Digital Ishq पड़ रहा है महंगा, एक किस के लिए चुकाने पड़े 30 हजार…

कोरोना काल में जहां बच्चों की पढ़ाई ऑनलाइन हो गई है तो वहीं प्यार पाने के लिए भी आज के युवा ऑनलाइन साधन जुगाड़ रहे हैं. इन केसेज में….

Tokyo Olympic 2021 Medal : Neeraj Chopra के खेल ‘Javelin throw’ में जीता हुआ मेडल किया नीलाम, जानें क्या है कारण…

भारत को जैवलिन थ्रो ( Javelin throw) में गोल्ड जिताने वाले नीरज चोपड़ा इन दिनों सोशल मीडिया से लेकर न्यूज़ चैनलों में छाए हुए हैं. लेकिन कोई और भी जैवलिन थ्रो का खिलाड़ी है जो इन दिनों सुर्खियों में .

UIDAI ने आधार कार्ड में अपना स्थायी पता बदलने के लिए बंद की ये सुविधा, अब अपना पता बदलने के लिए करें यह काम ..

भारतीय विशिष्‍ट पहचान प्राधिकरण (UIDAI) ने आधार कार्डधारकों की सुविधा के लिए बिना किसी प्रूफ के एड्रेस में बदलाव कराने की छूट दे दी थी। प्राधिकरण ने ट्वीट कर बताया कि अब इस सुविधा बंद कर दी गई है।

लगातार दूसरे साल रद्द हुई अमरनाथ यात्रा, ऑनलाइन कर सकेंगे बाबा बर्फानी के दर्शन

जम्मू |  कोरोना संक्रमण को लेकर पूरे देश में सतर्कता बरती जा रही है। अमरनाथ यात्रा के लिए श्रद्धालु पिछले वर्ष से इंतजार कर रहे थ। लेकिन इस बार भी महादेव के भक्त अपने अराध्य के दर्शन नहीं कर पाएंगे। अमरनाथ यात्रा इस वर्ष भी रद्द कर दी गई है। जम्मू-कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने अमरनाथ यात्रा कैंसिल रद्द होने की जानकारी देते हुए कहा कि लोगों की जानें बचाना अहम है। इसलिए यह फैसला लिया गया है।लेकिन प्रशासन ने बाबा के दर्शन ऑनलाइन कराने का फैसला लिया है। यह दूसरा साल है जब अमरनाथ यात्रा को रद्द करने का फैसला लिया है|हिमालय के ऊंचाई वाले हिस्से में 3,880 मीटर ऊंचाई पर स्थित भगवान शिव के गुफा मंदिर के लिए 56-दिवसीय यात्रा 28 जून को पहलगाम और बालटाल मार्गों से शुरू होनी थी और यह यात्रा 22 अगस्त को समाप्त होनी थी. also read: Char Dham Yatra Start : इस तारीख से श्रद्धालुओं के लिए चारधाम यात्रा का होगा श्री गणेश, कारोबारियों के लिए खुला कमाई का रास्ता ऑनलाइन दर्शन कराएगा बोर्ड श्राइन बोर्ड की ओर से कहा गया है कि अमरनाथ यात्रा में देशभर के विभिन्न हिस्सों से श्रद्धालु शामिल होंगे। ऐसे में कोरोना संक्रमण के फैलने का खतरा हो… Continue reading लगातार दूसरे साल रद्द हुई अमरनाथ यात्रा, ऑनलाइन कर सकेंगे बाबा बर्फानी के दर्शन

Rajasthan: डाक विभाग की पहल से अब घर बैठे अपनों का अस्थि विसर्जन, ऑनलाइन देख भी सकेंगे

जोधपुर | कोरोना की दूसरी लहर ने राजस्थान में जमकर उत्पात मचाया है. अकेले जोधपुर शहर में संक्रमण से 1,000 से अधिक मौतें हुई हैं. देखा गया है कि कोरोना संक्रमित व्यक्ति के अंतिम संस्कार से लेकर अस्थियों के विसर्जन तक में परिजनों को संक्रमण का डर सता रहा है. परिजनों की परेशानियों को देखते हुए अब जोधपुर के डाक विभाग में एक नई योजना की शुरुआत की है. इस योजना के अनुसार आप डाक विभाग मृतकों के परिजनों को उनके अस्थि विसर्जन को ऑनलाइन दिखाएगा. पुराना संक्रमित व्यक्तियों के अस्थि विसर्जन का पूरा जीवन अब डाक विभाग ने ले दिया है. दिव्य दर्शन संस्था से किया कॉन्ट्रैक्ट इस संबंध में जो जानकारी मिली है उसके अनुसार जोधपुर शहर में कोरोना से संक्रमित व्यक्तियों का अस्थि विसर्जन अब तक नहीं हो सका है. इसके मद्देनजर डाक विभाग ने दिव्य दर्शन संस्था से टाइअप किया है. दोनों मिलकर अब अस्थियों के विसर्जन से जुड़े ही कर्मकांड की सारी जिम्मेदारी निभायेंगे. डाक विभाग द्वारा शुरू की गई इस योजना का लाभ लेने के लिए मृतकों के परिजनो को डाक विभाग की स्पीड पोस्ट पर जाकर रजिस्ट्रेशन करवाना होगा. इसके बाद डाक विभाग अस्थियों का पंडितों की उपस्थिति में विसर्जन कराएगा. यहां बता… Continue reading Rajasthan: डाक विभाग की पहल से अब घर बैठे अपनों का अस्थि विसर्जन, ऑनलाइन देख भी सकेंगे

HDFC बैंक ने अपने ग्राहकों को कहा- अपना मुंह पर ताला लगाए वर्ना…

नई दिल्ली: आजकल साइबर ठगी के शिकार हम सभी हो रहे है। कोरोना काल में ये धंधा ज्यादा देखने को मिल रहा है। हाल ही में HDFC बैंक ने अपने ग्राहकों को कहा है कि ऑनलाइन होने वाली ठगी से बचने के लिए अपना मुंह बंद रखें अन्यथा ठगे जाओगे और सारे पैसे खाते से कब उड़ जाएंगे पता भी नहीं चलेगा। बैंक ने आगाह किया है कि कुछ साइबर ठग बैंक के फर्जी कस्टमर केयर(CUSTMER CARE) अधिकारी बनकर ग्राहकों को बेवकूफ बना रहे हैं, और उनकी मेहनत से कमाई जमा-पूंजी पर डाका डाल रहे हैं। इनसे सावधान रहने की जरूरत है। कई बार ऐसे भी फोन आते है कि ‘मैं आपके बैंक का मैनेजर बोल रहा हूं आपके अकाउंट में कुछ समस्या आ रही है इसलिए एक OTP आएगा वो बताये’….कभी भी गलती से भी किसी के साथ अपना OTP शेयर ना करें। Received a message for an FD/RD transaction you didn’t make?Scamsters are using fake HDFC Bank helpline numbers & asking people to download screen-sharing app to access their banking information. So practice #MoohBandRakho when the scamsters call. Visit: https://t.co/RPuqV7Bz07 pic.twitter.com/3fTIKiOfuO — HDFC Bank (@HDFC_Bank) June 2, 2021 इसे भी पढ़ें क्या आपने सुना है मेडिकल रेप, अगर नहीं… Continue reading HDFC बैंक ने अपने ग्राहकों को कहा- अपना मुंह पर ताला लगाए वर्ना…

Rajasthan Lockdown postpond: राजस्थान में 31 मई तक बढ़ सकता है लॉकडाउन, मुख्यमंत्री गहलोत आज कैबिनेट बैठक में लेंगे फैसला

राजस्थान सहित पुरा देश कोरोना महामारी से लड़ रहा है। राजस्थान में 24 मई तक लॉकडाउन लगा रखा है। फिर भी कोरोना के मामले कम होने का नाम नहीं ले रहा है। बीते 24 घंटे में राजस्थान में कोरोना के मामले 6225 दर्ज हुए है। और 125 लोगों का मौत हुई है। राजस्थान में लॉकडाउन पॉस्टपॉन होना तय है। माना जा रहा है कि प्रदेश में 31 मई या 10 जून तक लॉकडाउन बढ़ाने का निर्णय आज मंत्रिपरिषद की बैठक में लिया जा सकता है।  मुख्यमंत्री अशोक की अध्यक्षता में आज होने वाली राज्य मंत्रिपरिषद की बैठक में कोरोना के खतरे को लेकर चर्चा होगी।यह बैठक वीसी के ज़रिए की जाएगी। इस बैठक से पहले जहां मुख्यमंत्री ने लॉकडाउन की अवधि बढ़ाने के संकेत दिए हैं तो वहीं विशेषज्ञों ने भी सख्त कदम जारी रखने की जरूरत बताई है। सीएम अशोक गहलोत ने शुक्रवार देर शाम कोर ग्रुप के साथ कोरोना से बने हालातों की समीक्षा की। राजस्थान में कोरोना की हालत को देखते हुए लॉकडाउन बढ़ाना ज़रूरी है। आज सीएम गहलोत राज्य मंत्रिपरिषद की बैठक में कोरोना की समीक्षा करेंगे और लॉरडाउन को बढ़ाने का निर्णय लेंगे। हालंकि राजस्थान में लॉकडाउन के बाद कोरोना के मामले कम होने शरु… Continue reading Rajasthan Lockdown postpond: राजस्थान में 31 मई तक बढ़ सकता है लॉकडाउन, मुख्यमंत्री गहलोत आज कैबिनेट बैठक में लेंगे फैसला

ये पहल गौरतलब है

बीते कुछ वर्षों में दुनिया भर मे गिग अर्थव्यवस्था वजूद में आई है। ओला, उबर जैसी कंपनियों के लिए वाहन चलाने वाले ड्राइवरों को गिग वर्कर कहा जाता है। इसी तरह फूड डिलिवरी ब्यॉज या अमेजन या उस जैसी कंपनियां जिन कर्मियों के जरिए अपने सामान घर-घर पहुंचवाती हैं, उन्हें वे अपना कर्मचारी मानने के बजाय कॉन्ट्रैक्टर बताती हैँ। इस तरह उन कर्मियों को तमाम तरह के मजदूर अधिकारों और सुरक्षाओं से वंचित कर दिया जाता है। इस समस्या पर काफी समय से चर्चा चल रही है। इस मामले में एक प्रगति कुछ महीने पहले हुई, ब्रिटेन के सुप्रीम कोर्ट ने एक फैसले में उबर ड्राइवरों को उस कंपनी का कर्मचारी घोषित किया। लेकिन उसके बाद ब्रिटेन की बोरिस जॉनसन सरकार ने जो नीति बनाई, वह कोर्ट की भावना से काफी अलग थी। उसने ऐसे कर्मियों को अलग श्रेणी में रख दिया। इसके तहत गिग वर्कर्स को पहले की तुलना में अधिक अधिकार जरूर दिए गए, लेकिन आज भी उनके अधिकार और सुरक्षाएं ‘कर्मचारी’ माने गए कर्मियों से कम हैँ। अब स्पेन में उससे बात आगे बढ़ी है। स्पेन में मजदूरों के हितों की रक्षा के लिए एक अहम कानून बनाया गया है। इसके तहत ऑनलाइन डिलीवरी प्लैटफॉर्म के लिए… Continue reading ये पहल गौरतलब है

पहल: UID पोर्टल से दिव्यांगता ऑनलाइन प्रमाणीकरण अनिवार्य, भ्रष्टाचार पर लग सकेगी नकेल

New Delhi: केंद्र सरकार ने दिव्यांगजन प्रमाण पत्र का प्रमाणन आधार कार्ड के माध्यम से अनिवार्य कर दिया है. इस संबध में केंद्रीय सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्रालय ने आज अधिसूचना जारी कर दी. जारी की गई अधिसूचना के अनुसार अब राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के लिए 1जुलाई से आधार कार्ड के UID पोर्टल के माध्यम से दिव्यांगता प्रमाण पत्र जारी करना अनिवार्य होगा. केंद्रीय सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्री की अध्यक्षता में केंद्रीय परामर्श बोर्ड ने नवंबर 2020 में अपनी अंतिम बैठक में इस विषय पर विचार किया और 1 अप्रैल 2021 से ऑनलाइन दिव्यांगता प्रमाणीकरण को अनिवार्य बनाने की सिफारिश की थी लेकिन मार्च-अप्रैल 2021 के दौरान कुछ राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में चुनाव को देखते हुए ऑनलाइन प्रमाणीकरण को अब 1 जुलाई 2021 से अनिवार्य कर दिया गया है. ऑनलाइन मोड में बदलने के लिए दिया गया पर्याप्त समय राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के स्वास्थ्य तथा दिव्यांगता मामलों से जुड़े विभागों को इसके परिपालन को सुनिश्चित करने के लिए शीघ्र कदम उठाने की सलाह दी गई है. राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों को ऑनलाइन मोड में बदलने के लिए पर्याप्त समय दिया गया है.  इससे दिव्यांगता प्रमाणीकरण का संपूर्ण डिजिटीकरण सुनिश्चित होगा.  इसके अतिरिक्त… Continue reading पहल: UID पोर्टल से दिव्यांगता ऑनलाइन प्रमाणीकरण अनिवार्य, भ्रष्टाचार पर लग सकेगी नकेल

stay home stay safe..अब सरकार घर बैठे बनवाकर देगी ड्राइविंग लाइसेंस, ड्राइविंग लाइसेंस की वैद्यता बढ़ाकर 30 जून हुई

कोरोना ने पूरे देश में आतंक मचा रखा है। कई राज्य की सरकार ने लॉकडाउन, वीकेंड कर्फ्यु, नाइट कर्फ्यु जैसी पाबंदियां लगा रखी है। सरकार जनता से अपील कर रही है कि कोई भी बिना काम घर से बाहर ना निकले। सरकार ने भी इस बात का ख्याल रखा है कि लोगों के ज्यादातर काम घर बैठे हो जाएं तो बेहतर है। इसी कड़ी में लोगों को ड्राइविंग लाइसेंस रिन्यू करवाने है तो किसी को ड्राइविंग लाइसेंस है। इसके लिए आपको RTO जाकर परेशान होने की जरूरत नहीं है। कोरोना काल में आप यह काम घर बैठ कर भी कर सकते है। सड़क और परिवहन मंत्रालय ड्राइविंग लाइसेंस को बनवाने और उसके रीन्यूअल के लिए नई गाइडलाइंस लेकर आया है। इसे भी पढ़ें जानें, क्यों 18+ उम्र के के लोगों  के लिए वैक्सीनेशन है मुश्किल  ऑनलाइन हो सकेगी पूरी  प्रकिया नए नियम के मुताबिक Learner’s license पाने की पूरी प्रक्रिया ऑनलाइन होगी। यानी एप्लीकेशन से लेकर लाइसेंस की प्रिंटिंग तक पूरा प्रोसेस ऑनलाइन होगा। इसके साथ ही इलेक्ट्रॉनिक सर्टिफिकेट और डॉक्यूमेंट्स का इस्तेमाल मेडिकल सर्टिफिकेट्स, लर्नर लाइसेंस, ड्राइविंग लाइसेंस सरेंडर और उसके रीन्यूअल के लिए किया जा सकेगा। RC रीन्यूअल के लिए भी सहूलियत ध्यान देने वाली बात ये है कि… Continue reading stay home stay safe..अब सरकार घर बैठे बनवाकर देगी ड्राइविंग लाइसेंस, ड्राइविंग लाइसेंस की वैद्यता बढ़ाकर 30 जून हुई

Rajasthan : कम्प्यूटर के अंक समाप्त होने तक नहीं रोकी दारू के ठेके की बोली, 999 करोड़ कीमत लगाई

Jaipur: देश में शराब के लिए लोगों की तलब कैसी है ये बात को किसी से भी नहीं छिपी है. अगर याद ना हो तो लॉकडाउन (Lockdown) के समय में शराब पाबंदी  पर दी गई छूट को याद कर लें. लेकिन आज हम शराब की बिक्री पर बात नहीं कर रहे हैं.  हम बात कर रहे हैं शराब की बिक्री के पहले होने वाली ठेकों की निलामी पर. राजस्थान (Rajasthan) में शराब ठेकों की बोली देशभर में चर्चा का विषय बनती जा रही है. ये भी पढ़ें :- कोरोना से बचने के लिए घोड़े को दी जाने वाली दवा का इस्तेमाल कर रहे यहां के लोग राजस्थान के दौसा (Dousa) में शराब ठेके की खरीदने वाले दो शख्स बोली लगाने में इतने आगे बढ़ गये कि  कम्पयूटर (Computer) ने भी हाथ खड़े कर दिये.  बता देें कि  शराब की एक दुकान लेने के लिए यहां 999 करोड़ रुपये से अधिक की बोली लगाई .  मजे की बात तो ये है कि बोली की  ऱकम इतनी बढ़ने के बाद भी दूसरे प्रतिद्वंदी ने हार नहीं मानी और  999 करोड़ से भी अधिक की बोली लगा दी. इसके बाद स्थिति ये बनी की  ऑनलाइन (Online) बोली में कम्प्यूटर सिस्टम में राशि बढ़ने की… Continue reading Rajasthan : कम्प्यूटर के अंक समाप्त होने तक नहीं रोकी दारू के ठेके की बोली, 999 करोड़ कीमत लगाई

कस्टमर को ‘कष्ट’: ऑनलाइन आर्डर कैंसल करने पर भड़का Zomato बॉय, मुक्का जड़ तोड़ दी महिला की नाक

  Bengaluru: बड़े शहरों में तो ऑनलाइन फूड मंगवाना काफी सामान्य बात हो गयी है. दूसरे शब्दों में कहें तो आज के दौर में ये लोगों की मजबूरी बन गयी है. लेकिन क्या आपने कभी सोचा है कि आर्डर (order) को कैंसल (cancel)करने पर आपकी पिटाई भी हो सकती है. जी हां कुछ ऐसा ही हुआ है . बेंगलुरु (Bengaluru ) में रहने वाली एक महिला के साथ. इस संबंध में महिला का कहना है कि उसने Zomato से खाना आर्डर किया था. डिलवरी में देरी होने के कारण महिला ने आर्डर कैंसल कर दिया. लेकिन इसके बाद भी कंपन्नी का एक लड़का खाना लेकर आ गया और बहस करनी शुरु कर दी. इसके बाद उसने घर में घुस कर खाना रख दिया महिला के मुंह पर एक मुक्का भी जड़ दिया. इसे भी पढ़ें- केदारनाथ मंदिर के कपाट खुलने की तिथि हुई निश्चित, जानें दर्शनों के लिए कब खुलेंगे चारों धाम के पट महिला ने सोशल मीडिया में डाला वीडियो Zomato बॉय की इस करतूत के बाद महिला ने एक वीडियो भी साझा किया है.इस वीडियो में महिला के नाक से खून निकलता हुआ दिखाई दे रहा है. महिला का कहना है कि उसकी नाक टूट गयी है. महिला का… Continue reading कस्टमर को ‘कष्ट’: ऑनलाइन आर्डर कैंसल करने पर भड़का Zomato बॉय, मुक्का जड़ तोड़ दी महिला की नाक

सीएसडी से ऑनलाइन खरीद सकेंगे कार, टीवी, फ्रिज

सेना तथा अर्द्धसैन्य बलों के कैंटीन स्टोर्स डिपार्टमेंट (सीएसडी) लाभार्थी अब घर बैठे कार, टेलीविजन, फ्रिज आदि ऑनलाइन खरीद सकेंगे।

स्वीडन में ऑनलाइन नोबेल पुरस्कार समारोह का आयोजन

वैश्विक महामारी कोरोना वायरस (कोविड-19) महामारी के प्रकोप को देखते हुए स्वीडन की राजधानी स्टॉकहोम में इस वर्ष नोबेल पुरस्कार समारोह ऑनलाइन आयोजित किया गया।

लड़कियों की लिए मुश्किल

सोशल मीडिया स्त्रियों के लिए एक प्रतिकूल जगह है, ऐसी शिकायतें पहले भी आई थीं। अब एक ताजा सर्वे से यह सामने आया है कि ऑनलाइन दुर्व्यवहार और उत्पीड़न के कारण लड़कियां सोशल मीडिया छोड़ने को मजबूर हो रही हैं।

और लोड करें