा है। हजार हवेलियों वाला शहर कहलाने वाले बीकानेर की स्थापना अक्षय तृतीया के दिन हुई  थी। इसे भी पढ़ें Eid 2021: देशभर में आज मनाई जा रही Eid, कोरोना के खात्मे के लिए लोगों ने मांगी दुआं, जन्नती दरवाजा खुला भी खुला बीकानेर की स्थापना से जुड़ी कुछ कहानियां बीकानेर के संस्थापक जोधपुर के राजा राव जोधा के पुत्र राव बीका है। एक मान्यता के अनुसार, एक बार जोधपुर के राजा राव दोधा अपने दरबार… Continue reading अक्षय तृतीया2021: बीका तेरो बीकाणो जोधाण स सवायो बाजसी..करणी माता के आशीर्वाद से बना बीकानेर, आइये जानते है बीकानेर के इतिहास के बारे में ..

भारत बंद : जानें, राजस्थान में बंद का कहां और कितना दिखा असर

Jaipur: नये कृषि कानूनों के विरोध में संयुक्त किसान मोर्चा (kisan morcha) के आह्वान पर आयाेजित भारत बंद का राजस्थान (rajasthan) में मिला-जुला असर देखने को मिला. हालांकि श्रीगंगानगर ( shri ganganagar)  एवं बीकानेर (Bikaner) जिले में बंद का काफी असर देखने को मिला.  श्रीगंगानजर जिले के रायसिंहनगर कस्बे के बाजार बंद नबर आए.  इसके अलावा किसानों ने राज्य के कई प्रमुख  मार्गों को पर  चक्का जाम कर रखा . इनमें ट्रक यूनियन , 11 टीके फाटक, समेजा, बाजूवाला, मुकलावा में भी चक्का जाम चल रहा . इस दौरान किसान नये कृषि कानूनों (Agricultural laws) को वापस लेने की मांग करते हुए केन्द्र सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते नजर आए. सुरक्षा एवं कानून व्यवस्था बनाये रखने के लिए मौके पर प्रशासन भी सचेत नजर आया. सड़कों पर प्रशासन की भारी तैनाती की गयी. जयपुर में दिखा बंद का दिखा मिला-जुला असर राजधानी जयपुर में बंद का मामूली असर दिखा. जयपुर शहर में धीरे धीरे दुकानें खुल गई. लोग भी आम दिनों की ही तरह अपने कामों में जाते दिखे. हालांकि अहले सुबह लोगों में बंद को लेकर थोड़ी असमंजस की स्थिति जरूर थी. लेकिन दिन के चढ़ने के साथ ही लोग अपने कामों में जाते दिखाई दिये.  बाजारों की स्थिति… Continue reading भारत बंद : जानें, राजस्थान में बंद का कहां और कितना दिखा असर

TANUSHREE PAREEK : जानें, बीकानेर की साधारण लड़की कैसे बनी  BSF  की पहली महिला कमाण्डर

कुछ उपलब्धियां ऐसी होती हैं जिसे हासिल करने के बाद लोग खुद  संतुष्ट होने का साथ ही दूसरों के लिए प्रेरणा बन जाते हैं.  25 वर्षीय तनुश्री पारीक  ( TANUSHREE PAREEK)  ने भी ने कुछ ऐसी ही उपलब्धि हासिल की . 25 मार्च को तनुश्री पारीक BSF  यानि फर्स्‍ट लाइन ऑफ डिफेंस ( FIRST LINE OF DEFFENECE )  में पहली कमाण्डर  के रूप में चुनी गयी. तनुश्री देश की पहली महिला कमाण्डर थी. तनुश्री लाखों लड़कियों के लिए एक प्रेरणा हैं.   तनुश्री का कहना है कि धूप में सनस्क्रीम लगाना छोड़कर खुदको साबित करें. तनुश्री बचपन से ही  होनहार छात्रा थी. तनुश्री आज भारत की बहुत सारी युवतियों के लिए रोल मॉडल बन चुकी हैं.तनुश्री का मानना है कि  बस खुद पर विश्वास रखो और सैन्य बलों में जाने से जीवन में अनुशासन आता है. उपलब्धि का रोमांच तनुश्री का कहना है कि परेड के लिए मैने खुद को दोगुने उत्साह के साथ तैयार किया था. तनुश्री की पहली तैनाती पंजाब में भारत-पाकिस्तान सीमा पर पुई थी. तनुश्री ने इस मुकाम तक पहुंचने के लिए बहुत कड़ी मेहनत की थी. 13 माह की बेहद कड़ी ट्रेनिंग के दौरान उन्होंने युद्ध कौशल, खुफिया सूचनाएं जुटाने और सीमा की सुरक्षा से जुड़े… Continue reading TANUSHREE PAREEK : जानें, बीकानेर की साधारण लड़की कैसे बनी  BSF  की पहली महिला कमाण्डर

मौत की लुकाछिपी : बीकानेर में ड्रम में छिपे पांच भाई—बहिनों की मौत, खबर सिर्फ सूचना नहीं है, यह सावधानी रखने को आगाह करती है

बीकानेर जिले वाली घटना के वक्त भीयाराम का परिवार खेत में गया हुआ था। इसी दौरान चार भीयाराम के बेटे-बेटियां और भीयाराम की…

राजस्थान में सड़कों पर उतरी कांग्रेस, जिला मुख्यालयों पर धरना-प्रदर्शन

कांग्रेस ने ‘भाजपा द्वारा राजस्थान में लोकतंत्र की हत्या के षड़यंत्र के खिलाफ’ शनिवार को राज्य के जिला मुख्यालयों पर धरना-प्रदर्शन किया। कांग्रेस ये धरने-प्रदर्शन ऐसे समय में कर रही है, जबकि राज्य में राजनीतिक रस्साकशी चल रही है।

बीकानेर में सबसे तेजी से ठीक हुए कोरोना मरीज

राजस्थान में बीकानेर जिला प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग की मुस्तैदी के चलते कोरोना संक्रमण में कम्यूनिटी स्प्रैड पर प्रभावी अंकुश के साथ.साथ कोरोना मरीजों के ठीक होने की दर प्रदेश भर में सबसे तेज रही है।

राजस्थान में 28 नये पोजिटिव, कुल संख्या 1104

राजस्थान में आज जोधपुर में ग्यारह, टोंक में 11 तथा कोटा एवं झुंझुनू में दो-दो एवं बीकानेर एवं अजमेर में एक-एक नये कोरोना पाॅजिटिव के मामले सामने आये।

दो महीनों में खोली जायेगी तीन औषधीय प्रयोगशालाएं : शर्मा

राजस्थान के चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री डॉ. रघु शर्मा ने आज विधानसभा में कहा कि आगामी दो महीनों में उदयपुर, जोधपुर और बीकानेर में औषधीय नियंत्रण प्रयोगशालाएं खोली जाएंगी।

राजस्थानी भाषा की मान्यता के लिए 21 को धरना

राजस्थानी भाषा की मान्यता को लेकर काम कर रही संस्था राजस्थानी मोटियार परिषद द्वारा आगामी 21 फरवरी को विश्व मातृभाषा दिवस पर प्रदेश के साथ बीकानेर में भी एक दिवसीय धरना दिया जाएगा

सप्त शक्ति कमांड का सेरेमनी 22 फरवरी को

राजस्थान में बीकानेर के सैन्य स्टेशन में भारतीय सेना के सप्त शक्ति कमांड द्वारा 22 फरवरी को सेरेमनी का आयोजन करेगी।
राजस्थान के सेना के

रेल फाटकों पर बाईपास निर्माण के लिए प्रयासरत है : कल्ला

राजस्थान के ऊर्जा मंत्री डॉ. बी.डी.कल्ला ने कहा कि रेल फाटको पर बाईपास बनाने के लिए वह वर्षों से प्रयासरत हैं और शीघ्र ही इस पर निर्णय करवा कर आमजन को राहत पहुंचाई जाएगी।

शाहीन बाग में सीएए का विरोध विपक्ष की चाल है : येसोनाइक

केंद्रीय आयुध एवं रक्षा राज्यमंत्री पद येसोनाइक ने कहा है कि दिल्ली के शाहीन बाग में केंद्रीय नागिरक कानून (सीएए) और राष्ट्रीय नागिरकता रजिस्टर

और लोड करें