kishori-yojna
श्रीलंका में 20 जुलाई को राष्ट्रपति चुनाव

श्रीलंका के राष्ट्रपति गोटबाया राजपक्षे देश छोड़ कर भाग गए हैं या देश में ही हैं, इसे लेकर अटकलें चल रही हैं।

राष्ट्रपति चुनाव का मुद्दा

राष्ट्रपति चुनाव में विपक्ष के उम्मीदवार यशवंत सिन्हा की सत्ता पक्ष की उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू से यह मांग दिलचस्प है कि वे रबर स्टांप राष्ट्रपति नहीं बनेंगी।

बिना मांगे मुर्मु को कई पार्टियों का समर्थन

विपक्षी पार्टियों ने यशवंत सिन्हा को राष्ट्रपति पद का साझा उम्मीदवार बनाया है। वे झारखंड से आते हैं और हजारीबाग सीट से सांसद होते रहे हैं।

गोपाल गांधी का भी इनकार

विपक्षी पार्टियों की दूसरी बैठक से पहले ही राष्ट्रपति पद के लिए सुझाए गए नामों का एक-एक करके इंकार।

आज तय होगा विपक्षी उम्मीदवार?

पहले ममता बनर्जी की पहल पर आम आदमी पार्टी, तेलंगाना राष्ट्र समिति और कम्युनिस्ट पार्टियां नाराज थीं तो अब ममता बनर्जी नाराज हैं।

भाजपा ने प्रबंधन के लिए बनाई 14-सदस्यीय की टीम…

राष्ट्रपति चुनाव को देखते हुए भाजपा ने सभी राज्य इकाइयों और सहयोगी दलों के बीच बेहतर समन्वय के लिए शुक्रवार को 14-सदस्यीय दल प्रबंधन दल…

फिर गांधी के पोते की याद आई

गोपाल गांधी के दादा महात्मा गांधी थे और नाना राजगोपालाचारी थे। इसलिए जो पार्टियां भाजपा के साथ नहीं हैं या नहीं जा सकती हैं उनको गोपाल गांधी के नाम पर अपने साथ लाया जाए।

ममता के प्रयास से कांग्रेस सहमत नहीं

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री और तृणमूल कांग्रेस की अध्यक्ष ममता बनर्जी फिर से सक्रिय हुई हैं। उन्होंने राष्ट्रपति चुनाव के बहाने विपक्ष को एकजुट करने का प्रयास शुरू किया है।

अगले सप्ताह से राष्ट्रपति चुनाव

राष्ट्रपति चुनाव के लिए मतदाताओं की कुल संख्या 4,809 है, जिसमें 776 सांसद और 4,033 विधायक।

Presidential Election : निर्वाचन आयोग ने की घोषणा-18 जुलाई को होगा राष्ट्रपति पद के लिए चुनाव, परिणाम…

मुख्य निर्वाचन आयुक्त राजीव कुमार ने कहा कि राष्ट्रपति कोविंद का कार्यकाल 24 जुलाई को समाप्त हो रहा है और उनके उत्तराधिकारी को….

राष्ट्रपति चुनाव के लिए कांग्रेस की तैयारी

कांग्रेस के साथ मुश्किल यह है कि उसके नेतृत्व वाला यूपीए अब नहीं है या है तो उसमें गिनी चुनी पार्टियां हैं।

राष्ट्रपति चुनाव का तीसरे मोर्चे का अभियान

कांग्रेस से बुरी तरह से नाराज हुए बैठे अखिलेश यादव इस मोर्चे को हवा दे रहे हैं। हैरानी नहीं होगी अगर ममता बनर्जी भी इस मोर्चे में शामिल हो जाएं।

भाजपा को किसी मदद की जरूरत नहीं

अगले महीने राष्ट्रपति पद का चुनाव होना है लेकिन अभी तक कोई वास्तविक तैयारी या जोड़-तोड़ होता नहीं दिख रहा है। इसका एकमात्र कारण यह है कि राष्ट्रपति चुनाव में किसी उलटफेर की कोई संभावना नहीं है।

नामों की चर्चा बेवजह हो रही है

राष्ट्रपति पद के लिए भाजपा की ओर से जिन उम्मीदवारों के नाम की चर्चा हो रही है वह सब बेवजह है। सिर्फ अटकल लगाने के लिए अटकल लगाई जा रही है।

तीसरा मोर्चा भी लड़ेगा राष्ट्रपति चुनाव

जुलाई में राष्ट्रपति का चुनाव होना है और माना जा रहा है कि जून में इसकी प्रक्रिया शुरू होगी। इस मामले में अभी तक किसी पार्टी ने अपने पत्ते नहीं खोले हैं।

और लोड करें