nayaindia parliament security breach सुरक्षा में सेंधमारी बेरोजगारी के कारण: राहुल
Trending

सुरक्षा में सेंधमारी बेरोजगारी के कारण: राहुल

ByNI Desk,
Share

नई दिल्ली। कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने संसद की सुरक्षा में चूक को लेकर बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा है कि संसद की सुरक्षा में चूक हुई है लेकिन उसके पीछे असली कारण महंगाई और बेरोजगारी है। राहुल ने कहा है कि देश के युवा बेरोजगारी से परेशान हैं। उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार की आर्थिक नीतियों पर सवाल उठाते हुए कहा कि सरकार की गलत नीतियों के कारण महंगाई और बेरोजगारी बढ़ रही है, जिससे लोग परेशान हैं।

गौरतलब है कि बुधवार को चार लोग संसद के अंदर घुस गए थे, जिनमें से दो ने दर्शक दीर्घा से लोकसभा के अंदर छलांग लगा दी थी और स्मोक केन से धुआं फैला दिया था। उस समय राहुल गांधी भी सदन में मौजूद थे। घटना के तीन दिन बाद शनिवार को पहली बार राहुल गांधी ने इस मसले पर बयान दिया। उन्होंने कहा- सिक्योरिटी ब्रीच है, वो तो है, लेकिन ये क्यों हुई? देश में इस समय जो सबसे बड़ा मुद्दा है, वो बेरोजगारी है। मोदी जी की पॉलिसीज के कारण देश के युवाओं को रोजगार नहीं मिल रहा। सिक्योरिटी ब्रीच जरूर हुई है, लेकिन इसका सबसे बड़ा कारण बेरोजगारी और महंगाई है।

कांग्रेस के जानकार सूत्रों के मुताबिक राहुल गांधी इस घटना का रुख बेरोजगारी और महंगाई की ओर मोड़ना चाह रहे हैं। यह भी कहा जा रहा है कि वे एक बार फिर भारत जोड़ो यात्रा पर निकलने वाले हैं, जिसकी मुख्य थीम आम लोगों के मुद्दों पर केंद्रित हो सकती है। इसमें बेरोजगारी और महंगाई मुख्य होंगे। अगले महीने उनकी यात्रा पूर्वोत्तर से शुरू हो सकती है। चुनाव से ठीक पहले उनकी इस यात्रा से कांग्रेस उन राज्यों में लोगों तक पहुंचना चाहती है, जहां पिछली भारत जोड़ो यात्रा नहीं पहुंची थी।

बहरहाल, संसद की सुरक्षा में सेंध पर कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा- यह एक गंभीर मुद्दा है। इस पर सरकार को ध्यान देना चाहिए। हम बार बार सदन में मांग कर रहे हैं कि केंद्रीय मंत्री यहां आए और बयान दें, लेकिन वह आना नहीं चाहते हैं। वह सदन को चलने देने के लिए तैयार नहीं है। यह लोकतंत्र के लिए सही नहीं है। कांग्रेस के संगठन महासचिव केसी वेणुगोपाल ने कहा है कि इस घटना को आतंकवादी हमला दिल्ली पुलिस ने बताया है, विपक्ष ने नहीं बताया है। उन्होंने कहा है- विपक्षी पार्टियों ने इस घटना का राजनीतिकरण नहीं किया है और न ही इसे आतंकी हमला बताया है। हम केवल सरकार की तरफ से सुरक्षा में भारी चूक पर अपनी चिंता जता रहे हैं।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

और पढ़ें

Naya India स्क्रॉल करें