nayaindia It Was Difficult Last Over By The Spinner Shikhar Dhawan आखिरी ओवर स्पिनर से कराना भारी पड़ा: शिखर धवन
खेल समाचार

आखिरी ओवर स्पिनर से कराना भारी पड़ा: शिखर धवन

ByNI Desk,
Share

धर्मशाला। बुधवार को पंजाब किंग्स (Punjab Kings) की टीम को दिल्ली कैपिटल्स (Delhi Capitals) के हाथों 15 रनों से हार का सामना करना पड़ा। इस हार के बाद पंजाब के कप्तान शिखर धवन (Shikhar Dhawan) ने कहा है कि उन्होंने अब इस चीज की उम्मीद छोड़ दी है कि प्लेऑफ (Playoff) में पहुंचने के लिए कोई परिणाम उनके पक्ष में जाएगा। साथ ही वह अपने गेंदबाजों से काफी निराश थे क्योंकि उन्होंने प्लान के मुताबिक गेंदबाजी नहीं की। तेज गेंदबाजों को मदद देने वाली परिस्थितियों में पंजाब के गेंदबाज पावरप्ले में ठीक से गेंदबाजी नहीं कर पाए। सैम करन, कैगिसो रबाडा, अर्शदीप सिंह और नाथन एलिस (Nathan Ellis) की गेंदबाजी के दौरान तीसरे और छठे ओवर के बीच सात चौके और तीन सिक्सर लगाए गए। फिजूलखर्ची के उन ओवरों के दौरान दिल्ली की टीम को काफी फायदा हुआ।

ये भी पढ़ें- http://जम्मू-कश्मीर के पुंछ जिले में आतंकी ठिकाने का भंडाफोड़

पहली 16 गेंदो पर दिल्ली की टीम ने 11 रन बनाए और उसके बाद पावरप्ले के खत्म होते-होते उन्होंने 61 रन बना लिए। तेज गेंदबाजों को जिस तरह से रन पड़ रहे थे, उसके कारण धवन को एक बड़ा फैसला लेते हुए 16वां, 18वां और 20वां हरप्रीत बराड़ से करवाना पड़ा, जो एक गलत फैसला साबित हुआ। उस समय राइली रुसो (Riley Russo) बढ़िया लय के साथ अपनी पारी को आगे बढ़ा रहे थे और इसका उन्होंने पूरा फायदा उठाया। अंतिम ओवर में तो वह 23 रन बना कर दिल्ली को 200 के पार लेकर चले गए। धवन ने कहा आखिरी ओवर में स्पिनर से गेंदबाजी कराने का मेरा फै़सला भी उल्टा पड़ गया। इससे पहले भी मेरे तेज गेंदबाज (एलिस) को भी (19वें ओवर में) 18 रन पड़े थे। उन दो ओवरों में हमने मैच गंवा दिया। धवन ने कहा हमने पहले छह ओवरों में अच्छी गेंदबाजी नहीं की। उस वक़्त जिस तरह से गेंद स्विंग कर रही थी, हमें उस दौरान कुछ विकेट लेने चाहिए थे।”

मौजूदा आईपीएल (IPL) में पंजाब के गेंदबाजों के द्वारा पावरप्ले में विकेट नहीं ले पाना एक अहम समस्या रही है। इस आईपीएल में उन्होंने पावरप्ले में कुल 14 विकेट लिए हैं, जो लखनऊ सुपर जायंट्स के बाद दूसरा सबसे खराब आंकड़ा है। इसके अलावा पंजाब के गेंदबाजों ने पावरप्ले में 9.20 की इकॉनमी से रन भी खर्च किये हैं। धवन ने कहा हमारे गेंदबाजों ने गेंद को ऊपर पिच नहीं किया, जबकि उन्हें यह करना चाहिए था। योजना वही थी। दुर्भाग्य से वे इसे लागू नहीं कर सके। हम विकेट लें या नहीं, यह अलग बात है। लेकिन हमें सही क्षेत्रों में गेंदबाजी करनी चाहिए, जो हम काफी लंबे समय से नहीं कर रहे हैं और इससे हमें नुकसान हो रहा है। पावरप्ले में हम हमेशा 50-60 रन दे रहे हैं और यह ठीक है लेकिन हमें विकेट भी लेने चाहिए। (आईएएनएस)

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

और पढ़ें

Naya India स्क्रॉल करें