बड़ी सफलता! जम्मू में दो आतंकी गिरफ्तार, हिज्बुल मुजाहिद्दीन को दे रहे थे भारतीय सेना की सूचना, कई हथियार बरामद

ये दोनों आतंकवादी कश्मीर घाटी के अनंतनाग में सक्रिय हिजबुल के आतंकियों के साथ संपर्क में थे और सुरक्षाबलों के ठिकानों की जानकारियां हिजबुल के आतंकियों तक भेज रहे थे…

CORONA VACCINE : कोरोना की जंग में वैक्सीन है हथियार, जानिए युवाओं को क्यों जरूरी है वैक्सीन लगवाना

कोरोना की जंग में वैक्सीन ही ढ़ाल है। भारत में कोरोना की दूसरी लहर चल रही है जो आग की तरह फैल रही है। जो युवाओं को बच्चों को अपना शिकार बना रही है। कोरोना वैक्सीन लगवाने का दूसरा चरण चल रहा है। और 1 मई से तीसरा चरण शुरु हो जाएगा। हाल ही में भारत सरकार ने यह घोषणा की है कि 18 साल से ज्यादा उम्र के लोगों को 1 मई से कोरोना का टीका लगेगा।अब तक सिर्फ 45 वर्ष से अधिक आयु के लोग ही वैक्सीन लगवा सकते थे। देश के युवाओं को ज्यादा संख्या में कोरोना की वैक्सीन लगवानी चाहिए। क्योंकि यह वायरस युवाओं को ही अधिक मात्रा में संक्रमित कर रहा है। कई देश कोरोना की वैक्सीन से कोरोना मुक्त हो गये है। लेकिन अब बड़ा सवाल यह है कि क्या हमारे देश के युवा वैक्सीन लगवाना चाहते हैं या नहीं? अगर आपके मन में भी वैक्सीन लगवाने को लेकर कोई सवाल या डर है तो आइए जानते हैं वैक्सीन लगवाना युवाओं के लिए क्यों जरूरी है.. इसे भी पढ़ें Amethi: नाना के लिए ऑक्सीजन मांगने वाला युवक निकला फेक, अफवाह फैलाने का दर्ज हुआ मामला वैक्सीनेशन के बाद सामान्य जीवन जीने लगे लोग तेज़ी से… Continue reading CORONA VACCINE : कोरोना की जंग में वैक्सीन है हथियार, जानिए युवाओं को क्यों जरूरी है वैक्सीन लगवाना

कोरोना अपडेट : 18 से वर्ष से अधिक लोग कोविन ऐप से करवा सकेंगे रजिस्ट्रेशन, पीएम ने कहा- कोरोना से लड़ाई में वैक्सीनेशन सबसे बड़ा हथियार

पूरे देश में कोरोना ने हाहाकार मचा रखी है। एक दिन में कोरोना के 3 लाख से अधिक मामले सामने आ रहे है। और 2 हजार लोग अपनी जान गवां रहे है। भारत में कोरोना का टीकाकरण चरम पर है। केंद्र और राज्य सरकार जनता से टीका लगवाने की अपील कर रही है। भारत में दो वैक्सीन का टीकाकरण किया जा रहा है। जो भारत में ही बनी है। 1 मई से वैक्सीनेशन के तीसरे चरण के तहत 18 साल से अधिक उम्र के लोगों का वैक्सीनेशन शुरू हो रहा है। इसके लिए गुरुवार को घोषणा की गई है कि 18 से अधिक आयु का हर शख्स अब कोरोनावैक्सीन के लिए शनिवार से कोविन ऐप पर रजिस्ट्रेशन करवा सकेगा। इसे भी पढ़ें राजस्थान: CM Ashok Gehlot ने की ‘Free Vaccination’ की मांग, कहा- युवाओं से पैसे लेना उचित नहीं पीएम मोदी ने की घोषणा हाल ही में पीएम मोदी ने घोषणा की है कि 18 साल से अधिक उम्र के लोगों को वैक्सीन 1 मई से लगेगी। यह टीकाकरण का तीसरा चरण होगा। भारत में 16 जनवरी से कोरोना का टीका लगाया जा रहा है। इसी के साथ ही भारत में चिकित्सा सेवाओं की हालत खराब है। ऑक्सीजन की किल्ल्त पूरे… Continue reading कोरोना अपडेट : 18 से वर्ष से अधिक लोग कोविन ऐप से करवा सकेंगे रजिस्ट्रेशन, पीएम ने कहा- कोरोना से लड़ाई में वैक्सीनेशन सबसे बड़ा हथियार

सफलता: जैश-ए-मोहम्मद के दो आतंकियों को भारतीय सेना ने किया ढ़ेर

New Delhi: भारतीय सेना (Indian Army) को एक और बड़ी कामयाबी (Great Success) हासिल हुई है. भारतीय सेना के सुरक्षाबलों ने दोनों आतंकवादियों को ढ़ेर कर दिया है. जानकारी के अनुसार दक्षिण कश्मीर (South Kashmir) के कांडीपोरा (Kandipora) के एक मकान में दो आतंकवादियों (Terrorists) के छिपे होने की सूचना सुरक्षा बलों को मिली थी. कल शाम के छह बजे तक भारतीय सेना ने आतंकवादियों को कई बार आत्मसमर्पण (Surrender) करने का मौका दिया. इसके बाद भी आतंकवादी गोली बारी (Firing) करते रहे. इसके बाद आतंकवादियों ने गांव के एक मकान के लोगों को बंदी बनाकर वहां से भागने का प्रयास किया. लेकिन भारतीय सेना के जवानों ने आतंकियों की इस साजिश को नाकाम कर दिया. साथ ही, मकान में फंसे ग्रामीणों को सुरक्षित बाहर निकाल लिया. देर रात तक आतंकी रूक-रूक कर फायरिंग करते रहे. इसके बाद मौका मिलते ही सेना के जवानों ने आतंकियों को मार गिराया. जैश-ए-मोहम्मद संगठन के थे आतंकी दोनो आतंकवादियों के बारे में अबतक मिली जानकारी के अनुसार दोनों ही जैश-ए-मोहम्मद संगठन के बताए जा रहे है. हालांकि अभी जांच एजंसियों द्वारा इसकी जांच की जा रही है. साथ ही सेना का सर्च ऑपरेशन अब भी ज़ारी है. सेना के जवानों को आस-पास के… Continue reading सफलता: जैश-ए-मोहम्मद के दो आतंकियों को भारतीय सेना ने किया ढ़ेर

वन अधिकारियों को बुलेटप्रुफ जैकेट और हथियार दें : सुप्रीम कोर्ट

निहत्थे वन अधिकारियों पर शिकारियों द्वारा किए गए क्रूर हमले पर गंभीर चिंता व्यक्त करते हुए, सुप्रीम कोर्ट ने आज राज्य सरकारों से असम मॉडल का पालन करने और वन रक्षकों को हथियार और बुलेटप्रूफ जैकेट प्रदान करने को कहा। प्र

मप्र में कांग्रेस ने ‘सोशल मीडिया’ को बनाया हथियार

मध्य प्रदेश में होने वाले विधानसभा उपचुनाव को लेकर कांग्रेस ने सोशल मीडिया को भाजपा पर सियासी हमले करने का बड़ा हथियार बनाया है।

सेना ने एलओसी के पास कई ठिकानों का भंडाफोड़ किया

सेना ने कहा कि उसने कश्मीर में नियंत्रण रेखा (एलओसी) के पास कई ठिकानों का भांडाफोड़ किया है और भारी संख्या में हथियार और गोला-बारूद बरामद किए हैं।

विज्ञान को बनाएं समावेशी विकास का हथियार : कोविंद

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने विज्ञान को समावेशी विकास का हथियार बनाने की अपील करते हुये कहा कि आम लोगों के विकास और समृद्धि के लिए यह जरूरी है

1800 उद्योगों के साथ मिलकर काम कर रहा डीआरडीओ : जी. सतीश

रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (डीआरडीओ) के चेयरमैन जी. सतीश रेड्डी ने कहा कि डीआरडीओ 1800 उद्योगों के साथ मिलकर काम कर रहा है।

उप्र: कांग्रेस अब किसानों की समस्याओं को बनाएगी हथियार

उत्तर प्रदेश में कांग्रेस पार्टी अब किसानों की समस्याओं को हथियार बनाने जा रही है। इसके लिए वह प्रदेशव्यापी अभियान चलाएगी।

महिला अपराधों को हथियार बनाकर मैदान में उतरेगी कांग्रेस

मिशन-2022 की तैयारी कर रही कांग्रेस उत्तर प्रदेश में महिला अपराधों को बड़ा हथियार बनाकर मैदान में उतरना चाह रही है। इसी रणनीति को कारगर बनाने के लिए प्रियंका गांधी वाड्रा ने अपनी नई टीम को तैयारी करने के लिए कहा है।

परमाणु हथियारों की संख्या कम करने को तैयार: चीन

मास्को। चीन ने कहा है कि वह हथियारों पर नियंत्रण को लेकर अमेरिका-रूस के बीच जारी बातचीत में शामिल नहीं होगा लेकिन अपने परमाणु हथियारों की संख्या कम करने को तैयार है। चीन के विदेश मंत्रालय के हथियार नियंत्रण एवं निरस्त्रीकरण विभाग के महानिदेशक फू कोंग ने शुक्रवार को एक वक्तव्य जारी कर यह जानकारी दी। फू ने मास्को अप्रसार सम्मेलन में कहा, हम दोनों परमाणु महाशक्तियों से परमाणु हथियारों की संख्या और कम करने का आग्रह करते हैं ताकि अन्य परमाणु हथियार संपन्न देश हथियारों की संख्या कम करने को लेकर बातचीत में शामिल हो सकें। उन्होंने कहा कि चीन किसी भी प्रकार की बातचीत में शामिल नहीं है लेकिन अपने परमाणु हथियारों की संख्या कम करने को लेकर तैयार है। फू ने कहा, अमेरिका को अपनी वैश्विक मिसाइल रक्षा प्रणाली विकसित करने और उसे तैनात करने से बचना चाहिए। अमेरिका और रूस के बीच नये सिरे से बातचीत शुरू होनी चाहिए।

और लोड करें