Highcourt ने कहा था- कपड़ों के उपर से स्तन छूना उत्पीड़न नहीं, SC बोला तब तो दस्ताने पहने शख्स…

सुनवाई के दौरान अटॉर्नी जनरल केके वेणुगोपाल ने कहा कि यदि कोई व्यक्ति सर जारी कल दस्ताने की जोड़ी पहनकर महिला के शरीर से छेड़छाड़ करता है तो उस फैसले के अनुसार तो वे यौन उत्पीड़न का दोषी नहीं कहा जाएग

हद हो गई ! अब स्कूलोें को खुलवाने के लिए देश की सर्वोच्च अदालत पहुंचा 12वीं का छात्र

ऑनलाइन क्लास करते हुए परेशान होकर एक 12वीं के छात्र ने सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाने का फैसला कर लिया है.

SC ने उत्तर प्रदेश के अधिकारी से कहा आप के आंख, नाक, कान से भ्रष्टाचार टपकता है…

सुप्रीम कोर्ट में उत्तर प्रदेश की योगी सरकार पर कल एक सुनवाई के दौरान कड़ी की की की. सुप्रीम कोर्ट ने यूपी सरकार के एक अधिकारी से कहा कि आप चारों ओर से भ्रष्टाचार में लिप्त है. ऐसा लगता है कि आप सरकार नहीं चला रहे हैं बल्कि एक प्रमोटर (बिल्डर) की तरह कार्य कर रहे हैं.

पत्नी के 72 टुकडे़ कर डीफ्रीजर में छुपाने वाले आरोपी को जमानत देने से उच्च न्यायालय का इनकार

उत्तराखंड की अस्थायी राजधानी देहरादून में 17 अक्टूबर, 2010 को अनुपमा गुलाटी की निर्ममतापूर्वक हत्या कर दी गयी थी. अनुपमा के शव के 72 टुकड़े कर शव को डीफ्रीजर में छुपा दिया गया था.

दर्दनाक : मां बनने के लिए कोर्ट पहुंची थी पत्नी, शुक्राणु एकत्रित करने के अगले ही दिन हुई संक्रमित व्यक्ति की मौत

महिला का पति पिछले कई महीनों से कोरोना से संक्रमित था और उसके शरीर के अंगों ने धीरे-धीरे काम करना बंद कर दिया था. ड़ॉक्टरों ने भी पहले ही बता दिया था कि मरीज के बचने की उम्मीद ना के बराबार है.

केरल की सीएम ने बकरीद मनाने के लिए दी थी 3 दिनों की छूट, अब SC ने राज्य सरकार से मांगी रिपोर्ट, कांवड़ यात्रा की अनुमति भी नहीं

नयी दिल्ली | SC seeks report to Kerala Govt: देश में अभी भी कोरोना की दूसरी लहर का असर खत्म नहीं हुआ है. पीएम मोदी ने भी 2 दिनों पहले ही 8 राज्यों के सीएम से हो रही बैठक के दौरान केरल और पुर्वोत्तर राज्यों के बढ़ते संक्रमण पर चिंता व्यक्त की थी. इसी बीच सूचना मिली थी कि केरल में बकरीद के त्योहार को देखते हुए 3 दिनों की छूट दी गई है. इस संंबंध में देश की सर्वोच्च न्यायालय में एक याचिका दायर की गई थी. आज इस पर सुनवाई करते हुए उच्चतम न्यायालय ने केरल सरकार को सोमवार को निर्देश दिया कि वह आगामी बकरीद के त्योहार के मद्देनजर राज्य में तीन दिन के लिये कोविड-19 संबंधी पाबंदियों में छूट देने के खिलाफ दायर आवेदन पर आज ही अपना जवाब दे. Supreme Court takes on record the Uttar Pradesh government’s statement that it has decided to cancel the Kanwar Yatra this year and closes the case it took as suo moto against UP’s decision to hold Kanwar Yatra amid COVID-19. pic.twitter.com/wu7uNcMHho — ANI (@ANI) July 19, 2021 मंगलवार को होगी सुनवाई SC seeks report to Kerala Govt: यह मामला न्यायमूर्ति आर एफ नरीमन और न्यायमूर्ति बी आर… Continue reading केरल की सीएम ने बकरीद मनाने के लिए दी थी 3 दिनों की छूट, अब SC ने राज्य सरकार से मांगी रिपोर्ट, कांवड़ यात्रा की अनुमति भी नहीं

सुप्रीम कोर्ट का बड़ा फैसला कोरोना से हुई मौतों पर मिलेगा मुआवजा, कहा- राशि केंद्र सरकार तय करे

नई दिल्ली | Supreme Court On compensation : मुआवजे को लेकर सुप्रीम कोर्ट में चल रही सुनवाई के दौरान एक बड़ा फैसला सामने आया है. सुप्रीम कोर्ट ने भारत सरकार को कोरोना से मौत पर मुआवजा देने का निर्देश दिया है. इस संबंध में सुप्रीम कोर्ट के जस्टिस अशोक भूषण की अध्यक्षता वाली पीठ ने स्पष्ट किया है कि सुप्रीम कोर्ट कोई मुआवजा की राशि तय नहीं कर सकता. उन्होंने कहा कि इस मामले में भारत सरकार को ही राशि की घोषणा करनी होगी और इसके लिए संसाधनों के हिसाब से राहत नीति पर ध्यान देते हुए केंद्र सरकार राशि की घोषणा करे. इसके लिए केंद्र सरकार ने सुप्रीम कोर्ट को 6 हफ्तों का समय दिया है. सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि राशि तय करने के लिए नेशनल डिजास्टर मैनेजमेंट अथॉरिटी कोई निर्णय ले सकती है. 4 लाख मुआवजे की थी मांग Supreme Court On compensation : बता दें कि कोरोना से मौत के मामले में याचिकाकर्ताओं ने ₹400000 मुआवजे की मांग की थी. हालांकि 4 लाख के मुआवजे की मांग को सुप्रीम कोर्ट ने खारिज कर दिया. इस मांग पर केंद्र सरकार ने भी अपना स्पष्ट रुख रखा था. केंद्र सरकार का कहना था कि इतना मुआवजा दे… Continue reading सुप्रीम कोर्ट का बड़ा फैसला कोरोना से हुई मौतों पर मिलेगा मुआवजा, कहा- राशि केंद्र सरकार तय करे

Bullet Train Project: विस्थापत झुग्गी झोपड़ी में रहने वाले लोग पहुंचे कोर्ट, कहा-मौखिक आश्वासन के बाद घर खाली करने का दिया नोटिस…

Bullet Train Project: विस्थापत झुग्गी झोपड़ी में रहने वाले लोग पहुंचे कोर्ट, कहा-मौखिक आश्वासन के बाद…

5G टेक्नोलॉजी के खिलाफ जूही चावला की याचिका पर कोर्ट में हो रही थी सुनवाई और अचानक गूंजने लगा- घूंघट की आड़ में दिलवर का…

मुंबई | 5G टेक्नोलॉजी के खिलाफ जूही चावला ने याचिका दायर की है जिसकी पहली सुनवाई आज बुधवार को हाईकोर्ट में हुई. जूही चावला के वकील की पूरी बात सुनने के बाद हाईकोर्ट ने मामले पर फैसला सुरक्षित रख लिया. इसके साथ हाईकोर्ट ने पूछा कि क्या   आप ने कोर्ट आने से पहले इस मामले को लेकर केंद्र सरकार या राज्य सरकार से बात की थी. लेकिन कोर्ट में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के द्वारा हो रही सुनवाई के दौरान एक अजीबोगरीब वाकया देखने को मिला. जानकारी के अनुसार कोर्ट में मौजूद कोई व्यक्ति सुनवाई के दौरान जूही चावला पर फिल्माया गया गाना- घूंघट की आड़ में दिलवर का…. गुनगुना रहा था. हाईकोर्ट ने दिए शख्स की पहचान के आदेश अनजान व्यक्ति के बार-बार गाना गुनगुनाए जाने से कोर्ट की कार्यवाही भी थोड़ी देर के लिए बाधित हुई. सुनवाई के दौरान गाना गाने के क्रम में कोर्ट ने कई बार इसे बंद करने के लिए कहा लेकिन अनजान व्यक्ति गाना गुनगुनाता रहा. इसके बाद कोर्ट में थोड़ी देर के लिए शांति(mute) कर दी गई ताकि उस अनजान व्यक्ति की पहचान हो सके लेकिन उसकी पहचान तो नहीं की जा सके, लेकिन उसके बाद कार्रवाई लगातार आगे बढ़ती रही. इस प्रकरण पर कोर्ट… Continue reading 5G टेक्नोलॉजी के खिलाफ जूही चावला की याचिका पर कोर्ट में हो रही थी सुनवाई और अचानक गूंजने लगा- घूंघट की आड़ में दिलवर का…

CBSE  12th Exam 2021:शिक्षा मंत्री के भर्ती होने के बाद, CBSE की 12वीं परीक्षा की जानकारी के लिए अब करना होगा 3 जून तक का इंतजार

देश में कोरोना के दौरान होने वाली CBSE की 12वीं परीक्षा को एक बार फिर से संशय बरकरार है. उम्मीद की जा रही थी आज CBSE की परीक्षा को लेकर आवश्यक जानकारियां साझा कर दी जायेंगी.

Supreme Court ने केंद्र सरकार पर लगाई सवालों की झड़ी, जानें क्या थे सवाल

New Delhi: कोविड मामले की सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई के दौरान केंद्र सरकार से कई कठोर सवाल किये जा रहे हैं. सुप्रीम कोर्ट ने सवाल पूछा आखिर केंद्र सरकार 100 प्रतिशत वैक्सीन क्यों नहीं खरीद रही है. एक हिस्सा खरीद कर बाकी बेचने के लिए वैक्सीन निर्माता कंपनियों को क्यों स्वतंत्र कर दिया गया है? कोर्ट ने कहा कि वैक्सीन विकसित करने में सरकार का भी पैसा लगा है. इसलिए, यह सार्वजनिक संसाधन है. सुप्रीम कोर्ट के जस्टिस चंद्रचूड़ ने सुनवाई करते हुए कहा कि ऐसा नहीं है कि हम सरकार की सिर्फ आलोचना कर रहे हैं. पता है कि पिछले 70 सालों में बहुत कुछ नहीं हो पाया. लेकिन इस आपातकालीन स्थिति में अभी बहुत काम करने की जरूरत है. इसपर सॉलिसीटर ने कहा, सरकार इस सुनवाई को सही रूप में ही ले रही है. इस समय बहुत ही गंभीर स्थिति है. कोर्ट ने पूछा निरक्षर काैसे करेंगे  कोविन ऐप का इस्तेमाल सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि लोगों को सही और उचित कीमत पर इलाज मिल सके, यह सुनिश्चित करना जरूरी है. जो लोग स्वास्थ्य सेवा में लगे हैं, उनकी सुरक्षा जरूरी है. जस्टिस चंद्रचूड़ ने कहा, ‘हम यह साफ करना चाहते हैं कि अगर लोग सोशल मीडिया पर… Continue reading Supreme Court ने केंद्र सरकार पर लगाई सवालों की झड़ी, जानें क्या थे सवाल

पवित्र कुरान से 26 आयतों को हटाने पर SC में  सुनवाई आज, मुस्लिम समाज में है वसीम रिजवी के खिलाफ आक्रोश

New Delhi :  उत्तर प्रदेश में एक बार फिर से धार्मिक विवाद चरम पर है. हालांकि इस बार मामला धर्म के अंदर का ही है. मतलब ये कि इस धार्मिक विवाद में दूसरे धर्म का कोई लेना देनी नहीं है. यूपी शिया वक्फ बोर्ड के पूर्व चेयरमैन वसीम रिजवी की एक याचिका से इस बार ये माखौल खड़ा हो गया है. रिजवी ने  पवित्र कुरान से 26 आयतें हटाने की मांग को लेकर SC का दरवाजा खटखटाया है. इसके बाद से यूपी में तनाव अपने चरम पर है. इस बाबत वसीम रिजवी का कहना है कि वे बचपन से इस देश में रह रहे हैं- ऐसे में देश के प्रति उनकी भी कुछ जिम्मेवारी बनती है . उन्होंने कहा कि पवित्र कुरान की  कुछ आयतों से  आतंकवाद को बढ़ावा मिल रहा है. इसलिए उन्होंने ये याचिका दर्ज की है. क्यों हटाना चाहतें हैं  26 आयतें वसीम का कहना है कि  पवित्र कुरान की  26 आयतों से आतंकवाद को बढावा मिलता है. उनका कहना है कि  इन 26 आयतों से कट्टरता को भी बढावा मिलता है. ऐसे में इन्हें बच्चों को दी जाने वाली तालिम से हटा दिया जाना चाहिए. उन्होंने ये भी दावा है कि ये 26 आयतें कुरान में… Continue reading पवित्र कुरान से 26 आयतों को हटाने पर SC में  सुनवाई आज, मुस्लिम समाज में है वसीम रिजवी के खिलाफ आक्रोश

दौसा में आनर किलिंग : प्रेम विवाह के लिए गई पुत्री की हत्या

जयपुर ।  राजस्थान के दौसा में एक युवती को लव मैरेज की चाहत इतनी महंगी पड़ी कि उसे जान ही गंवानी पड़ी। यहां पिता ने ही अपनी लाडली की हत्या कर दी. इतना ही नहीं हत्या करने के बाद उसने थाने जाकर आत्मसमर्पण भी कर दिया. कोर्ट के आर्डर के बाद भी इस कपल को पुलिस ने कोई सुरक्षा नहीं पहुंचाई. इस वारदात के बाद पुलिस के इकबाल पर सवाल खड़े हुए हैं. यह है मामला दौसा में रहने वाले शंकर लाल सैनी की बालिग बेटी पिंकी ने अपने पसंद के लड़के से शादी करना चाहती थी. इसके लिए 21 फरवरी के दिन वह अपने घर से कथित प्रेमी के साथ भाग गयी. जिसके बाद पिता ने लोकल थाने में बेटी के अपहरण का केस भी दर्ज किया था. लेकिन इन सबके बाद पिंकी के घर वाले ही उसके दुश्मन बन गये थे. इस जोड़े को शुरु से ही अंदाजा था कि उनकी जान को खतरा है. इसे देखते हुए 26 फरवरी को उन्होंने हाईकोर्ट में अपनी सुरक्षा के लिए अर्जी भी दे दी थी इसके बाद कोर्ट ने याचिका पर सुनवाई करते हुए स्थानीय प्रशासन को याचिकाकर्ताओं के अनुसार उन्हें सुरक्षित स्थान पर ले जाने के आदेश भी दिये… Continue reading दौसा में आनर किलिंग : प्रेम विवाह के लिए गई पुत्री की हत्या

विपक्ष में रहने पर भी सुनवाई और कार्रवाई का काम जारी रखूंगा : तेजस्वी

राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के नेता तेजस्वी यादव ने आज बिहार सरकार को चेतावनी देते हुए कहा कि वह भले ही विपक्ष में हों, लेकिन चुनाव के समय किया गया वादा ‘पढ़ाई, दवाई, सिंचाई, कमाई, सुनवाई और कार्रवाई’ के सिद्धांत पर काम कर रहे हैं।

ट्रैक्टर रैली में अदालत का दखल नहीं

सुप्रीम कोर्ट ने गणतंत्र दिवस पर राजधानी दिल्ली में किसान यूनियनों के निकाले जाने वाली ट्रैक्टर रैली पर रोक लगाने की दिल्ली पुलिस की अर्जी पर सुनवाई करने से इनकार कर दिया है।

और लोड करें