nayaindia Isreal Hamas war गाजा में बंधकों की रिहाई शुरू
Trending

गाजा में बंधकों की रिहाई शुरू

ByNI Desk,
Share

तेल अवीव। इजराइल और हमास के बीच 48 दिन की जंग के बाद शुक्रवार को अस्थायी शांति बहाल हुई। हमला शुरू होने के 49वें दिन जंग थम गई और एक समझौते के तहत बंधकों की रिहाई शुरू हो गई। पहले दिन हमास ने इजराइल के 13 और थाईलैंड के 12 नागरिकों को छोड़ा है। थाईलैंड के प्रधानमंत्री श्रेथा थाविसिन ने सोशल मीडिया पर एक पोस्ट के जरिए अपने नागरिकों को छोड़े जाने की जानकारी दी। उन्होंने सोशल मीडिया में लिखा- हमास ने हमारे 12 नागरिकों को छोड़ दिया है। दूतावास के अधिकारी उन्हें लेने जा रहे हैं।

थाईलैंड के 12 नागरिकों के अलावा समझौते के तहत हमास ने इजराइल के 13 बंधकों को भी रिहा कर दिया है। इस तरह युद्धविराम के पहले दिन हमास ने 25 बंधक रिहा किए हैं। ‘टाइम्स ऑफ इजराइल’ ने बताया है कि 13 इजराइली बंधकों को रिहा कर दिया गया है और रिहा किए गए सभी 25 बंधक मिस्र की राफा सीमा पर पहुंच गए हैं। उन्हें गाजा से मिस्र के रास्ते इजराइल के हत्जेरिम एयरबेस लाया जाएगा। इजराइल ने बंधकों को वापस लाए जाने वाले इस ऑपरेशन को ‘हैवन्स डोर’ नाम दिया है। इनके बदले में पहले दिन इजराइल की ओर से फिलस्तीन के 39 नागरिक रिहा किए जाएंगे।

बहरहाल, शुक्रवार को थाईलैंड सरकार ने बताया कि उसके 26 नागरिकों को हमास ने बंधक बनाया था। थाईलैंड के प्रधानमंत्री के जानकारी देने से पहले मिस्र ने बताया था कि थाईलैंड के 12 बंधकों को छोड़ने पर भी सहमति बन गई है। गौरतलब है कि युद्धविराम के पहले दिन शुक्रवार को इजराइल के 13 बंधकों को छोड़ने पर सहमति बनी थी। इनसे अलग थाईलैंड के 12 नागरिकों को छोड़ा गया है।

इससे पहले इजराइल और हमास के बीच शुक्रवार से चार दिन के लिए युद्धविराम शुरू हो गया है। गाजा में इजराइली हमले में 14 हजार से ज्यादा लोगों की मौत के बाद इजराइल ने हमले बंद कर दिए हैं। युद्धविराम की शुरुआत सुबह सात बजे यानी भारतीय समय के मुताबिक साढ़े 10 बजे हुई। ‘टाइम्स ऑफ इजराइल’ के मुताबिक घड़ी में सात बजते ही इजराइल ने गाजा में हमले बंद कर दिए। गौरतलब है कि कतर और मिस्र की मध्यस्थता के बाद इजराइल और हमास युद्धविराम के लिए राजी हुए थे। इसके तहत 50 इजराइली बंधकों की रिहाई के बाद इजराइल डेढ़ सौ फिलस्तीनी बंधक रिहा करेगा।

बहरहाल, पहले युद्धविराम गुरुवार से लागू होना था लेकिन दस्तावेजों पर दस्तखत नहीं हो पाने की वजह से इसे शुक्रवार लागू किया गया। युद्धविराम से एक दिन पहले गुरुवार को इजराइली सेना ने हमास नेवी के कमांडर अमर अबु जलाला सहित कई लड़ाकों को मार गिराया। रक्षा मंत्री योव गैलेंट ने युद्धविराम से पहले सैनिकों से मुलाकात की। उन्होंने कहा- जब युद्ध दोबारा शुरू होगा, तब हम पूरी ताकत से लड़ेंगे। ये जंग अभी करीब दो महीने और चलेगी। हमारा लक्ष्य हमास को पूरी तरह से मिटाना है। युद्धविराम के दौरान हम हमास के ठिकानों का पता लगाकर, खुद को और तैयार करेंगे।

युद्धविराम से एक दिन पहले गुरुवार को इजराइली सेना ने कहा कि लेबनान के आतंकवादी संगठन हिजबुल्ला ने इजराइल की तरफ 50 रॉकेट दागे। इनमें से 20 लेबनान में ही गिर गए। जवाबी कार्रवाई में इजराइली सैनिकों ने हिजबुल्ला के कई ठिकाने तबाह कर दिए। गौरतलब है कि हमास के हमले के एक दिन बाद यानी आठ अक्टूबर से हिजबुल्ला इजराइल में हमले कर रहा है।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

और पढ़ें

Naya India स्क्रॉल करें