न्यूयॉर्क के डॉक्टर ने एप्पल कंपनी पर किया मुकदमा

न्यूयॉर्क। एक अमेरिकी डॉक्टर ने एप्पल कंपनी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया है। उनका आरोप है कि कूपर्टीनो स्थित आईफोन निर्माता इस कंपनी ने उनके द्वारा आविष्कृत प्रौद्योगिकी के जैसी ही एक प्रौद्योगिकी का उपयोग अपनी घड़ी में किया है। जिस प्रौद्योगिकी का इस्तेमाल एप्पल कंपनी की इस घड़ी में किया गया है, उससे अट्रियल फिब्रिलेशन का पता लगाया जा सकता है। इसे अलिंद विकंपन के नाम से भी जाना जाता है। यानी कि दिल की धड़कन का अनियमित रूप से तेजी से बढ़ जाना, रक्त का प्रवाह कम हो जाना इत्यादि चीजों का पता इस प्रौद्योगिकी की मदद से लगाया जा सकता है। न्यूयॉर्क विश्वविद्यालय के कार्डियोलॉजिस्ट डॉ.जोसेफ विजल के मुताबिक, 28 मार्च, 2006 में अलिंद विकंपन को पता लगाने की विधि और इससे संबंधित उपकरण का आविष्कार करने के लिए उन्हें पुरस्कृत किया जा चुका है, जिसकी मदद से मरीज फोटोप्लेथिसोग्राम का उपयोग कर सकते हैं। यह भी पढ़ें:- एप्पल 2021 में लांच कर सकती है पूर्ण वायरलेस आईफोन यह हृदय की गति पर नजर रखने वाला एक ऑप्टिकल सेंसर है, जिसका इस्तेमाल एप्पल कंपनी की घड़ियों में किया जा रहा है। एप्पल इनसाइडर की रिपोर्ट के मुताबिक, मुकदमे में इस आविष्कार को अलिंद विकंपन का पता लगाने… Continue reading न्यूयॉर्क के डॉक्टर ने एप्पल कंपनी पर किया मुकदमा

फेसबुक पर दर्ज हुआ 3500 करोड़ डॉलर का मुकदमा

सैन फ्रांसिस्को। अमेरिका की एक अदालत ने फेसबुक की उस याचिका को खारिज कर दिया है, जिसमें उस पर इलिनोइस के नागरिकों के फेशियल रिकग्निशन संबंधी डाटा के कथित दुरुपयोग के खिलाफ 3500 करोड़ डॉलर क्लास-एक्शन मुकदमा दायर किया गया था। टेकक्रंच के अनुसार, सैन फ्रांसिस्को में नौ सर्किट वाले न्यायाधीशों की तीन न्यायाधीशीय पैनल ने फेसबुक की याचिका को खारिज कर दिया है। अब मामले की सुनवाई तभी होगी, जब सुप्रीम कोर्ट हस्तक्षेप करेगा। रिपोर्ट में कहा गया, मुकदमे में आरोप लगाया गया है कि इलिनोइस के नागरिकों ने अपलोड किए गए अपने फोटो के फेशियल रिकग्निशन संबंधित स्कैन करने की अनुमति नहीं दी और न ही उन्हें इस बात की जानकारी दी गई थी कि 2011 में मैपिंग शुरू होने पर डाटा कितनी देर तक सुरक्षित रहेगा। फेसबुक को 70 लाख लोगों के हिसाब से प्रतिव्यक्ति 1000 से 5000 डॉलर जुर्माने के तौर पर देना होगा, ऐसे में उस पर लगे जुर्माने की राशि 3500 करोड़ डॉलर तक होगी। फेसबुक ने साल 2011 में फेशियल रिकग्निशन संबंधित स्कैन तकनीक का इस्तेमान शुरू किया था, जिसमें फेसबुक के यूजर्स से पूछा जाता है कि उनके द्वारा अपलोड की गई तस्वीर में जो लोग टैग किए गए हैं, उन्हें वे… Continue reading फेसबुक पर दर्ज हुआ 3500 करोड़ डॉलर का मुकदमा

और लोड करें