IPL को देखते हुए BCCI ने ECB से टेस्ट सीरीज आगे बढ़ाने का अनुरोध किया

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) ने इंग्लैंड और वेल्स क्रिकेट बोर्ड (ECB ) से इंग्लैंड और भारत के बीच पांच मैचों की टेस्ट सीरीज (Test series) की शुरूआत में एक हफ्ते की देरी करने का अनुरोध किया है।

हमें विराट जैसे कप्तान की जरूरत है: मदन

नई दिल्ली। भारतीय टीम के पूर्व ऑलराउंडर और भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) क्रिकेट सलाहकार समिति के प्रमुख मदल लाल ने कप्तान विराट कोहली के आक्रामक व्यवहार का बचाव करते हुए कहा है कि वह उनके इस व्यवहार का आनंद लेते हैं और टीम को विराट जैसे कप्तान की जरुरत है। हाल ही में संपन्न हुए न्यूजीलैंड दौरे के दूसरे और अंतिम टेस्ट मैच के दौरान न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियम्सन का विकेट गिरने के बाद उत्साहित विराट कुछ अपशब्द कहते पाए गए थे। यह घटना कैमरे में कैद हुई थी और इसका वीडियो सोशल मीडिया पर काफी वायरल हुआ था। मदन ने कहा, मुझे नहीं पता क्यों भारत में लोग विराट को शांत रहने के लिए बोलते हैं। पहले तो लोग चाहते थे कि हमें आक्रामक कप्तान मिले और अब चाहते हैं कि विराट अपने गुस्से पर काबू रखें। वह जिस तरह मैदान में रहते हैं उसे मैं बेहद पसंद करता हूं। पहले लोग कहते थे कि भारतीय आक्रामक नहीं होते हैं और अब इस पर सवाल उठा रहे हैं और कह रहे हैं कि इतनी आक्रामकता की क्या जरुरत है। मैं विराट के इस व्यवहार का आनंद लेता हूं और हमें उनके जैसे कप्तान की सख्त जरुरत है।… Continue reading हमें विराट जैसे कप्तान की जरूरत है: मदन

इग्लैंड दौरे पर 4 राष्ट्रो की सीरीज पर चर्चा कर सकते हैं गांगुली

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) अध्यक्ष सौरभ गांगुली इंग्लैंड रवाना हो गए हैं और ऐसा माना जा रहा है कि वह वहां पर चार राष्ट्रों की सीरीज पर चर्चा कर सकते हैं।

गांगुली को मिली बीसीसीआई की कमान

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान सौरभ गांगुली को बुधवार को यहां आधिकारिक रूप से भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) का अध्यक्ष चुना गया।

बीसीसीआई के कायाकल्प की चुनौती

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) के नए अध्यक्ष हो गए हैं। चुनाव की औपचारिक घोषणा 23 अक्तूबर को होनी है। बोर्ड के इतिहास में यह पहला मौका है जब किसी खिलाड़ी को इसकी कमान सौंपी गई है।

न्यायमित्र के पास जा सकता है डीडीसीए का मामला

नई दिल्ली। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड की 23 अक्टूबर को होने वाली वार्षिक आम बैठक में दिल्ली एंव जिला क्रिकेट संघ के प्रतिनिधि को लेकर उठा विवाद उच्चतम न्यायालय द्वारा नियुक्त न्यायमित्र के पास सलाह-मशविरे के लिए जा सकता है। दिल्ली एंव जिला क्रिकेट संघ (डीडीसीए) में भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) की वार्षिक आम बैठक में अपने प्रतिनिधि को लेकर विवाद चल रहा है। समझा जाता है कि बीसीसीआई का संचालन देख रही प्रशासकों की समिति (सीओए) डीडीसीए के मामले में न्यायमित्र की सलाह ले सकती है। डीडीसीए के एक गुट ने डीडीसीए की सर्वोच परिषद के अध्यक्ष रजत शर्मा को बीसीसीआई की एजीएम और चुनाव प्रक्रिया में प्रतिनिधि के तौर पर अधिकृत करने के फैसला का विरोध किया है। इस गुट का मानना है कि सर्वोच परिषद यह प्रतिनिधि नियुक्त करने के लिए सक्षम नहीं है और इसका फैसला डीडीसीए की आम सभा में लिया जाता है। इस गुट ने सर्वोच परिषद के फैसले का तकनीकी और कानूनी आधार पर विरोध करते हुए बीसीसीआई के सामने आपत्ति दर्ज करायी है। समझा जाता है कि सीओए कानूनी मामलों पर किसी अप्रिय स्थिति से बचने के लिए न्यायमित्र की मदद ले सकता है। इस बीच डीडीसीए के अध्यक्ष रजत शर्मा… Continue reading न्यायमित्र के पास जा सकता है डीडीसीए का मामला

और लोड करें