केदारनाथ आपदा की शिव व्याख्या- जो उसकी भयावहता को महसूस करवा देगी।

उत्तराखंड में स्थित विश्वप्रसिद्ध केदारनाथ का मंदिर हजारों श्रद्धालुओं का आस्था का केंद्र है। 16 जून 2013 का वो दिन आज भी याद करते रूह कांप जाती है। 16 जून 2013 का वो दिन शायद ही कोई भूला होगा। उस विनाश काली लीला ने पूरे भारत को झकझोड़ कर रख दिया। 16-17 जून 2013 को केदारनाथ में आई बाढ़ ने सब कुछ तबाह कर दिया सिवाय एक मंदिर के कुछ भी नहीं रहा। आज हम आपतो बताएंगे कि उस जलप्रलय ने कहां-कहां अपना आतंक मचाया था। आइये जानते है केदारनाथ घाटी में आई उस भयानक जलप्रलय के बारे में.. शरूआती बारिश सुहानी लग रही थी 14 जून की सुबह से ही बारिश लगातार हो रही थी लेकिन यह पर्टकों के लिए आनंद  बढ़ाने जैसी लग रही थी। 14 जून की बारिश से बद्रीनाथ मार्ग लंगासु के पास पुल टूट चुका था। तो प्रशासन ने भी अपना काम करते हुए यात्रियों को रूद्रप्रयाग से केदारनाथ की ओर भेज दिया। 15 जून का दिन भी सामान्य दिन की भांति प्रकृति की गोद में निकल गया। और बारिश की बूंदे यात्रियों को सहला रही थी। 16 जून भी आ गई और यह दिन भी सामान्य दिन की ही भांति था। केदारनाथ घाटी में… Continue reading केदारनाथ आपदा की शिव व्याख्या- जो उसकी भयावहता को महसूस करवा देगी।

ssr case : सुशांत सिंह राजपूत और सारा अली खान के ड्रग कनेक्शन का नीतिश भारद्वाज ने किया खुलासा

Mumbai | 14 जून 2020 को बॉलीवुड के एक चमकते सितारे सुशांत सिंह राजपूत (Sushant singh Rajput Suicide) ने आत्महत्या कर इस दुनिया को हमेशा के लिए अलविदा कह दिया था। लेकिन सुशांत के फैंस किसी ना किसी रूप में हर रोज उन्हें याद करते है। ट्विटर पर हर रोज सुशांत के नाम का हैशटैग लगता ही है। सुशांत के केस की CBI जांच चल ही रही है। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक सुशांत सिंह राजपूत की मौत की वजह ड्रग्स बताई जाती है। बतां दें कि रिया चक्रवती, सारा अली खान भी इस ड्रग कनेक्शन में आ गई थी। हाल ही में नीतिश भारद्वाज ने सुशांत सिंह राजपूत और सारा अली खान के ड्रग कनेक्शन का खुलासा किया है। बतां दे कि नीतिश भीरद्वाज ने पूरानी वाली महाभारत में श्री कृष्णा का किरदार निभाया था। जिसमे दर्शकों द्वारा काफी पसंद किया गया। also read:  कोरोना काल में संकट मोचन “हनुमान” भी आए संकट में, आर्थिक तंगी से गुज़र रहे है .. फिल्म केदारनाथ में किया साथ काम दरअसल नितीश भारद्वाज ने सुशांत सिंह राजपूत और सारा अली खान के साथ फिल्म केदारनाथ में काम किया था। इस फिल्म में सारा अली खान ने नीतिश भारद्वाज की बेटी की भूमिका निभाई… Continue reading ssr case : सुशांत सिंह राजपूत और सारा अली खान के ड्रग कनेक्शन का नीतिश भारद्वाज ने किया खुलासा

CHARDHAM YATRA 2021: चारधाम यात्रा शुरु होना एक खुशखबरी भी है साथ ही सुपर स्प्रेडर का खतरा रहेगा बरकरार..

UTTARAKHAND: चारधाम यात्रा को शुरु होना एक बहुत बड़ी खुशखबरी है उन भक्तों के लिए जो लंबे समय से इसके खुलने का इंतजार कर रहे थे, और उन कारोबारियों के लिए भी जो इस यात्रा से अपनी रोजी-रोटी चलाते है, और पूरे समुदाय के लिए जो इस यात्रा से जुड़े है। चारधाम यात्रा एक बार फिर शुरु होने जा रही है लेकिन कुछ चुनिंदा लोगो के लिए। लेकिन चारधाम यात्रा शुरु होने के साथ सपुर स्प्रेडर का खतरा भी बना रहेगा। कोरोना के मामले कम हुए है खत्म नहीं। इसलिए हमें इस बार ज्यादा सावधान और सतर्क होना रहेगा। लेकिन अब कोरोना के मामलों में गिरावट होने के कारण यात्रा फिर से शुरु हो सकती है। अधिकारियों के मुताबिक केदारनाथ, बद्रीनाथ, गंगोत्री और यमुनोत्री के लिए चारधाम यात्रा को कुछ चुनिंदा जिलों के लिए खोला जा सकता है, जहां कोविड संबंधी हालात बेहतर पाए जाएंगे। इससे पहले इस साल श्रद्धालुओं के इस यात्रा को रोक दिया गया था और ​केवल पुजारियों को पूजा अर्चना संबंधी गतिविधियां कर पाने की अनुमति दी गई थी। मंदिर खुले है लेकिन वहां पुजारियों के अलावा किसी को जाने की अनुमति नहीं है। इसे भी पढ़ें CBSE 12th Exam 2021:शिक्षा मंत्री के भर्ती होने के बाद,… Continue reading CHARDHAM YATRA 2021: चारधाम यात्रा शुरु होना एक खुशखबरी भी है साथ ही सुपर स्प्रेडर का खतरा रहेगा बरकरार..

चारधामयात्रा 2021 :  खुल गये है पंचकेदार के कपाट, कोरोना के कारण इस बार भी व्यापार ठप

केदारनाथ धाम करोड़ों हिंदुओं की आस्था का प्रतीक है। बाबा केदार के भक्त कपाट खुलने का बसब्री से इंतज़ार करते रहते है। लेकिन अब भक्तों का इंतज़ार तो खत्म हो चुका है। आज सुबह ब्रह्म मुहुर्त में केदारनाथ मंदिर के कपाट खुल चुके है। बाबा केदार की पूजा-अर्चना सुबह तीन बजे ही शुरु हो गयी थी। फिर पॉच बजे पुरे विधि-विधान के साथ मंदिर के कपाट खोल दिए गए। मंदिर को 11 क्विटल फूलों से सजाया गया। उत्तराखंड के उच्च हिमालयी क्षेत्र में स्थित विश्वप्रसिद्ध केदारनाथ मंदिर के कपाट छः माह पश्चात खोल दिए गए है। बाबा केदार का यह धाम ग्याहरवें ज्योतिर्लिंग में से एक है।  मेष लग्न में कपाट खुलते ही सबसे पहली प्रार्थना जिलाधिकारी के हाथों प्रधानमंत्री मोदी के नाम से की गई। मंदिर खुलते समय मुख्य पुजारी के साथ कुछ लोग ही मौजूद रहे। बाबा के कपाट खुलने के मौके पर रावल भीमाशंकर लिंग, मुख्य पुजारी बागेश लिंग, जिलाधिकारी मनुज गोयल, देवस्थानम बोर्ड के अपर मुख्य कार्याधिकारी बीड़ी सिंह मौजूद रहे। मंदाकिनी एवं सरस्वती नदी के संगम पर स्थित केदारनाथ मंदिर में इस बार भी कपाटोद्धाटन सामारोह सुक्ष्म रूप से आयोजित किया गया। कोरोना महामारी के कारण इस बार श्रद्धालुओं पर चारधाम यात्रा की पाबंदी रहेगी।… Continue reading चारधामयात्रा 2021 : खुल गये है पंचकेदार के कपाट, कोरोना के कारण इस बार भी व्यापार ठप

CHARDHAM YATRA POSTPOND : कोरोना ने चारधाम यात्रा पर निर्भर व्यापारियो की फिर तोड़ी कमर… सीएम  रावत ने निलंबित की चारधाम यात्रा

हिन्दु धर्म के आस्था का प्रतीक है चारधाम यात्रा। चारधाम की यात्रा उतराखंड में स्थित है-केदारनाथ, बद्रीनाथ, गंगोत्री और यमुनोत्री।  हर वर्ष चारधाम की यात्रा में हजारों-लाखों श्रद्धालु अपने भगवान के दर्शन को जाते है। लेकिन इस वर्ष जो भक्तों चारधाम यात्रा पर जाने की सोच रहे है उनके लिए एक बुरी खबर है। कोरोना के इस भयावह माहौल में उतराखंड सीएम  तीरथ सिंह रावत ने इस वर्ष की चार धाम यात्रा रद्द कर दी है। उतराखंड में कोरोना के मामले बढ़ते ही जा रहे है। कुंभ के बाद उतराखंड में कोरोना आग की तरह फैला है। इस वर्ष श्रद्धालु चारधाम यात्रा पर नहीं जा पाएंगे। मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत ने कहा कि राज्य में कोरोना की स्थिति को देखते हुए चारधाम यात्रा निलंबित की जाती है। सिर्फ पुजारियों को पूजा और बाकी धार्मिक  अनुष्ठान करने की इजाजत होगी। पुजारियों के अलावा किसी भी श्रद्धालु को वहां जाने की अनुमति नहीं होगी। पहले से निर्धारित तिथी पर खुलेंगे चारोंधाम के कपाट। इसे भी पढें मानवता के इंतेहान में कहीं असफल ना हो जाएं..विशेषज्ञों ने जताया मुंबई में तीसरी लहर का अनुमान 14 मई से खुलेंगे चारोधाम चारोंधाम के कपाट मई में खुलेंगे। गंगोत्री और यमुनोत्री के कपाट अक्षयतृतीया के दिन 14… Continue reading CHARDHAM YATRA POSTPOND : कोरोना ने चारधाम यात्रा पर निर्भर व्यापारियो की फिर तोड़ी कमर… सीएम रावत ने निलंबित की चारधाम यात्रा

केदारनाथ मंदिर के कपाट खुलने की तिथि हुई निश्चित, जानें दर्शनों के लिए कब खुलेंगे चारों धाम के पट

रुद्रप्रयाग। केदारनाथ के भक्तों के लिए खुशखबर आ गई है। मंदिर के पट दर्शनों के लिए 17 मई सुबह 5 बजे खुल जाएंगे। खबर के बाद भक्त अपने आराध्य के दर्शनों के लिए तैयारियों में जुट गए हैं। बाबा केदार की डोली उनके शीतकालीन प्रवास स्थल उखीमठ से 14 मई को रवाना होगी। केदारनाथ मंदिर के कपाट पिछले वर्ष 16 नवंबर 2020 को विधि-पूर्वक बंद किये गए थे।उत्तराखंड में उच्च गढ़वाल के हिमालयी क्षेत्र में केदारनाथ मंदिर बसा हुआ है। केदारनाथ मंदिर के पट इस वर्ष 17 मई को प्रातः 5 बजे भक्तों के लिए खोले जाएंगे। चारधाम देवस्थानम प्रबंधन बोर्ड के एक प्रवक्ता ने बताया कि बृहस्पतिवार को महाशिवरा​त्रि के पर्व पर मुहुर्त निकाला गया। रुद्रप्रयाग के उखीमठ के ओंकारेश्वर मंदिर में केदारनाथ इस मुहुर्त कार्यक्रम को विधि विधान के साथ आयोजित किया गया।केदारनाथ मंदिर के कपाट भक्तों के लिए ग्रीष्मकाल में 6 महीने के लिए ही खुलते हैं। दीवाली के अगले दिन केदारनाथ मंदिर के कपाट विधि-विधान के साथ बंद कर दिए जाते हैं। केदारनाथ में शीतऋतु में अत्यधिक बर्फबारी होती है। इस कारण वहां जाना आसान नहीं होता है। इसे भी पढ़ें- उत्तर प्रदेश में मोदी कल करेंगे अमृत महोत्सव’ का शुभारम्भ करेंगे चारों धामों की तिथि निश्चित,… Continue reading केदारनाथ मंदिर के कपाट खुलने की तिथि हुई निश्चित, जानें दर्शनों के लिए कब खुलेंगे चारों धाम के पट

और लोड करें