इराकी सुरक्षा बलों ने अल बगदादी के उप कमांडर को किया गिरफ्तार

दमिश्क। इराकी सुरक्षा बलों ने इस्लामिक स्टेट (आईएस) के मारे गए सरगना अबू बकर अल बगदादी के एक उप कमांडर को गिरफ्तार किया है। पुलिस सूत्रों के हवाले से मीडिया ने यह जानकारी दी है। पुलिस की ओर से जारी एक बयान में कहा गया है कि गिरफ्तार व्यक्ति अल बगदादी का उप कमांडर है और वह सलादीन प्रांत का मिलिट्री कमांडर भी है। उसे हाविजा के समीप किरकुक प्रांत में गिरफ्तार किया गया था। गौरतलब है कि 27 अक्टूबर को सीरिया में अमेरिकी कार्रवाई में अबू बगदादी के मारे जाने की घोषणा की गई थी। रूस ने हालांकि अमेरिका के उस दावे को लेकर शक जताया था क्योंकि वर्ष 2014 से कम से कम छह बार बगदादी के मारे जाने की खबरें मीडिया में आईं थी।

रूस ने इराक से 30 शिशुओं को स्वदेश बुलाया

एक से तीन साल के 30 नन्हें-मुन्ने बच्चों को इराक से रूस भेजा गया है। इन बच्चों की माताएं आतंकवादी गतिविधियों में शामिल होने के जुर्म में इराक की जेल में बंद हैं। रूस के अधिकारियों ने यह जानकारी दी।

इस्लामी कलंक का सफाया

‘इस्लामिक स्टेट’ के सरगना अबू बकर अल-बगदादी की हत्या करके अमेरिका ने एक अमेरिकी महिला के साथ हुए बलात्कार और उसकी हत्या का बदला तो ले लिया लेकिन क्या इससे विश्व में फैला इस्लामी आतंकवाद खत्म हो जाएगा?

कुत्ते की मौत मरा आईएस नेता बगदादी : ट्रंप

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने आतंकवादी संगठन इस्लामिक स्टेट के प्रमुख नेता अबु बकर अल बगदादी के विशेष अभियान में मारे जाने की रविवार को पुष्टि करते हुए कहा कि वह ‘कुत्ते की मौत’ मारा गया।

अफगानिस्तान में आईएस के 10 आतंकवादी ढेर

जलालाबाद। अफगानिस्तान के पूर्वी नांगरहार प्रांत में सुरक्षाबलों की ओर से चलाए गए अभियान में इस्लामिक स्टेट (आईएस) के 10 आतंकवादी मारे गये हैं। प्रांतीय सरकार ने शनिवार को एक वक्तव्य जारी कर यह जानकारी दी। प्रांतीय सरकार की ओर से जारी किए गए वक्तव्य के मुताबिक नांगरहार प्रांत के अचिन जिले में सुरक्षाबलों की ओर से पिछले 24 घंटों के दौरान चलाए गए अभियान के दौरान आईएस के 10 आतंकवादी मारे गए। सुरक्षाबलों ने पिछले कुछ दिनों में आतंकवादियों के तीन कमान एवं नियंत्रण केन्द्रों, आठ चौकियों, दो सुरंगों और एक बंकर को ध्वस्त किया है। राजधानी काबुल से 120 किलोमीटर दूर इस पहाड़ी प्रांत में समय-समय पर सुरक्षाबलों और आतंकवादियों के बीच झड़पें होती रहती हैं जिसके कारण हजारों ग्रामीण लोगों को सुरक्षित स्थानों पर शरण लेनी पड़ी है। इससे पहले नांगरहार प्रांत में शुक्रवार को जुमे की नमाज के दौरान एक मस्जिद में हुए भीषण बम विस्फोट में मरने वालों की संख्या बढ़ कर 62 हो गयी है तथा करीब 60 अन्य घायल हुए हैं। इस्लामिक स्टेट की ओर से अब तक इस पर कोई टिप्पणी नहीं की गयी है।

और लोड करें