बेजोस फिर बने दुनिया के सबसे अमीर व्यक्ति

टेस्ला के शेयरों में गिरावट के बाद एलन मस्क के सिर से दुनिया का सबसे अमीर व्यक्ति का होने का ताज छीन गिया है और एक बार फिर एमेजॉन के संस्थापक जेफ बेजोस दुनिया के सबसे अमीर व्यक्ति बन गए हैं।

अमेजन के मॉडल पर नजर रखना जरूरी

तन्मय कुमार-  दुनिया की सबसे बड़ी ई–कॉमर्स कंपनी अमेजन के मालिक जेफ बेजोस का इस बार का भारत दौरा बड़ा फीका सा रहा है। केंद्र में नरेंद्र मोदी के पहली बार जीतने के बाद जब वे भारत आए थे तब भारत में उनका जबरदस्त स्वागत हुआ था। पर इस बार उनको बड़ा झटका लगा है। बताया जा रहा है कि उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मिलने का समय मांगा था पर उन्होंने समय नहीं दिया। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण और वाणिज्य मंत्री पीयूष गोयल ने भी उनसे मुलाकात नहीं की। उलटे जब बेजोस ने भारत में लघु व मझोले उद्यमों को बढ़ावा देने के लिए एक अरब डॉलर यानी करीब सात हजार करोड़ रुपए के अतिरिक्त निवेश की घोषणा की तो पीयूष गोयल ने कहा कि वे यह निवेश करके भारत पर कोई अहसान नहीं कर रहे हैं। वाणिज्य मंत्री ने जिस अंदाज में यह बात कही उसका समर्थन नहीं किया जा सकता है। पर उन्होंने जो बात कही है वह पूरी तरह से गलत नहीं है। सबसे पहले सरकार की नाराजगी के संदर्भ को समझना होगा। संदर्भ यह है कि जेफ बेजोस अमेरिका और दुनिया के सबसे प्रतिष्ठित अखबारों में से एक द वाशिंगटन पोस्ट के मालिक भी हैं।… Continue reading अमेजन के मॉडल पर नजर रखना जरूरी

अमेजन के मालिक से भाजपाइयों का निजी झगड़ा!

ऐसा लग रहा है कि भारतीय जनता पार्टी के नेताओं ने दुनिया के सबसे अमीर कारोबारी जेफ बेजोस से निजी झगड़ा बना लिया है। बेजोस भारत के दौरे पर आए और दो दिन दिल्ली में रहे पर भाजपा नेताओं से उनकी मुलाकात नहीं हुई। बताया जा रहा है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से उन्होंने मिलने का समय मांगा था पर समय नहीं मिला।

21वीं सदी भारत की सदी होगी: बेजोस

नई दिल्ली। छोटे व मध्यम व्यवसायों (एसएमबी) के लिए बड़े निवेश की घोषणा करते हुए अमेजन के मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) जेफ बेजोस ने बुधवार को यहां कहा कि 21वीं सदी भारत की सदी होगी। यहां अमेजन संभव कार्यक्रम में बेजोस ने घोषणा की कि अमेजन एसएमबी को डिजिटल बनाने के लिए देश में एक अरब डॉलर का निवेश करेगा। उन्होंने यह भी कहा कि ई-कॉमर्स कंपनी अपनी वैश्विक पहचान का इस्तेमाल भारत में बने सामानों के निर्यात के लिए करेगी। इसे भी पढ़ें : शेयर बाजार के शुरुआत में गिरावट कंपनी 2025 तक 10 अरब डॉलर मूल्य के भारतीय वस्तुओं का निर्यात करेगी। उन्होंने कहा मेरा मानना है कि 21वीं सदी भारतीय सदी होने जा रही है। उन्होंने कहा कि गतिशीलता के अलावा भारत का लोकतंत्र, इसकी एक प्रमुख विशेषता है। उन्होंने यह भी कहा कि गठबंधन के संदर्भ में 21वीं सदी अमेरिका और भारत के बीच द्विपक्षीय संबंधों की होगी। बेजोस की भारत यात्रा ऐसे महत्वपूर्ण समय में हो रही है, जब भारतीय प्रतिस्पर्धा आयोग ने ई-कॉमर्स की बड़ी कंपनियों अमेजन और फ्लिपकार्ट के व्यापारिक कार्यो की जांच के आदेश दिए हैं।

और लोड करें