जर्मनी की चांसलर एंजेला मर्केल ने द्वारका सेक्टर 21 मेट्रो स्टेशन का दौरा किया

नई दिल्ली। उनके साथ जर्मनी की खाद्य एवं कृषि मंत्री जूलिया कलोक्नर भी थी। यह संयंत्र पिछले पांच वर्षों से काम कर रहा है और इसने अब तक 33 लाख बिजली यूनिट पैदा की है और इस संयंत्र से इस स्टेशन की 35 फीसद ऊर्जा जरूरतें पूरी हो रही है। यह संयंत्र भारत और जर्मनी के बीच नवीकरणीय ऊर्जा के क्षेत्र में हुए समझौते का यह सबसे बेहतर उदाहरण है। डीएमआरसी ने 500 किलोवाट पावर क्षमता वाले सौर ऊर्जा के इस संयंत्र को इस मेट्रो स्टेशन पर 2014 में स्थापित किया था। इससे पहले जर्मनी की जीआईजे कंपनी ने इस संबंध में एक व्यावहार्यता रिपोर्ट तैयार की थी। इस संबंध में दोनों देशों के बीच अक्टूबर 2012 में एक सहमति पत्र पर हस्ताक्षर किए गए थे। इस सौर ऊर्जा पायलट प्रोजेक्ट को भारतीय सौर ऊर्जा निगम के सहयोग से क्रियांवित किया गया था और इसके बाद अनेक स्थानों पर भवनों और इमारतों की छतों पर कईं सौर ऊर्जा संयंत्र स्थापित करने का मार्ग प्रशस्त हो गया था। इस समय तक राजधानी दिल्ली और राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में अनेक ऐसे संयंत्र लगाए जा चुके हैं और इनसे 32.4 मेगावाट बिजली का उत्पादन हो रहा है। इस तरह की परियोजनाओं से मेट्रो… Continue reading जर्मनी की चांसलर एंजेला मर्केल ने द्वारका सेक्टर 21 मेट्रो स्टेशन का दौरा किया

और लोड करें