गहलोत एवं कांग्रेस विधायकों ने होटल में मनाया रक्षाबंधन

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत एवं कांग्रेस विधायकों ने आज यहां होटल में रक्षाबंधन का पर्व मनाया। होटल में ही विधायक एकत्र हुए और महिला विधायकों ने राखी बांधी।

फरीदाबाद के होटल से निकल भागा विकास दुबे, 3 सहयोगी गिरफ्तार

कानपुर में आठ पुलिसकर्मियों की हत्या का मुख्य आरोपी उत्तर प्रदेश का मोस्ट वॉन्टेड गैंगस्टर विकास दुबे कथित रूप से कल हरियाणा के फरीदाबाद के एक होटल में देखा गया।

मुंबई के होटल में लगी आग, 25 डॉक्टरों को बचाया गया

दक्षिण मुंबई के एक पांच मंजिला होटल में भयंकर आग लगने के बाद उसमें रह रहे 25 डॉक्टरों और दो अन्य लोगों को बचाया गया।

कोरोना: सोनू सूद ने मेडिकल स्टाफ के लिए अपने जुहू होटल की पेशकश की

अभिनेता सोनू सूद ने कोरोना वायरस महामारी के बढ़ते प्रकोप के बीच डॉक्टर, नर्स और पैरा मेडिकल स्टाफ के लिए रहने के लिए अपने जुहू के होटल की पेशकश की है।

रोनाल्डिन्हो को होटल में नजरबंद रखने का आदेश

पराग्वे के एक जज ने ब्राजील के दिग्गज फुटबालर रोनाल्डिन्हो और उनके भाई को पुलिस हिरासत से रिहा करने और आसुनसियोन के एक होटल में नजरबंद रखने का आदेश दिया

मप्र में कौन खेल रहा है कच्ची गोटियां?

मध्य प्रदेश में एक बार फिर कमलनाथ की सरकार को अस्थिर करने का प्रयास हो रहा है। खबर है कि कांग्रेस के कुछ विधायकों को दिल्ली से सटे मानेसर के एक होटल में रखा गया था। कांग्रेस की सरकार को समर्थन देने वाले सपा और बसपा के भी एक-एक विधायक को होटल में रखे जाने की खबर थी। कुछ विधायकों ने खुल कर कहा है कि उनको भाजपा की ओर से रुपए और मंत्री पद का ऑफर मिला है। कांग्रेस के विधायक मध्य प्रदेश भाजपा के नेताओं के नाम लेकर बता रहे हैं उनको किसकी तरफ से पैसे और मंत्री पद का प्रस्ताव दिया जा रहा है। इससे पहले दिग्विजय सिंह ने बताया था कि सरकार को अस्थिर करने के लिए कांग्रेस विधायकों को खरीदने का प्रयास हो रहा है। कांग्रेस नेताओं का दावा है कि उन्होंने भाजपा के प्रयास को फेल कर दिया है। होटल में रखे गए ज्यादातर विधायक फिर से कांग्रेस खेमे में लौट आए हैं। सवाल है कि भाजपा के नेता ऐसा प्रयास कैसे कर रहे हैं, जो सफल ही नहीं हो रहा है? इतनी कच्ची गोटियां कौन चल रहा है? या मध्य प्रदेश भाजपा के नेताओं में बीएस येदियुरप्पा की तरह दम नहीं है, जो… Continue reading मप्र में कौन खेल रहा है कच्ची गोटियां?

कांग्रेस विधायकों की ही खरीद क्यों होती है?

मध्य प्रदेश के सियासी घटनाक्रम से यह सनातन सवाल फिर उठा है कि आखिर खरीद-फरोख्त सिर्फ कांग्रेस पार्टी के विधायकों की या कांग्रेस को समर्थन देने वाली समाजवादी प्रकृति की पार्टियों के विधायकों की ही क्यों होती है? अगर कांग्रेस की बात पर यकीन करें तो कर्नाटक में उसके विधायक 50-50 या सौ-सौ करोड़ रुपए में बिक गए। गोवा में भी भाजपा ने उसके विधायकों को खरीद लिया। तेलंगाना में भी पार्टी का कहना है कि उसके विधायकों की खरीद-फरोख्त हुई। अब खबर है कि मध्य प्रदेश में कांग्रेस के विधायकों की खरीद-फरोख्त का प्रयास हो रहा है। कांग्रेस, टीडीपी, समाजवादी पार्टी, इनेलो आदि कई पार्टियों के राज्यसभा सांसदों के भी खरीद-फरोख्त के आरोप पिछले दिनों लगे थे। सवाल है कि भाजपा के विधायक क्यों नहीं बिकते हैं? मध्य प्रदेश में कांग्रेस की सरकार 15 महीने से चल रही है तो उसने भाजपा के विधायक खरीद कर बहुमत क्यों नहीं बना लिया? यह नहीं कहा जा सकता है कि भाजपा आज केंद्र की सत्ता में है और नरेंद्र मोदी, अमित शाह की वजह से किसी की हिम्मत नहीं हो रही है कि भाजपा के विधायकों की खरीद-फरोख्त करें। जब मोदी और शाह की कमान नहीं थी और केंद्र में दस… Continue reading कांग्रेस विधायकों की ही खरीद क्यों होती है?

मप्र में जनादेश के अपहरण की साजिश सफल नहीं होगी

नई दिल्ली। कांग्रेस ने मध्य प्रदेश के ताजा राजनीतिक घटनाक्रम को लेकर बुधवार को दावा किया कि भाजपा काले धन के जरिए कमलनाथ सरकार को अस्थिर करने का प्रयास कर रही है, लेकिन जनादेश के अपहरण का यह षडयंत्र कभी सफल नहीं होगा।पार्टी के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने ट्वीट कर आरोप लगाया, ‘‘ संविधान को रौंदना भाजपा का चरित्र बन गया है। जहां जोड़ से बात नहीं बनती वहां तोड़ अपनाने लगते हैं। यह बात हज़म नहीं होती कि जनता ने सत्ता से दूर रहने का आदेश दिया है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘मध्यप्रदेश में जनादेश के अपहरण का भाजपाई षड्यंत्र कभी सफल नहीं होगा। सत्य परेशान हो सकता है पराजित नही।’’ कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने कहा कि चिंता की कोई बात नहीं है क्योंकि सरकार के लिए कोई खतरा नहीं है। पार्टी प्रवक्ता शक्ति सिंह गोहिल ने आरोप लगाया कि यह सब भाजपा के शीर्ष नेतृत्व के इशारे पर हो रहा है।उन्होंने संसद परिसर में संवाददाताओं से बातचीत में आरोप लगाया, ‘‘काले धन का इस्तेमाल करके चुनी हुई सरकार को गिराने का प्रयास हो रहा है। पहले कर्नाटक में यही किया गया और कई दूसरे राज्यों में भी यही किया गया।’’गोहिल ने आरोप लगाया, ‘‘यह प्रधानमंत्री नरेंद्र… Continue reading मप्र में जनादेश के अपहरण की साजिश सफल नहीं होगी

भाजपा पर कांग्रेसी विधायकों को बंधक बनाने का आरोप !

भोपाल। मध्यप्रदेश की राजनीति में घमासान शुरु हो गया है। भाजपा पर आरोप लग रहा है कि उसने कांग्रेस के 8 विधायकों को जबरदस्ती होटल में रखा है। कांग्रेस का आरोप है कि उन्हें इन विधायकों से मिलने भी नहीं दिया जा रहा है। इसके पहले मुख्यमंत्री कमलनाथ भी भाजपा पर विधायकों की खरीद फरोख्त का आरोप लगा चुके हैं। गौरतलब है कि मध्य प्रदेश में 230 विधानसभा सीटें हैं। 2 विधायकों का निधन होने से वर्तमान में 228 सदस्य हैं। कांग्रेस के पास 114 विधायक हैं। सरकार को अन्य 4 निर्दलीय विधायकों, 2 बसपा और 1 सपा विधायक का भी समर्थन मिला हुआ है। मौजूदा समय में बीजेपी के पास 107 विधायक हैं।

राकांपा के युवा नेताओं ने लापता 4 विधायकों को हरियाणा से ‘बचाया’

राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) को बड़ी राहत के तहत उसके चार ‘लापता’ विधायकों को एक होटल से बचा लिया गया है। विधायकों को हरियाणा के गुरुग्राम के एक होटल में रखा गया था।

और लोड करें