भाषण देने से नहीं सुधरेगा बहुजन का भविष्य : चंद्रशेखर

भीम आर्मी के अध्यक्ष चन्द्रशेखर ने बहुजन समाज पार्टी (बसपा) सुप्रीमो मायावती पर इशारे-इशारे में तंज कसा और कहा कि जो गलतियां हुई, उन्हें दोहराया नहीं जाएगा।

चंद्रशेखर रावण ने मांगा गृह मंत्री का इस्तीफा

नई दिल्ली। भीम आर्मी के मुखिया चंद्रशेखर रावण ने उत्तर पूर्वी दिल्ली में हुई हिंसा के लिए गृह मंत्री का इस्तीफा मांगा है। रावण ने कहा कि देश की राजधानी दिल्ली में हुई हिंसा गृहमंत्री की विफलता है और उन्हें इसके लिए इस्तीफा देना चाहिए। चंद्रशेखर रावण ने उत्तर पूर्वी दिल्ली में हुई हिंसा में अपने किसी कार्यकर्ता की भूमिका से इनकार किया है। चंद्रशेखर शुक्रवार को दिल्ली में मौजूद थे। उन्होंने यहां अपना पक्ष रखने के लिए एक प्रेसवार्ता बुलाई थी, जिसे बाद में रद्द कर दिया गया। भीम आर्मी के मुखिया ने उत्तर पूर्वी दिल्ली में हुई हिंसा के लिए भाजपा के नेताओं को जिम्मेदार ठहराया है। उत्तर पूर्वी दिल्ली के हिंसा में भीम आर्मी के कार्यकर्ताओं का नाम आने के बाद चंद्रशेखर रावण ने इन आरोपों से साफ इनकार किया है। प्रेस वार्ता रद्द होने के बाद भी जब पत्रकारों ने रावण से इस बारे में पूछा तो उन्होंने कहा, हमारा कोई भी साथी किसी प्रकार की हिंसा में शामिल नहीं था। इतना ही नहीं भीम आर्मी के लोग हिंसा के दौरान घटनास्थल पर मौजूद तक नहीं थे। यह खबर भी पढ़ें:- मायावती के लिए नई चुनौती- चंद्रशेखर! दिल्ली में मौजूद चंद्रशेखर रावण ने कहा, जामा मस्जिद… Continue reading चंद्रशेखर रावण ने मांगा गृह मंत्री का इस्तीफा

भीम आर्मी से बसपा को मुश्किल होगी

भीम आर्मी के नेता चंद्रशेखर आजाद ने बहुजन समाज पार्टी की नेता मायावती की नींद उड़ाई है। उन्होंने अपनी पार्टी का बनाने का ऐलान कर दिया है। मायावती पिछले कुछ समय से उनको लेकर परेशान चल रही थीं पर हाल के दिनों तक चंद्रशेखर ने उनके प्रति सद्भाव दिखाया। वे बार बार कहते भी रहे कि वे कोई ऐसा काम नहीं करेंगे, जिससे दलित हितों को नुकसान हो। पर जब नागरिकता कानून पर बहुजन समाज पार्टी ने खुल कर स्टैंड लेने की बजाय परोक्ष रूप से सरकार का समर्थन कर दिया तो चंद्रशेखर को मौका मिल गया। उन्होंने अपनी पार्टी बनाने का ऐलान कर दिया। मायावती की मुश्किल यह है कि चंद्रशेखर आजाद ने दलितों के साथ साथ मुस्लिम समाज में अपने लिए बेहतर सद्भाव बनाया है। नागरिकता कानून पर उनके स्टैंड की वजह से मुस्लिम उनके साथ जुड़े हैं। दूसरी मुश्किल यह है कि उनका आधार भी पश्चिमी उत्तर प्रदेश ही है, जहां मायावती की पार्टी मजबूत है। तीसरी मुश्किल यह है कि चंद्रशेखर आजाद को ऑल इंडिया एमआईएम के नेता असदुद्दीन ओवैसी का साथ मिल सकता है। ओवैसी अब तक छोटे पैमाने पर राजनीति कर रहे थे लेकिन अब उन्होंने बड़ा दांव चलना शुरू कर दिया है। नागरिकता… Continue reading भीम आर्मी से बसपा को मुश्किल होगी

दिल्ली पुलिस मुख्यालय के बाहर प्रदर्शन

नई दिल्ली। देश की राजधानी दिल्ली के आईटीओ स्थित पुलिस मुख्यालय के बाहर रविवार को छात्रों और राजनेताओं ने जमकर प्रदर्शन किया। प्रदर्शन सुबह के 4 बजे तक चला। प्रदर्शनकारियों ने ‘दिल्ली पुलिस जामिया छोड़ो’ के नारे लगा रहे थे। कई राजनेताओं और सामाजिक कार्यकर्ता पुलिस मुख्यालय के बाहर जुटे हुए थे। दिल्ली पुलिस ने करीब 50 छात्रों को रिहा किया उसके बाद धरना खत्म हुआ। 35 छात्रों को कालकाजी पुलिस स्टेशन से, जबकि 15 छात्रों को न्यू फ्रेंड्स कॉलोनी स्टेशन से रिहा किया गया है। भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी के डी. राजा, भीम आर्मी के चंद्रश्ेाखर आजाद मौके पर मौजूद थे। पुलिस मुख्यालय पर भारी तादाद में पुलिस बल तैनात कर दिए गए थे। आईटीओ से लक्ष्मीनगर की ओर जाने वाला विकास मार्ग को बंद कर दिया गया था। प्रदर्शनकारियों के एकत्र होने के कारण वहां स्थिति तनावपूर्ण हो गई। दिल्ली के जामिया मिलिया इस्लामिया विश्वविद्यालय इलाके में हुई हिंसा के विरोध में छात्र पुलिस मुख्यालय पर जुटे थे।

और लोड करें