काम आई कांग्रेस नेताओं की चिट्ठी

कांग्रेस पार्टी के 23 नेताओं ने चिट्ठी तो सोनिया और राहुल गांधी पर दबाव बनाने के लिए लिखी थी पर उलटा हो गया। उनकी चिट्ठी सोनिया और राहुल के काम आ गई।

भाजपा के शामिल होने का भी पहलू!

हालांकि कांग्रेस के ज्यादा नेता इस पर यकीन नहीं कर रहे हैं पर बिहार कांग्रेस के एक नेता प्रोफेसर केके तिवारी ने कहा है कि कांग्रेस नेतृत्व को लेकर लिखी गई पार्टी के 23 नेताओं की चिट्ठी के पीछे भाजपा का हाथ है।

चुनाव चाहने वाले खुद चुनाव विरोधी

कांग्रेस पार्टी के 23 नेताओं ने पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी को चिट्ठी लिखी है, जिसमें उन्होंने कई मांगों के साथ साथ एक मांग यह भी रखी है कि प्रखंड स्तर से लेकर कांग्रेस कार्य समिति के सदस्यों तक के चुनाव कराए जाएं।

चिट्ठी लिखने वाले लड़े चुनाव

कांग्रेस पार्टी के अंदर आर-पार की लड़ाई की तैयारी हो रही है। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी के करीबी नेता कमर कस रहे हैं और अगर कार्य समिति की बैठक में चिट्ठी के मुद्दे पर और खास कर उसमें उठाए गए संगठन चुनावों की चर्चा होती है

कांग्रेस नेताओं की चिट्ठी क्या बगावत?

कांग्रेस पार्टी के 23 नेताओं ने पार्टी की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी को एक चिट्ठी लिखी है, जिसमें उन्होंने पार्टी संगठन, संगठन के कामकाज, विचारधारा आदि को लेकर की बातें लिखी हैं।

संसदीय बोर्ड बन जाएगा तो क्या होगा?

कांग्रेस के जिन 23 नेताओं ने सोनिया गांधी को चिट्ठी लिखी है उन पर तंज करते हुए कांग्रेस के एक बडे नेता ने कहा कि अगर उनके सुझाव पर अमल करके संसदीय बोर्ड का गठन कर दिया गया तो क्या हो जाएगा?

राहुल के करीबियों से चिढ़े लोगों की चिट्ठी

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को लिखी चिट्ठी में कांग्रेस के 23 नेताओं के नाम पढ़ कर यह भी लग रहा है कि इनमें से ज्यादातर नेता ऐसे हैं, जो राहुल गांधी के करीबी नेताओं के बढ़ते महत्व से चिढ़े हुए हैं।