Corona update: संक्रमण में रिकार्ड कमी, 24 घंटे में संक्रमितों की संख्या 34 हजार के करीब

नई दिल्ली। कोरोना वायरस के संक्रमितों की संख्या में सोमवार को रिकार्ड गिरावट (corona update record reduction) हुई। एक हफ्ते के बाद केरल में भी 24 घंटे के अंदर 10 हजार से कम संक्रमित मिले। पिछले सोमवार को 24 घंटे में संक्रमितों की संख्या 34 हजार के करीब रही थी। गौरतलब है कि हर सोमवार को संक्रमितों की संख्या औसत से कम होती है क्योंकि रविवार को छुट्टी होने की वजह से टेस्ट के लिए कम सैंपल भेजे जाते हैं। महाराष्ट्र में भी संक्रमितों की संख्या सोमवार को आठ हजार से नीचे रही। दक्षिण भारत के दो राज्यों- कर्नाटक और आंध्र प्रदेश में संक्रमितों की संख्या दो हजार से नीचे रहे। हालांकि तमिलनाडु में नए मरीजों की संख्या दो हजार से ऊपर रही। Corona update: संक्रमण में रिकार्ड कमी, 24 घंटे में संक्रमितों की संख्या 34 हजार के करीब corona update record reduction पिछले सोमवार के बाद से लगातार कोरोना के केसेज में बढ़ोतरी हो रही थी और मंगलवार से लेकर रविवार तक हर दिन संक्रमितों की संख्या 40 हजार के करीब रही। ठीक होने वाले मरीजों की संख्या भी इसी के आसपास रह रही है, इस वजह से एक्टिव मरीजों की संख्या कम होने की रफ्तार घट गई है।… Continue reading Corona update: संक्रमण में रिकार्ड कमी, 24 घंटे में संक्रमितों की संख्या 34 हजार के करीब

Corona update: तीन करोड़ मरीज ठीक हुए, चार लाख से ज्यादा मौतें

नई दिल्ली। कोरोना वायरस के संक्रमितों की संख्या स्थिर होने के बाद अब एक्टिव केसेज की संख्या में कमी आने का सिलसिला धीमा हो गया। इसके बावजूद रविवार को रिकवरी के लिहाज से भारत ने एक अहम पड़ाव पार किया। रविवार को खबर लिखे जाने तक देश में ठीक होने वाले कोरोना मरीजों की संख्या तीन करोड़ के करीब पहुंच गई। देर रात यह संख्या तीन करोड़ ( corona update three crore ) से ज्यादा हो जाएगी। भारत में अब तक कुल तीन करोड़ आठ लाख 70 हजार के करीब लोगों को कोरोना का संक्रमण हुआ है। खबर लिखा जाने तक इनमें से दो करोड़ 99 लाख 97 हजार मरीज ठीक हो गए थे। साढ़े चार लाख लोगों का अब भी अस्पतालों या होम आइसोलेशन में इलाज चल रहा है और चार लाख आठ हजार के करीब लोगों की मौत हुई है। कोरोना वायरस के केस पूरे देश में कम हो रहे हैं और रिकवरी रेट 97 फीसदी से ऊपर पहुंच गई। संक्रमण की दर भी तीन फीसदी से नीचे है इसके बावजूद दो बड़े राज्यों महाराष्ट्र व केरल और पूर्वोत्तर के कम से कम चार राज्यों में कोरोना के हालात काबू में नहीं आ रहे हैं। सप्ताहांत में देश… Continue reading Corona update: तीन करोड़ मरीज ठीक हुए, चार लाख से ज्यादा मौतें

भाजपा राज्यों का वायरस खत्म मॉडल!

BJP States Model Virus: कोरोना वायरस के संक्रमण की दूसरी लहर खत्म नहीं हो रही है। ऐसा लग रहा है कि एक बिंदु पर आकर महामारी अटक गई है। पहली लहर जब खत्म हुई तो एक्टिव केसेज की संख्या एक लाख से काफी नीचे आ गई थी और हर दिन मिलने वाले केसेज की संख्या भी 10 हजार के आसपास आ गई थी। दूसरी लहर में चार लाख के पीक से तो संक्रमितों की संख्या तेजी से घटी लेकिन 40 हजार के आसपास आकर अटक गई है। हर दिन 40 हजार के करीब केसेज आ रहे हैं। दो राज्यों- महाराष्ट्र और केरल में कोरोना बेकाबू हो रहा है। इन दो राज्यों के अलावा तीन चार राज्यों जैसे तमिलनाडु, आंध्र प्रदेश, ओड़िशा, पश्चिम बंगाल आदि में भी केसेज की संख्या उम्मीद के मुताबिक कम नहीं हो रही है। CM Yogi Adityanath ने किया नई जनसंख्या नीति का विमोचन, कहा- समाज में आएगी खुशहाली, सब साथ दें यह संयोग है कि जिन राज्यों में कोरोना के केसेज लगभग पूरी तरह से खत्म हो गए हैं वो सभी भाजपा शासित राज्य हैं और जहां कोरोना थम नहीं रहा है वो सारे गैर भाजपा शासित राज्य हैं। इसलिए केंद्र सरकार को चाहिए कि वह… Continue reading भाजपा राज्यों का वायरस खत्म मॉडल!

Corona Update: दुनिया में बढ़ रहा है कोरोना, सबूत हैं कि महामारी अभी खत्म नहीं हुई

corona update increasing covid case in world : नई दिल्ली। भारत में भले कोरोना वायरस के मामले कम या स्थिर होते दिख रहे हैं पर दुनिया के ज्यादातर हिस्सों में वायरस फैल रहा है। विश्व स्वास्थ्य संगठन, डब्लुएचओ ने कोरोना का संक्रमण तेज होने की पुष्टि की है। डब्लुएचओ की मुख्य वैज्ञानिक सौम्या स्वामीनाथन ने कहा है कि दुनिया के ज्यादातर इलाकों में कोरोना वायरस का संक्रमण बढ़ रहा है। उन्होंने यह भी कहा कि डेल्टा वैरिएंट की वजह से यह फैलाव दिख रहा है। सौम्या स्वामीनाथन ने वायरस के फैलने की पुष्टि करते हुए बहुत स्पष्ट शब्दों में कहा- इस बात के साफ सबूत हैं कि महामारी अभी खत्म नहीं हुई है। एक न्यूज चैनल के दिए इंटरव्यू में सौम्या स्वामीनाथन ने कहा कि कुछ देशों ने वैक्सीनेशन की मदद से संक्रमण के गंभीर मामलों और अस्पताल में भर्ती होने की दर को कम किया है। फिर भी दुनिया के बड़े हिस्से में ऑक्सीजन की कमी और अस्पतालों में बेड्स की कमी हो रही है और साथ ही मृत्यु दर भी ऊंची बनी हुई है। डब्लुएचओ की मुख्य वैज्ञानिक ने शनिवार को बताया कि पिछले 24 घंटों में करीब पांच लाख नए मामले सामने आए हैं। इस दौरान 93… Continue reading Corona Update: दुनिया में बढ़ रहा है कोरोना, सबूत हैं कि महामारी अभी खत्म नहीं हुई

डेढ़ हजार ऑक्सीजन प्लांट लगाए जा रहे हैं

पीएम केयर्स के योगदान वाले पीएसए ऑक्सीजन संयंत्रों से 4 लाख से अधिक ऑक्सीजन युक्त बिस्तर स्थापित करने में मदद मिलेगी प्रधानमंत्री ने अधिकारियों को यह सुनिश्चित करने का निर्देश दिया कि इन संयंत्रों को जल्द से जल्द चालू किया जाए प्रधानमंत्री ने ऑक्सीजन संयंत्रों के संचालन और रखरखाव के बारे में अस्पताल कर्मचारियों को पर्याप्त प्रशिक्षण सुनिश्चित कराने का निर्देश दिया ऑक्सीजन संयंत्रों के कार्य प्रदर्शन और कार्यप्रणाली का पता लगाने के लिए आईओटी जैसी उन्नत तकनीकी स्थापित की जाए: प्रधानमंत्री one and half thousand oxygen plants : नई दिल्ली। कोरोना वायरस की दूसरी लहर धीमी पड़ने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को ऑक्सीजन की उपलब्धता को लेकर एक उच्च स्तरीय बैठक की। उन्होंने ऑक्सीजन का उत्पादन बढ़ाने और अस्पतालों तक इसे पहुंचाने का बंदोबस्त करने के उपायों पर विचार किया। प्रधानमंत्री ने देश में डेढ़ हजार से अधिक पीएसए ऑक्सीजन प्लांट ( one and half thousand oxygen plants ) लगाए जा रहे हैं। इन ऑक्सीजन प्लांट्स के जरिए चार लाख से अधिक ऑक्सीजन बेड को सपोर्ट मिलेगा। प्रधानमंत्री ने कहा कि ये प्लांट्स जल्दी से जल्दी काम करने लगें, इसके लिए जरूरी इंतजाम किए जाएं। शुक्रवार को हुई बैठक के दौरान मेडिकल ऑक्सीजन का उत्पादन और… Continue reading डेढ़ हजार ऑक्सीजन प्लांट लगाए जा रहे हैं

Corona Update: मरने वालों की संख्या चार लाख के पार, छह राज्यों में बढ़ा संक्रमण

नई दिल्ली। कोरोना वायरस के संक्रमण की वजह से देश में मरने वालों की संख्या चार लाख का आंकड़ा पार कर गई है। शुक्रवार को खबर लिखे जाने देश में मरने वालों की कुल संख्या चार लाख 756 हो गई थी। इनमें से ढाई लाख से ज्यादा लोग इस साल अप्रैल में आए संक्रमण की दूसरी लहर में मरे हैं। भारत में सबसे ज्यादा एक लाख 17 हजार के करीब लोग महाराष्ट्र में मरे हैं। हालांकि संक्रमण से मरने वालों की संख्या में तेजी से कमी आई है फिर भी अप्रैल-मई के महीने में जब कोरोना के केसेज पीक पर थे, तब एक दिन में चार हजार तक लोगों की मौत हो रही थी। सात मई के पीक के बाद संक्रमितों की संख्या और मरने वालों की संख्या दोनों घट रही है। इस बीच केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से बताया गया है कि पिछले के मुकाबले इस हफ्ते संक्रमण के मामलों में 13 फीसदी की कमी आई है। हालांकि कुछ हिस्सों में संक्रमण अब भी काबू में नहीं आया है। देश के 71 जिलों में संक्रमण की दर 10 फीसदी से ज्यादा है। स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से शुक्रवार को बताया गया कि महामारी के पीक के वक्त देश… Continue reading Corona Update: मरने वालों की संख्या चार लाख के पार, छह राज्यों में बढ़ा संक्रमण

Vaccination in India: साल अंत तक 188 करोड़ डोज मिलेगी

Vaccination in India 188 crore : नई दिल्ली। केंद्र सरकार ने कोरोना वायरस के टीके की उपलब्धता का अपना अनुमान कम कर दिया है। सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में हलफनामा देकर कहा है कि साल के अंत तक 188 करोड़ डोज उपलब्ध होगी। इससे पहले मई में सरकार ने कहा था कि साल के अंत तक 215 करोड़ डोज उपलब्ध होगी। हालांकि सरकार ने यह भी साफ कर दिया है कि साल के अंत तक सभी व्यस्कों को टीका लगाने के लिए 188 करोड़ डोज की ही जरूरत होगी। इसमें से जुलाई अंत तक राज्यों को 51 करोड़ डोज उपलब्ध करा दी जाएगी और बाकी 135 करोड़ डोज दिसंबर तक मिलेगी। सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में दाखिल हलफनामे में कहा है कि साल के अंत तक देश की पूरी वयस्क आबादी को टीका लगाने के लिए कम से कम पांच निर्माताओं से करीब 188 करोड़ डोज मिलने की उम्मीद है। केंद्र सरकार के मुताबिक अभी तक भारत की लगभग 5.6 फीसदी वयस्क आबादी को कोरोना टीके की दो डोज मिली है, जबकि 20 फीसदी आबादी को कम से कम एक डोज लग चुकी है। दिमाग में फैले ब्लैक फंगस को समाप्त करने के लिये देश में पहली बार बिना चीर-फाड़… Continue reading Vaccination in India: साल अंत तक 188 करोड़ डोज मिलेगी

India Corona Virus Update : तीन करोड़ के पार संक्रमित!

India Corona Virus Update : नई दिल्ली। भारत में कोरोना वायरस के संक्रमितों की संख्या तीन करोड़ का आंकड़ा पार कर गई है। मंगलवार को कोरोना संक्रमितों की कुल संख्या तीन करोड़ से ऊपर निकल गई है। भारत में कोराना संक्रमण का पहला मरीज 30 जनवरी 2020 को मिला था। उसके बाद 17 महीने से लगातार कोरोना महामारी देश में फैली हुई है। कोरोना की दूसरी लहर ज्यादा खतरनाक रही और इस दौरान आखिरी एक करोड़ मरीज सिर्फ 50 दिन यानी दो महीने से भी कम समय में मिले। भारत में दूसरी लहर का पीक सात मई को आया था, जिस दिन देश भर में चार लाख 14 हजार नए मामले मिले थे। यह दुनिया के किसी भी देश में एक दिन में मिले संक्रमितों की सबसे बड़ी संख्या है। अमेरिका में एक दिन में सबसे ज्यादा साढ़े तीन लाख केस आए थे। भारत में सात मई के बाद लगातार नए केसेज में कमी आ रही है और एक्टिव केस भी लगातार कम हो रहे हैं। तीन महीने के बाद पहली बार सोमवार को 50 हजार से कम केस मिले। इसमें भी ज्यादातर केसेज दक्षिण भारत के चार राज्यों के हैं। भारत में संक्रमण की दर कम होकर तीन फीसदी… Continue reading India Corona Virus Update : तीन करोड़ के पार संक्रमित!

Corona Virus Update News : तीन करोड़ के करीब संक्रमित, संक्रमण की दर घट कर तीन फीसदी के करीब

Corona Virus Update News : नई दिल्ली। देश में कोरोना वायरस से संक्रमितों की संख्या तीन करोड़ के करीब पहुंच गई है। अगले एक या दो दिन में यह संख्या तीन करोड़ का आंकड़ा पार कर जाएगी। रविवार को खबर लिखे जाने तक देश में संक्रमितों की संख्या दो करोड़ 99 लाख 31 हजार से ऊपर पहुंच गई थी। इसमें से दो करोड़ 88 लाख 30 हजार से ज्यादा लोग इलाज से ठीक हुए हैं, जबकि तीन लाख 88 हजार से ज्यादा लोगों की मौत हुई है। एक्टिव मरीजों की संख्या अब सात लाख के करीब रह गई है। कोरोना की दूसरी लहर के दौरान एक्टिव केसेज की संख्या बढ़ कर 35 लाख पहुंच गई थी। सात मई के बाद लगातार हर दिन मिलने वाले संक्रमितों की संख्या भी घट रही है और एक्टिव केसेज भी कम हो रहे हैं। देश में संक्रमण की दर घट कर तीन फीसदी के करीब रह गई है। हालांकि देश में 11 राज्य अब भी ऐसे हैं, जहां संक्रमण की दर पांच फीसदी से ऊपर है। इनमें कुछ बड़े राज्य भी हैं। केरल में अब भी संक्रमण की दर 11 फीसदी से ऊपर है। इसके अलावा गोवा, सिक्किम और मेघालय में भी संक्रमण की… Continue reading Corona Virus Update News : तीन करोड़ के करीब संक्रमित, संक्रमण की दर घट कर तीन फीसदी के करीब

सुप्रीम कोर्ट में मोदी सरकार का जवाब : कोरोना से मरने वालों के परिजनों को सरकार मुआवजा नहीं दे सकेगी

Covid Death compensation India नई दिल्ली। केंद्र सरकार ने साफ कर दिया है कि वह कोरोना से मरने वाले हर मरीज के परिजनों को मुआवजा नहीं दे सकती है। कोरोना से मरे लोगों के परिजनों को मुआवजा दिलाने के लिए सुप्रीम कोर्ट में दायर एक याचिका पर केंद्र सरकार ने अपना हलफनामा दायर किया है, जिसमें उसने कहा है कि वह सबको मुआवजा नहीं दे सकती है। केंद्र ने अपने हलफनामे में कहा है कि कोरोना से जिनकी मौत हुई है, उनके परिवारों को सरकार चार लाख रुपए का मुआवजा नहीं दे सकेगी। साथ ही सरकार ने यह भी स्पष्ट किया कि कोरोना से होने वाली हर मौत को कोविड मौत के रूप में दर्ज किया जाएगा। सरकार ने कहा है कि आपदा कानून के तहत अनिवार्य मुआवजा सिर्फ प्राकृतिक आपदाओं जैसे भूकंप, बाढ़ आदि पर ही लागू होता है। सरकार का कहना है कि अगर एक बीमारी से होने वाली मौत पर मुआवजा दिया जाए और दूसरी पर नहीं, तो यह गलत होगा। केंद्र ने 183 पन्नों के अपने हलफनामे में यह भी कहा है कि इस तरह का भुगतान राज्यों के पास उपलब्ध राज्य आपदा मोचन कोष यानी एसडीआरएफ से होता है। अगर राज्यों को हर मौत के… Continue reading सुप्रीम कोर्ट में मोदी सरकार का जवाब : कोरोना से मरने वालों के परिजनों को सरकार मुआवजा नहीं दे सकेगी

कोई चुप कराएगा गुलेरिया को?

वैसे जरूरत तो देश के सभी सरकारी झोलाछाप सलाहकारों को चुप कराने की है लेकिन ज्यादा जरूरत अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान यानी एम्स, दिल्ली के निदेशक डॉक्टर रणदीप गुलेरिया का मुंह बंद कराने की है। कारण यह है कि देश के आम नागरिक या दूरदराज के लोग नीति आयोग नहीं जानते हैं, आईसीएमआर नहीं जानते हैं या उनके लिए प्रधानमंत्री के प्रमुख वैज्ञानिक सलाहकार का कोई भी खास मतलब नहीं है परंतु उनके लिए एम्स, दिल्ली का निदेशक साक्षात ईश्वर का दूसरा रूप है। उसकी कही बात पत्थर की लकीर है। इसलिए एम्स, दिल्ली के निदेशक का कोरोना जैसी महामारी पर गैरजिम्मेदार बयान देना बहुत घातक हो सकता है। अगर एम्स का निदेशक कहता है कि डेढ़-दो महीने में ही कोरोना वायरस की तीसरी लहर आएगी तो लोग उस पर यकीन करेंगे। उसकी बात लोगों को वास्तविक रूप से चिंता में डाल सकती है। उन्हें अवसाद से भर सकती है। जीवन के प्रति निराशा से भर सकती है। आर्थिक गतिविधियों पर ब्रेक लगा सकती है। यह भी पढ़ें: वित्त मंत्री के दावे और हकीकत यह हैरान करने वाली बात है कि डॉक्टर गुलेरिया ने कोरोना वायरस की दूसरी लहर खत्म होने से पहले ही लोगों को डराने वाला यह बयान… Continue reading कोई चुप कराएगा गुलेरिया को?

सच सामने आता ही है

कोर्ट की पहल पर बनी कमेटियों को मौतों का सही आकलन करने का काम दिया गया। इन्हीं समितियों की रिपोर्ट को अब जारी किया गया है। सवाल है कि क्या ऐसा प्रयास सारे देश में नहीं होना चाहिए? ये बात आखिर सरकारों को कब समझ में आएगी कि सच देर सबेर सामने आ ही जाता है? तो अब बिहार में ये सरकार ने भी मान लिया कि कोरोना काल में मौतों के आंकड़े वहां दबाए गए। वहां मृतकों की संख्या में अब आधिकारिक रूप से बढ़ोतरी कर दी गई है। अब सूरत यह है कि पहले गलत आंकड़ों के सहारे कोरोना से 0.76 प्रतिशत मौत के साथ बिहार देश में 16वें स्थान पर था। बीते हफ्ते संशोधित आंकड़ों के मुताबिक राज्य में मौत की दर 1.07 फीसद हो गई है। अब तक यहां कोरोना महामारी से 9,375 लोगों की जान जा चुकी है, जबकि पहले सात जून तक 5424 लोगों की मौत बताई जा रही थी। आंकड़ो में संशोधन का तात्पर्य यह है कि 72.84 प्रतिशत मौतों से राज्य सरकार अनजान थी या जानबूझ कर अनजान बनी हुई थी। ये जो बिहार की कहानी है, वह सारे देश की है। कोरोना महामारी की दूसरी लहर में कुछ गुजराती और हिंदी… Continue reading सच सामने आता ही है

टूटती उम्मीदों की कथा

भारत में कोरोना महामारी की दूसरी लहर ने डगमग अर्थव्यवस्था को एक तरह से अंधकार में धकेल दिया है। बैंको से निजी कर्ज लेने वालों, क्रेडिट कार्ड से कर्ज लेने वालों और प्राइवेट कंपनियों से गोल्ड लोन लेने वालों के डिफॉल्ट में पिछले महीने हुई बढ़ोतरी बढ़ती जा रही तबाही का संकेत देती है। रोजमर्रा के उपयोग की चीजें का बाजार जिस तरह अप्रैल और मई में ढहा है, उसका भी यही संकेत है कि भारत दुर्दशा अकथनीय रूप लेती जा रही है। दरअसल, ऐसी कहानी दुनिया भर में देखने को मिल रही है। इसलिए फिलहाल ऐसी भी कोई उम्मीद नहीं है कि वैश्विक अर्थव्यवस्था की मजबूती भारत को संभाल लेगी। मसलन, अंतरराष्ट्रीय श्रम संगठन (आईएलओ) की ताजा रिपोर्ट गौरतलब है। उसमे बताया गया है कि वैश्विक संकट के कारण 2022 तक बेरोजगारों की संख्या बढ़कर 20 करोड़ 50 लाख हो जाएगी। गरीबों की संख्या में बढ़ोतरी होने के साथ-साथ विषमता भी बढ़ेगी। आईएलओ का कहना है कि रोजगार के अवसरों में होने वाली बढ़ोतरी साल 2023 तक इस नुकसान की भरपाई नहीं कर पाएगी। ये सूरत तब की है, जब अभी पता नहीं है कि कोरोना महामारी के अभी आगे और कितने दौर आएंगे। हर दौर नई समस्याएं पैदा… Continue reading टूटती उम्मीदों की कथा

Corona Update: छह राज्यों में संक्रमण की चिंता, टीके के बावजूद इस वैरियंट से खतरा

नई दिल्ली। कोरोना वायरस का संक्रमण लगभग पूरे देश में एक समान रूप से कम हो गया है लेकिन छह राज्यों में हर दिन मिलने वाले संक्रमितों की संख्या और संक्रमण की दर चिंता की बात है। देश में सर्वाधिक संक्रमित महाराष्ट्र और दक्षिण भारत के चार राज्यों के साथ साथ पश्चिम बंगाल को लेकर चिंता बनी हुई है। ओड़िशा में भी हर दिन मिलने वाले संक्रमितों की संख्या औसत से काफी ज्यादा है। अगर संख्या के लिहाज से देखें तो देश में गुरुवार को मिले कुल मामलों में करीब 80 फीसदी मामले इन छह-सात राज्यों के ही हैं। मरने वालों की संख्या में भी सबसे ज्यादा हिस्सा इन राज्यों का है। ओड़िशा में हालांकि मृत्यु दर बाकी राज्यों से कम है। बुधवार को अचानक देश में संक्रमण से मरने वालों की संख्या छह हजार से ज्यादा हो गई। ऐसा बिहार की वजह से हुआ, जिसने अपने यहां मरने वालों का आंकड़ा एडजस्ट किया था। यानी पहले जिन मौतों की संख्या नहीं जोड़ी गई थी उन्हें जोड़ा गया। इसलिए बिहार में बुधवार को अचानक 3,951 मौतों की खबर आई। पिछले कई दिनों तक महाराष्ट्र ने भी अपने यहां पहले हुई मौतों की संख्या को ताजा आंकड़ों में एडजस्ट किया। बुधवार… Continue reading Corona Update: छह राज्यों में संक्रमण की चिंता, टीके के बावजूद इस वैरियंट से खतरा

Corona Update: दस राज्यों में 85 फीसदी मामले, सबसे ज्यादा केस तमिलनाडु और केरल

नई दिल्ली। कोरोना वायरस के संक्रमण की दूसरी लहर अब काफी हद तक धीमी पड़ गई है। हालांकि अब भी पहली लहर के पीक के बराबर केसेज आ रहे हैं पर यह अच्छी बात है कि लगातार तीन दिन से देश में नए संक्रमितों की संख्या एक लाख से नीचे रह रही है। मरने वालों की संख्या भी धीरे-धीरे काबू में आ रही है। अब देश में कोरोना वायरस की महामारी 10 राज्यों में मुख्य रूप से दिख रही है और वहीं इसे काबू करने का अभियान चल रहा है। देश में अब कोरोना वायरस के 11 लाख के करीब एक्टिव केस बचे हैं, जिसमें 85 फीसदी मामले इन 10 राज्यों में हैं। इनमें दक्षिण भारत के तेलंगाना को छोड़ कर चारों राज्य शामिल हैं। रोजाना संक्रमण के लिहाज से अब सबसे ज्यादा केस तमिलनाडु और केरल में आ रहे हैं। कर्नाटक और आंध्र प्रदेश में हालात तेजी से सुधर रहे हैं। फिर भी देश में हर दिन मिलने वाले नए केसेज में 50 फीसदी से ज्यादा केस दक्षिण के चार राज्यों- तमिलनाडु, केरल, कर्नाटक और आंध्र प्रदेश में मिल रहे हैं। इनके अलावा ओड़िशा में भी संक्रमण की दर अभी काफी ऊंची है। महाराष्ट्र में 24 घंटे में मिलने… Continue reading Corona Update: दस राज्यों में 85 फीसदी मामले, सबसे ज्यादा केस तमिलनाडु और केरल

और लोड करें