केदारनाथ मंदिर के कपाट खुलने की तिथि हुई निश्चित, जानें दर्शनों के लिए कब खुलेंगे चारों धाम के पट

रुद्रप्रयाग। केदारनाथ के भक्तों के लिए खुशखबर आ गई है। मंदिर के पट दर्शनों के लिए 17 मई सुबह 5 बजे खुल जाएंगे। खबर के बाद भक्त अपने आराध्य के दर्शनों के लिए तैयारियों में जुट गए हैं। बाबा केदार की डोली उनके शीतकालीन प्रवास स्थल उखीमठ से 14 मई को रवाना होगी। केदारनाथ मंदिर के कपाट पिछले वर्ष 16 नवंबर 2020 को विधि-पूर्वक बंद किये गए थे।उत्तराखंड में उच्च गढ़वाल के हिमालयी क्षेत्र में केदारनाथ मंदिर बसा हुआ है। केदारनाथ मंदिर के पट इस वर्ष 17 मई को प्रातः 5 बजे भक्तों के लिए खोले जाएंगे। चारधाम देवस्थानम प्रबंधन बोर्ड के एक प्रवक्ता ने बताया कि बृहस्पतिवार को महाशिवरा​त्रि के पर्व पर मुहुर्त निकाला गया। रुद्रप्रयाग के उखीमठ के ओंकारेश्वर मंदिर में केदारनाथ इस मुहुर्त कार्यक्रम को विधि विधान के साथ आयोजित किया गया।केदारनाथ मंदिर के कपाट भक्तों के लिए ग्रीष्मकाल में 6 महीने के लिए ही खुलते हैं। दीवाली के अगले दिन केदारनाथ मंदिर के कपाट विधि-विधान के साथ बंद कर दिए जाते हैं। केदारनाथ में शीतऋतु में अत्यधिक बर्फबारी होती है। इस कारण वहां जाना आसान नहीं होता है। इसे भी पढ़ें- उत्तर प्रदेश में मोदी कल करेंगे अमृत महोत्सव’ का शुभारम्भ करेंगे चारों धामों की तिथि निश्चित,… Continue reading केदारनाथ मंदिर के कपाट खुलने की तिथि हुई निश्चित, जानें दर्शनों के लिए कब खुलेंगे चारों धाम के पट

शिवरात्रि पर राजस्थान के इन प्रमुख शिव मंदिरों के बारे में जरूर जानें

जयपुर। शिवरात्रि पर शिवभक्त अपने आराध्य भोले भंडारी की प्रसन्नता के लिए जप, तप, व्रत, ध्यान, भजन—कीर्तन जैसे उपाय करेंगे। ​यह दिन ही भक्तों के लिए खास है। इस दिन महादेव की विशेष मेहरबानी बरसती है। राजस्थान में सनातन धर्म के तीनों अंगों शैव, वैष्णव और शाक्त से संबद्ध लोग निवास करते हैं। यहां शक्ति के मंदिर भी खास हैं तो विष्णु अवतार कृष्ण के भी। हम शिवरात्रि पर बात कर रहे हैं कुछ खास शिव मंदिरों की। झारखंड महादेव मंदिर  राजधानी जयपुर में स्थित झारखंड महादेव मंदिर जो कि दक्षिण भारत के मंदिरों की खूबसूरती के लिए प्रसिद्ध है। श्रद्धा में ही शक्ति है और जहां श्रद्धा होगी वहां भक्तों की भीड़ रहेगी ही। महादेव को देवों के देव कहा जाता है। दरअसल यह मंदिर काफी सघन और हरियाली वाले इलाके में स्थित है। इस मंदिर के चारों तरफ खूब हरियाली छाई हुई है। मंदिर के चारों ओर अनेक पेड़-पौधे लगे हुए हैं। यह मंदिर भक्तों के लिए हमेशा आकर्षण का केंद्र बना रहता है। करीब एक सदी पहले 1918 में जब इस मंदिर का निर्माण हो रहा था तब यहां सिर्फ एक कमरा था। यहां जो शिवलिंग स्थित है वो एक कमरे में बंद था, वहीं पूजा की… Continue reading शिवरात्रि पर राजस्थान के इन प्रमुख शिव मंदिरों के बारे में जरूर जानें

केदारनाथ, बद्रीनाथ के कपाट देर से खुलेंगे

कोरोना वायरस की वजह से देश भर के मंदिर बंद हैं पर वायरस फैलना शुरू होने से पहले से बंद केदारनाथ और बद्रीनाथ धाम के कपाट खुलने में भी अब देरी होगी।

29 अप्रैल को खुलेंगे केदारनाथ मंदिर के कपाट

महाशिवरात्रि के पावन अवसर पर आज देश के 11वें ज्योतिर्लिंग केदारनाथ धाम के कपाट खुलने की तिथि घोषित की गई। आगामी 29 अप्रैल को सुबह छह बजकर 10 मिनट पर मंदिर के कपाट आम लोगाें के लिए खोले जाएंगे।

महाशिवरात्रि पर सर्राफा बाजार बंद

महाशिवरात्रि के अवसर पर आज दिल्ली सर्राफा बाजार में अवकाश रहा जिसके कारण कारोबार नहीं हुआ लेकिन वैश्विक बाजार में दोनों कीमती धातुओं में भारी तेजी दर्ज की गयी है।

कमलनाथ ने महाशिवरात्रि की प्रदेशवासियों को दी शुभकामनाएं

भोपाल। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमल नाथ ने महाशिवरात्रि के पावन पर्व पर प्रदेशवासियों को बधाई और शुभकामनाएं दी हैं। मुख्यमंत्री ने अपने शुभकामना संदेश में कहा शिवरात्रि भारत की आध्यात्मिक संस्कृति का पर्व है। उन्होंने कहा भगवान शंकर सभी देवों के आराध्य हैं। वे सृजन के देव है। कमल नाथ ने कहा महाशिवरात्रि सर्वाधिक महत्व का धार्मिक अवसर है, जब सभी समुदाय शिव भक्ति में रम जाते हैं। यह अवसर भक्तों को समर्पण भाव के साथ रचनात्मक काम करने की प्रेरणा देता है।

राहुल गांधी ने महाशिवरात्रि पर देशवासियों को बधाई दी

नई दिल्ली। कांग्रेस नेता व स्व घोषित ‘शिवभक्त’ राहुल गांधी ने शुक्रवार को महाशिवरात्रि के पर्व पर देशवासियों को शुभकामनाएं दी। राहुल गांधी ने ट्वीट किया महाशिवरात्रि के पावन पर्व पर सभी देशवासियों को हार्दिक शुभकामनाएं। उन्होंने इस ट्वीट के साथ कैलाश पर्वत की एक तस्वीर भी संलग्न की। 49 वर्षीय नेता इस तरह के ट्वीट के जरिए हिंदुत्व के प्रति झुकाव को जाहिर करते दिखाते देते हैं। कुछ साल पहले उन्होंने खुद को ‘शिवभक्त’ बताया और मंदिरों का दौरा किया, जिसमें उज्जैन का प्रसिद्ध महाकालेश्वर मंदिर भी शामिल रहा। 2018 में भगवान शिव का आशीर्वाद लेने के लिए उन्होंने कैलाश मानसरोवर की यात्रा भी की।

योगी ने गोरखनाथ मंदिर में किया रूद्राभिषेक

गोरखपुर। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज महाशिवरात्रि पर गोरखनाथ मंदिर में प्रथम तल स्थित दुर्गा मंदिर में रूद्राभिषेक किया। गोरखनाथ मंदिर मे प्रातः काल भ्रमण के दौरान माननीय मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ ने गायों को गुड़ खिलाने के बाद हिंदू सेवाश्रम में करीब 500 फरियादियों के बीच जाकर जनता दर्शन में उनकी समस्या सुनी और निराकरण का भरोसा भी दिलाया। रोज की तरह सुबह उठते के बाद योगी आदित्यनाथ ने योग किया और अपनी गोशाला में चले आये। गोरखनाथ मंदिर की गोशाला में पांच सौ से ज्यादा गाय है।

महाशिवरात्रि पर कोविंद, मोदी ने दी शुभकामनाएं

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और समेत विभिन्न राजनीतिक दलों के नेताओं ने महाशिवरात्रि के अवसर पर आज समस्त देशवासियों को हार्दिक शुभकामनाएं दीं।

महाशिवरात्रि पर शाह, केजरीवाल ने दी शुभकामनाएं

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह और दिल्ली के मुख्यमंत्री एवं आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल ने महाशिवरात्रि के अवसर पर आज समस्त देशवासियों को हार्दिक शुभकामनाएं दीं।

योगी ने पुलिस को दिया शिवरात्रि पर अलर्ट रहने का निर्देश

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने राज्य प्रशासन को कल के दिन महाशिवरात्रि के दौरान अलर्ट रहने का आदेश दिया है। मुख्यमंत्री ने बुधवार की रात वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से

और लोड करें