दिल्ली में खुली अदालत में सुनवाई शुरू

कोरोना वायरस के संक्रमण की वजह से बंद कर दी गई खुली अदालत की सुनवाई दिल्ली में शुरू हो गई है। दिल्ली हाई कोर्ट की पांच बेंचों ने मंगलवार को बारी-बारी से खुली अदालत में सुनवाई शुरू की।

निगम शिक्षकों का वेतन शीघ्र जारी किया जाए: हाईकोर्ट

दिल्ली उच्च न्यायालय ने नगर निगम शिक्षकों और कर्मचारियों के वेतन मामले में उत्तरी दिल्ली नगर निगम के शपथ पत्र पर असंतुष्ट जाहिर करते हुए कहा है कि यह

कोर्ट ने शाहरुख की पुलिस हिरासत तीन दिन बढ़ाई

दिल्ली हिंसा के दौरान पुलिस हेड कांस्टेबल के ऊपर पिस्टल तानने वाले शाहरुख को दिल्ली न्यायालय ने आज तीन दिन के लिए पुलिस हिरासत बढ़ाई।

पीड़िता के पिता की हत्या में कुलदीप सेंगर दोषी करार

नई दिल्ली। दिल्ली की एक अदालत ने उन्नाव दुष्कर्म पीड़िता के पिता की पुलिस हिरासत में मौत के मामले में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) से निष्कासित पूर्व विधायक कुलदीप सिंह सेंगर तथा चार अन्य को दोषी करार दिया है। दुष्कर्म पीड़िता के पिता की मौत नौ अप्रैल, 2018 को पुलिस हिरासत में हो गई थी। सेंगर ने 2017 में कथित रूप से महिला का अपहरण कर दुष्कर्म किया था, जब वह नाबालिग थी। कोर्ट ने पिछले साल 20 दिसंबर को सेंगर को लड़की के दुष्कर्म के आरोप में जेल भेज दिया था। दुष्कर्म की शिकायत हालांकि तब दर्ज की गई थी जब पीड़िता ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के लखनऊ स्थित आधिकारिक आवास के बाहर आत्महत्या करने की कोशिश की थी। सेंगर के भाई अतुल सेंगर ने पीड़िता के पिता की पिटाई की थी, जिसके बाद पीड़िता ने यह कदम उठाया था। जुलाई 2018 में दाखिल आरोप पत्र के अनुसार, पीड़िता के पिता अपने एक साथी के साथ गांव लौट रहे थे, और उसी दौरान शशि प्रताप सिंह नामक एक व्यक्ति ने उनसे लिफ्ट मांगा। लेकिन उन्होंने इंकार कर दिया, जिसके बाद दोनों पक्षों में विवाद हो गया। इसके बाद सिंह ने अपने साथियों को बुलाया, जिनमें सेंगर का भाई अतुल… Continue reading पीड़िता के पिता की हत्या में कुलदीप सेंगर दोषी करार

गुड़िया गैंगरेप के आरोपी दोषी करार

नई दिल्ली। निर्भया सामूहिक बलात्कार और हत्याकांड के दोषियों को फांसी की सजा देने की तैयारियों के बीच दिल्ली को दहलाने वाले एक और बलात्कार कांड में अदालत का फैसला आ गया है। दिल्ली की एक पोक्सो अदालत ने पूर्वी दिल्ली में 2013 में पांच साल की बच्ची से सामूहिक बलात्कार के मामले में दो आरोपियों को शनिवार को दोषी ठहराया। दोनों की सजा पर 30 जनवरी को फैसला होगा। अदालत ने दोनों आरोपियों को दोषी बताते हुए कहा कि इस मामले ने समाज की सामूहिक चेतना को झकझोर दिया था। अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश नरेश कुमार मल्होत्रा ने आरोपियों- मनोज साह और प्रदीप कुमार को दोषी ठहराया और कहा कि महज पांच साल की बच्ची को काफी अनैतिकता व बेहद क्रूरता बरदाश्त करनी पड़ी। गौरतलब है कि साह और कुमार ने 15 अप्रैल 2013 को गांधीनगर इलाके में लड़की से बलात्कार किया था और उसके निजी अंगों में वस्तुएं डाल दीं। अपराध करने के बाद दोषियों ने पीड़िता को मनोज के कमरे में मृत समझ कर छोड़ दिया और वहां से फरार हो गए। बच्ची को 40 घंटे बाद 17 अप्रैल 2013 को बचाया गया। पोक्सो अदालत ने फैसला सुनाते हुए कहा- घटना ने समाज की सामूहिक चेतना को झकझोर… Continue reading गुड़िया गैंगरेप के आरोपी दोषी करार

कोर्ट आज सुनाएगा ‘छपाक’ पर फैसला

‘छपाक’ फिल्म में उचित श्रेय न मिलने पर वकील अपर्णा भट्ट द्वारा फिल्मकार पर दायर शिकायत पर दिल्ली कोर्ट ने आज अपना फैसला सुरक्षित रख लिया।

सीलमपुर हिंसा : दिल्ली अदालत दो आरोपियों को चिकित्सीय आधार पर अंतरिम जमानत दी

नई दिल्ली। दिल्ली की एक अदालत ने सीलमपुर में संशोधित नागरिकता कानून (सीएए) के खिलाफ हिंसक प्रदर्शन के मामले में दो आरोपियों को मेडिकल आधार पर मंगलवार को अंतरिम जमानत दे दी। अतिरिक्त न्यायाधीश बृजेश गर्ग ने यूसुफ अली और मोइनुद्दीन को तीन हफ्ते के लिए जमानत दी है। उन्हें 20-20 हजार रुपये का मुचलका और इतनी ही राशि की जमानत देनी होगी। अदालत ने उन दोनों से कहा कि जेल से रिहाई के बाद वे अपना राममनोहर लोहिया अस्पताल में अपनी जांच और उपचार कराएं। अदालत ने इसके साथ ही मामले को अंतिम निपटारे के लिए 21 जनवरी को सूचीबद्ध कर दिया। अली के वकीलों के मुताबिक, वह ‘हाइपोथायरायडिज्म’ नाम की बीमारी से पीड़ित है जिस वजह से उसे मंडोली जेल में दौरे पड़ रहे हैं। मोइनुद्दीन ने इस आधार पर जमानत देने की गुजारिश की थी कि हिंसक प्रदर्शन के दौरान कथित रूप से हाथ में लगी चोट की तत्काल सर्जरी करानी है। उसके वकील के अनुसार, उसे चोट कथित रूप से लाठीचार्ज की वजह से लगी है, लेकिन पुलिस ने दलील दी है, वह प्रदर्शन के दौरान कथित रूप से पेट्रोल बम फेंकने के दौरान जख्मी हुआ है। इसे भी पढ़ें : दिल्ली के रैनबसेरों में बिस्तर… Continue reading सीलमपुर हिंसा : दिल्ली अदालत दो आरोपियों को चिकित्सीय आधार पर अंतरिम जमानत दी

और लोड करें