कायद-ए-आजम से भी कायदे से पेश नहीं आया पाकिस्तान, मौत के 50 साल बाद भी कोर्ट में चल रहा है केस…

भारत और पाकिस्तान के बीच के बंटवारे के पीछे मोहम्मद अली जिन्ना को जिम्मेवार ठहराया जाता है. जिन्ना ने ही धर्म के आधार…

महंगाई से परेशान हो रही है जनता, मंत्री जी ने कह दिया कम खाओ…

पीओके के गिलगित बलूचिस्तान मामले के संघीय मंत्री अली अमन गंडापुर ने महंगाई पर लोगों को चाय में कम चीनी डालकर और कम रोटी खाकर जीवन जीने की सलाह दी है…

Money Heist वालों ने भी Pakistan को उसकी औकात के अनुसार काम दिया है

पाकिस्तान की इमेज पूरी दुनिया में अच्छी नहीं है। इन दिनों चर्चित वेब सीरीज मनी हीस्ट में यह दिखाया गया है कि पाकिस्तान को हैकिंग और अपराधियों की मदद जैसे गैरकानूनी काम के लिए कितना उपयोग लिया जाता है।

मंदिर में तोड़फोड़ को लेकर भारत ने दिखाया सख्त रवैया, पाक उच्चायुक्त तलब, पाकिस्तान ने दिए कार्रवाई के आदेश

नई दिल्ली | Hindu Temple Destroyed Pakistan: पाकिस्तान ने आज सारी हदें पार करते हुए एक और घिनौना काम किया है। पाकिस्तान के लोगों ने हिन्दुओं की धार्मिक भावनाओं ठेस पहुंचाते हुए रहीमयार खान इलाके में गणेश मंदिर में तोड़फोड़ की है। इस हमले की घटना पर भारत ने गंभीर चिंता जताई है। भारत ने पाकिस्तान के उच्चायोग प्रमुख को तलब कर अपना सख्त ऐतराज जताया है। भारत ने दिल्ली स्थित पाकिस्तानी उच्चायोग के मिशन प्रमुख आफताब हसन खान को विदेश मंत्रालय तलब कर सख्त नाराजगी दर्ज कराई और कहा कि हमने देखा है कि, भीड़ ने मंदिर पर हमला किया, तोड़फोड़ की और मूर्तियों को नुकसान पहुंचाया गया। मंदिर के आसपास रहने वाले हिंदुओं के घरों को भी नुकसान पहुंचाया। जो कतई सहन करने लायक नहीं है। ये भी पढ़ें:- Rajasthan में पंचायतीराज चुनावों  की घोषणा, कोरोना के बीच 3 चरणों में चुनाव, 4 सितंबर को मतगणना भारत के सख्त रवैये और आलोचना होने पर पाकिस्तान ने दिए कार्रवाई के आदेश पाकिस्तान में गणेश मंदिर में तोड़फोड़ को लेकर भारत के सख्त रवैये और चारों ओर से आलोचना का शिकार होने के बाद पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने इस मुद्दे पर ट्वीट करते हुए कहा है कि, भोंग के… Continue reading मंदिर में तोड़फोड़ को लेकर भारत ने दिखाया सख्त रवैया, पाक उच्चायुक्त तलब, पाकिस्तान ने दिए कार्रवाई के आदेश

पाकिस्तान का नया सिरदर्द

पाकिस्तान में इमरान-सरकार की मुसीबतें एक के बाद एक बढ़ती ही चली जा रही हैं। उसे तहरीके-लबायक पाकिस्तान नामक राजनीतिक पार्टी पर प्रतिबंध भी लगाना पड़ गया और प्रतिबंध के बावजूद उससे बात भी करनी पड़ रही है। इस पार्टी पर इमरान-सरकार ने प्रतिबंध इसलिए लगाया है कि उसने पाकिस्तान के शहरों और गांवों में जबर्दस्त आंदोलन खड़ा कर दिया। कोरोना के बावजूद हजारों लोग सड़कों पर डटे हुए हैं। वे मांग कर रहे हैं कि फ्रांसीसी राजदूत को पाकिस्तान सरकार निकाल बाहर करे। क्यों ? क्योंकि फ्रांस में सेमुअल पेटी नामक एक अध्यापक ने पैगंबर मुहम्मद का कार्टून अपनी कक्षा में छात्रों को खोलकर दिखाया था। इस पर चेचन्या मूल के एक मुस्लिम नौजवान ने उसकी हत्या कर दी थी। उसे लेकर फ्रांसीसी सरकार ने मस्जिदों और मदरसों पर तरह-तरह के प्रतिबंध लगा दिए थे। पिछले साल हुए इस कांड के समय से ही तहरीके-लबायक मांग कर रही थी कि फ्रांस और यूरोपीय देशों के इस इस्लाम-विरोधी रवैए का पाकिस्तान डटकर प्रतिकार करे। प्रधानमंत्री इमरान खान ने यूरोपीय राष्ट्रों के इस रवैए की आलोचना भी की लेकिन उन्होंने फ्रांस से राजनयिक संबंध तोड़ने का समर्थन नहीं किया। इसीलिए अब तहरीके-लबायक ने इमरान-सरकार के खिलाफ देश-व्यापी आंदोलन छेड़ दिया है।… Continue reading पाकिस्तान का नया सिरदर्द

इमरान खान के रेप वाले बयान पर उनकी पूर्व पत्नियों ने ही घेरा, एक ने कहा-अपने प्राइवेट पार्ट को…

New Delhi: प्‍लेबॉय की छवि से बाहर आकर पाकिस्तान (Pakistan)  के पीएम बने इमरान खान (Prime Minister Imran Khan) के दिये गये बयानों पर विवाद होना आम बात है. कई बार उनकी अपनी पार्टी के नेता ही उनके दिये हुए बयान के साथ इत्तेफाक नहीं रखते है. ऐसे में एक बार फिर से रेप (rape) पर दिये गये एक बयान पर इमरान खान को उनकी ही पूर्व पत्नियों  (ex-wives) ने ही घेर लिया है. इमरान के लिए अभी का समय अच्छा नहीं चल रहा है. आतंकि घटनाओं को लेकर पाकिस्तान के पीएम दुनियाभर के नेताओं के बीच आलोचनाओं के शिकार हो रहे हैं.  इसी बीच उन्हें अपनी पूर्व पत्नी से झाड़ मिल गई है. इमरान की पूर्व पत्नी  जेमिमा (Jemima)  ने कुरान का हवाला देते हुए कहा कि पुरुषों के आंख पर पर्दा करने की सीख दी गई है ना कि महिलाओं को पर्दा करने के लिए. वहीं इमरान की दूसरी पूर्व पत्‍नी ने पीएम को मुंह बंद रखने की भी नसीहत दे दी.  बता दें कि इससे पहले इमरान खान ने कहा था कि रेप से बचने के लिए पाकिस्‍तानी महिलाओं को पर्दा करना चाहिए. जमकर इमरान पर बरसी जेमिमा जेमिमा ने इमरान के इस बयान पर कहा कि… Continue reading इमरान खान के रेप वाले बयान पर उनकी पूर्व पत्नियों ने ही घेरा, एक ने कहा-अपने प्राइवेट पार्ट को…

एफएटीएफ ने पाकिस्तान को दी चेतावनी

इस्लामाबाद। आतंकवादियों को होने वाली फंडिंग और हवाला के जरिए उनके लिए होने वाले पैसे के लेन देन यानी धनशोधन पर नजर रखने वाली अंतरराष्ट्रीय संस्था फाइनेंशियल एक्शन टास्क फोर्स, एफएटीएफ ने पाकिस्तान को ग्रे सूची से बाहर होने के लिए चार महीने का समय और दिया है। साथ ही चेतावनी देते हुए पाकिस्तान को जून 2020 तक 27 बिंदुओं वाले एक्शन प्लान पर पूरी तरह अमल करने के लिए कहा है। यदि पाकिस्तान ऐसा करने में सफल रहा तो उसे ग्रे सूची से बाहर किया जा सकता है। अगर ऐसा नहीं हुआ तो उसे काली सूची में डाल दिया जाएगा। इससे पहले, एफएटीएफ ने गुरुवार को ही पाकिस्तान को ग्रे लिस्ट में बरकरार बनाए रखने की घोषणा की थी। डॉन न्यूज ने सूत्रों के हवाले से कहा है- 16 फरवरी से बैठक शुरू हुई है। पाकिस्तान अपना पक्ष रख चुका है। उसने 27 बिंदुओं में से 14 पर कदम उठाने का दावा किया। यहीं कारण है कि एफटीएफ ने पाकिस्तान को ग्रे लिस्ट से बाहर होने के लिए अतिरिक्त समय दिया है। इस दौरान उसे बाकी के 13 बिंदुओं पर कार्रवाई करने के लिए कहा गया है। गौरतलब है कि इस बार चीन ने बैठक में पाकिस्तान को ग्रे… Continue reading एफएटीएफ ने पाकिस्तान को दी चेतावनी

ग्रे सूची में ही रहेगा पाकिस्तान

नई दिल्ली। आतंकवादियों को प्रश्रय देने और उनकी मदद करने के मामले में पाकिस्तान फिलहाल राहत मिल गई है। वह काली सूची में डाले जाने और नई पाबंदियां लगाए जाने से बच गया है। टेरर फंडिंग और धनशोधन पर नजर रखने वाली अंतरराष्ट्रीय संस्था फाइनेंशियल एक्शन टास्क फोर्स, एफएटीएफ पाकिस्तान को ग्रे लिस्ट में बनाए रखने का फैसला किया है। इस मामले में तुर्की और मलेशिया ने पाकिस्तान को अपना समर्थन दिया है। गौरतलब है कि  एफएटीएफ ने जून 2018 में पाकिस्तान को ग्रे लिस्ट में डाल दिया था। इस अंतरराष्ट्रीय संस्था ने पाकिस्तान को काली सूची से बचने के लिए 27 सूत्री एक्शन प्लान सौंपा था। अगर पाकिस्तान इस प्लान पर ठीक से काम नहीं करता है तो संस्था उसे ब्लैक लिस्ट कर सकती है। इसी के चलते पाकिस्तान पिछले कुछ दिनों से एफएटीएफ को धोखा देने में लगा है। बताया जा रहा है कि पाकिस्तान अपने प्रयास में कामयाब हो गया है और पेरिस में हुई एफएटीएफ की बैठक में उसे ग्रे सूची में ही रखने का फैसला हुआ है। गौरतलब है कि 12 फरवरी को आतंकी संगठन जमात उद दावा के सरगना हाफिज सईद को सजा सुनाई गई थी। इसके महज पांच दिन बाद जैश ए मोहम्मद… Continue reading ग्रे सूची में ही रहेगा पाकिस्तान

पाक को कश्मीर पर करारा झटका

इस्लामाबाद। जम्मू-कश्मीर के विशेष राज्य का दर्जा खत्म कर इसे दो केंद्र शासित प्रदेशों में विभाजित करने से बौखलाये और विश्व के विभिन्न मंचों पर इस मुद्दे पर पटखनी खाने के बाद पाकिस्तान को अब सऊदी अरब ने जोरदार झटका दिया है। पाकिस्तान कश्मीर के मसले को इस्लामिक सहयोग संगठन (ओआईसी) की बैठक में जम्मू-कश्मीर का मसला उठाने के लिए आतुर था लेकिन सऊदी अरब के मना करने से उसके मंसूबे पर एक बार फिर पानी फिर गया। चार महादेशों के 57 देश के सदस्य वाले इस संगठन के वरिष्ठ अधिकारियों की नौ फरवरी को सऊदी अरब के जेद्दा में बैठक होनी है। पाकिस्तान चाहता था कि मुस्लिम देशों के इस संगठन में वह कश्मीर का मुद्दा उठाकर सहानुभूति बटोरे लेकिन सऊदी अरब को यह मंजूर नहीं है। पाकिस्तान मीडिया में आई रिपोर्टों के अनुसार पाकिस्तान ओआईसी के विदेश मंत्रियों की बीच कश्मीर मसले पर तत्काल चर्चा के लिए पूरा जोर लगा रहा था लेकिन सऊदी अरब ने साफ-साफ मना कर दिया। पड़ोसी देश के विदेश मंत्री ने ओआईसी बैठक को देखते हुए कहा था कि कश्मीर मसले पर मुस्लिम राष्ट्रों को एकजुटता का संदेश देना चाहिए लेकिन सऊदी अरब ने इसे सिरे से खारिज कर दिया। पाकिस्तान का मित्र… Continue reading पाक को कश्मीर पर करारा झटका

और लोड करें