चमोली हादसे में मरने वालों की संख्या 206 हुई

उत्तराखंड के चमोली में ग्लेशियर टूट कर गिरने से आई बाढ़ में बह कर लापता हो गए 136 लोगों को मरा हुआ मान लिया गया है। हादसे के 17 दिन बाद राज्य सरकार ने इन सभी लापता लोगों को मृत घोषित कर दिया।

चमोली में 12 और शव मिले!

उत्तराखंड के चमोली में पिछले रविवार को ग्लेशियर टूट कर नदी में गिरने से आई बाढ़ में बह गए और एनटीपीसी की सुरंग में फंसे लोगों की तलाश और उन्हें निकालने का अब आठवें दिन भी जारी रहा।

तपोवन में बचाव कार्य जारी

चमोली में ग्लेशियर नदी में गिरने से आई बाढ़ के छह दिन बाद भी बचाव कार्य जारी है। रविवार को हुए हादसे के बाद राहत व बचाव टीम को अब तक 36 शव मिले हैं।

पांचवें दिन भी बचाव कार्य जारी

चमोली में ग्लेशियर गिरने से आई बाढ़ की वजह से एनटीपीसी की सुरंग में फंसे लोगों को निकालने के लिए हादसे के तीसरे दिन भी बचाव अभियान जारी रहा

संपूर्ण मानवता के खिलाफ हिमालयी भूल!

हिमालय की चोटियों पर और उसकी तलहटी में भी कुछ ऐसा हो रहा है, जिसे आंख मूंद कर विकास की होड़ में लगे लोग देख नहीं पा रहे हैं। बार-बार हिमालय की ओर से इसका संकेत भी दिया जा रहा है

चिंता का पहलू दूरगामी है

उत्तराखंड में हुए ताजा हादसे को देखें तो नुकसान के लिहाज से इसे बहुत बड़ी घटना नहीं माना जाता। इसके बावजूद इसकी खबर दुनिया भर में सुर्खियों में छायी हुई है

दो सौ के करीब लोग अब भी लापता

उत्तराखंड के चमोली जिले में ग्लेशियर टूट कर गिरने से आई बाढ़ में बह गए दो सौ के करीब लोग अब भी लापता है। 24 घंटे से ज्यादा बीतने के बाद कुल 30 के करीब लोगों के शव बरामद किए गए हैं

सुरंग में फंसे लोगों को निकालने का अभियान

उत्तराखंड के चमोली जिले में ग्लेशियर टूट कर नदी में गिरने से आई बाढ़ में बह गए लोगों को तलाशने या बचाने का काम 24 घंटे बीतने के बाद भी सोमवार को जारी रहा।

उत्तराखंड में क्षतिग्रस्त सुरंग में मलबा भरा, 170 लापता

उत्तराखंड में चमोली जिले में रविवार को प्राकृतिक ग्लेशियर टूटने से उत्पन्न परिस्थितियों से सोमवार सुबह तक निजात नहीं मिल सकी और अब तक लगभग 170 व्यक्तियों के लापता होने की जानकारी मिली है।

ग्लेशियर टूटा, 170 की मौत का अंदेशा

उत्तराखंड एक और भीषण प्राकृतिक आपदा का शिकार हुआ है। रविवार की सुबह राज्य के चमोली जिले के तपोवन में एक ग्लेशियर टूट कर ऋषिगंगा नदी में गिर गया।

मोदी, शाह कर रहे हैं निगरानी

उत्तराखंड के चमोली में ग्लेशियर टूट कर गिरने से हुए हादसे के बाद के हालात की केंद्र सरकार लगातार निगरानी कर रहा है।

चमोली में भूकंप के झटके

राज्य आपदा प्रबंधन केंद्र के अनुसार चमोली जिले में रविवार तड़के करीब 4 बजकर 26 मिनट पर भूकंप का झटका महसूस किया गया।

और लोड करें