• शाश्वत ध्वनि नाद की पीठ, अनाहत चक्र

    अनाहत नाद अर्थात शाश्वत ध्वनि, ॐ ध्वनि। यह चक्र हृदय के निकट सीने के मध्य भाग में स्थित है। इसे हृदय केंद्र भी कहा गया है। इसका मंत्र यम है। अनाहत चक्र आत्मा की पीठ अर्थात स्थान है। अनाहत चक्र ध्वनि (नाद) की पीठ है। इस चक्र पर एकाग्रता व्यक्ति की प्रतिभा को कलाकार या रचनाकार के रूप में विकसित करने की क्षमता रखती है। इस चक्र से इच्छा पूर्ति करने में सहायक संकल्प शक्ति का उदय होता है। नवरात्रः चौथा दिन नवरात्रि के चौथे दिन नवदुर्गाओं में चतुर्थ स्वरूप कूष्माण्डा (कूष्मांडा) देवी की आराधना -उपासना की परिपाटी है। इस...

  • केजरीवाल के सांसद कहां गायब?

    आम आदमी पार्टी के इकलौते लोकसभा सांसद सुशील कुमार रिंकू पार्टी छोड़ कर भाजपा में चले गए हैं और भाजपा की टिकट पर जालंधर से चुनाव लड़ेंगे। लेकिन सवाल है कि पार्टी के 10 राज्यसभा सांसद हैं वो सारे कहां चले गए? पार्टी की ओर से रोज प्रदर्शन किया जा रहा है, राउज एवेन्यू कोर्ट से लेकर तिहाड़ जेल और हाई कोर्ट व सुप्रीम कोर्ट तक पार्टी नेताओं और कार्यकर्ताओं का जमावड़ा लगा रह रहा है लेकिन पार्टी के ज्यादातर राज्यसभा सांसद कहीं दिखाई नहीं दे रहे हैं। कई लोगों ने इस बात को नोटिस किया है कि पिछले दिनों...

  • केजरीवाल के दो करीबियों की छुट्टी

    दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल जेल गए और उधर दिल्ली सरकार में अहम जिम्मेदारी निभा रहे उनके दो करीबियों की छुट्टी हो गई। केजरीवाल के निजी सचिव बिभव कुमार को हटा दिया गया है। केजरीवाल के जेल जाने के बाद पिछले दिनों ईडी ने उनके निजी सचिव बिभव कुमार से पूछताछ की थी। सोमवार को ईडी ने शराब नीति में हुए कथित घोटाले से जुड़े मामले में उनसे पूछताछ की थी। इससे पहले ईडी ने बिभव कुमार के घर पर छापा भी मारा था। लेकिन पूछताछ के तुरंत बाद दिल्ली सरकार के विजिलेंस विभाग ने कार्रवाई शुरू की और उनको...

  • तेजस्वी, सहनी के मछली खाने का विरोध

    इन दिनों भारत की राजनीति ऐसी हो गई है कि बात बात पर सनातन धर्म खतरे में आ जा रहा है। बिहार में राजद नेता और पूर्व उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव और विकासशील इंसान पार्टी के नेता मुकेश सहनी ने मछली खाते हुए अपना वीडियो पोस्ट किया तो पटना से लेकर दिल्ली तक भाजपा के अनेक नेताओं की भावनाएं आहत हो गईं और कहा जाने लगा कि ये दोनों नवरात्रों के बीच मछली खा रहे थे इसलिए सनातन विरोधी हैं। सोचें, मछली खाने से कोई कैसे सनातन विरोधी हो सकता है? लेकिन उससे भी दिलचस्प बात यह है कि तेजस्वी...

  • सीपीएम पर भाजपा, कांग्रेस दोनों का हमला

    केरल में सरकार चला रही सीपीएम इस समय भाजपा और कांग्रेस दोनों के निशाने पर है और साथ ही केंद्र सरकार की एजेंसियों के भी निशाने पर है। पिछले कुछ दिनों में आयकर विभाग ने सीपीएम के खिलाफ बड़ी कार्रवाई की है। उसका एक जिले में बैंक खाता सीज किया गया है। उसके बाद आयकर विभाग की ओर से बताया जा रहा है कि सीपीएम के 80 बैंक खाते ऐसे हैं, जिनके बारे में सूचना नहीं दी गई है। यानी बेहिसाबी खाते हैं। सोचें, आर्थिक ईमानदारी की नीति का सौ फीसदी पालन करने वाली पार्टी पर इतना बड़ा आरोप लगा...

  • कांग्रेस ने हरियाणा में एकता दिखाई

    हरियाणा में कांग्रेस पार्टी के लिए स्थितियां काफी अनुकूल बताई जा रही हैं। वहां भाजपा के 10 साल की सरकार के खिलाफ एंटी इन्कम्बैंसी है, जिसे कम करने के लिए भाजपा ने मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर को बदला और नायब सिंह सैनी को सीएम बनाया। लेकिन इससे जमीनी स्तर पर बहुत कुछ बदला नहीं दिख रहा है। तभी कांग्रेस के नेता मान रहे हैं कि हरियाणा में लोकसभा चुनाव में बराबरी का मुकाबला है और इसी साल होने वाले विधानसभा चुनाव में कांग्रेस जीत कर सरकार बना सकती है। कांग्रेस के रास्ते में सिर्फ एक ही बाधा बताई जा रही...

  • सीट बंटवारे के बाद महाराष्ट्र कांग्रेस में विवाद

    महाराष्ट्र में महा विकास अघाड़ी की तीनों पार्टियों शिव सेना उद्धव ठाकरे गुट, एनसीपी शरद पवार गुट और कांग्रेस में सीटों का बंटवारा हो गया है। उद्धव ठाकरे 21 और कांग्रेस 17 सीटों पर लड़ेगी। शरद पवार की पार्टी को 10 सीटें मिली हैं। सीट बंटवारे के बाद बाकी पार्टियों में तो सब ठीक है क्योंकि दोनों पार्टियां टूटने के बाद कमजोर हुई हैं और उनको जितनी सीटें मिली हैं वह पर्याप्त है। लेकिन कांग्रेस पार्टी टूटी भी नहीं और फिर भी उसकी सीटें कम हो गईं। तभी कांग्रेस के अंदर कई स्तर पर घमासान शुरू हो गया है। वैसे...

  • चौटाला परिवार में एकता नहीं बनेगी

    भारतीय जनता पार्टी से तालमेल खत्म होने और राज्य सरकार से बाहर होने के बाद दुष्यंत चौटाला की बेचैनी बढ़ रही है। उनकी जननायक जनता पार्टी के 10 विधायक हैं लेकिन लोकसभा चुनाव में पार्टी क्या करेगी और उसका भविष्य क्या होगा यह अनिश्चित हो गया लगता है। तभी दुष्यंत चौटाला के पिता अजय चौटाला ने पिछले दिनों एक बयान दिया, जिसमें उन्होंने कहा कि वे अपने पिता ओमप्रकाश चौटाला की पार्टी इंडियन नेशनल लोकदल में लौटने पर विचार कर सकते हैं। यह संकेत भी दिया गया कि वे जननायक जनता पार्टी का विलय भी इनेलो में कर सकते हैं।...

  • चुनावी बॉन्ड की नई कहानी

    राजनीतिक दलों के चंदा देने के लिए बनाई गई चुनानी बॉन्ड की योजना पर सुप्रीम कोर्ट ने रोक लगा दी है और सर्वोच्च अदालत के आदेश से इसका सारा डाटा भी सामने आ गया है। अब अलग अलग मीडिया समूह चुनाव बॉन्ड के ब्योरे का विश्लेषण कर रहे हैं और हर दिन नई कहानी सामने आ रही है। ताजा कहानी ऐसी कंपनियों के बॉन्ड खरीदने की है, जो कानूनी रूप से बॉन्ड खरीद ही नहीं सकती हैं। नियम के मुताबिक तीन साल से कम पुरानी कंपनी बॉन्ड नहीं खरीद सकती है। अगर वह बॉन्ड खरीदती है तो उसके खिलाफ कानूनी...

  • चार सौ सीट के जाल में उलझा विपक्ष

    विपक्षी पार्टियां लोकसभा चुनाव 2024 में चार सौ सीट के जाल में उलझ गई है। ऐसा लग रहा है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जान बूझकर यह जुमला बोला था। उन्होंने जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 समाप्त करने के बहाने भाजपा को 370 सीट मिलने का दावा किया और साथ ही इसका ढिंढोरा पीटना शुरू कर दिया कि इस बार के चुनाव में एनडीए को चार सौ से ज्यादा सीटें मिलेंगी। यह बहुत कमाल का संयोग हुआ कि इस साल वोटों की गिनती चार जून को होगी, जिसकी वजह से प्रधानमंत्री मोदी और उनकी पार्टी के नेता यह नारा दे...

  • पूर्णिया, बांसवाड़ा में कांग्रेस क्या करेगी?

    कांग्रेस पार्टी को कई सीटों पर अपने उम्मीदवारों की बगावत का सामना करना पड़ रहा है। उसने जो सीटें सहयोगी पार्टियों के लिए छोड़ दी हैं उन सीटों पर भी उसके नेता चुनाव लड़ रहे हैं और नाम वापस नहीं लिया है। राजस्थान की बांसवाड़ा सीट पर सबसे दिलचस्प स्थिति है, जहां कांग्रेस ने अरविंद डामोर को अपना उम्मीदवार घोषित किया था और उन्होंने नामांकन दाखिल कर दिया था। बाद में कांग्रेस और भारतीय आदिवासी पार्टी के बीच तालमेल हो गया और कांग्रेस ने यह सीट सहयोगी पार्टी के राजकुमार रौत के लिए छोड़ दी। पार्टी ने अरविंद डामोर को...

  • नकली शिव सेना कौन है

    चुनाव आयोग और महाराष्ट्र विधानसभा के स्पीकर के बाद अब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी असली और नकली शिव सेना का फैसला कर दिया है। उन्होंने सोमवार को महाराष्ट्र की एक चुनावी सभा में उद्धव ठाकरे गुट की पार्टी को नकली शिव सेना कहा। इसका मतलब है कि उनकी नजर में भी एकनाथ शिंदे का गुट असली शिव सेना है। चुनाव आयोग और स्पीकर ने भी उसी को असली शिव सेना माना क्योंकि उसके साथ ज्यादा विधायक और सांसद थे। यह अलग बात है कि उसके साथ जितने सासंद थे उतनी सीटें भी भाजपा उनको बड़ी मुश्किल से दे रही...

  • बिहार में सिर्फ जंगल राज का एजेंडा

    यह बड़ी हैरान करने वाली बात है और भाजपा और जनता दल यू बिहार में अब भी जंगल राज के उसी एजेंडे पर चुनाव लड़ रहे हैं, जिस पर दोनों ने 25-30 साल पहले चुनाव लड़ते थे। नब्बे के दशक के मध्य में जब नीतीश कुमार की पार्टी के नेता जॉर्ज फर्नांडीज होते थे और उसका नाम समता पार्टी होता था तब से भाजपा और समता पार्टी जंगल राज के मुद्दे पर चुनाव लड़ते आ रहे हैं। बिहार में लालू प्रसाद और राबड़ी देवी के शासन को नीतीश और भाजपा ने जंगल राज का नाम दिया था। हालांकि इसी मुद्दे...

  • मणिपुर पर मोदी का बड़ा दावा

    नई दिल्ली। पिछले करीब एक साल से जातीय हिंसा से जूझ रहे मणिपुर को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बड़ा दावा किया है। उन्होंने कहा है कि उनकी सरकार ने समय से राज्य में हस्तक्षेप किया, जिससे वहां की स्थिति में काफी सुधार हुआ है। गौरतलब है कि विपक्षी पार्टियां मणिपुर के मामले में प्रधानमंत्री की चुप्पी को लेकर निशाना साधती रही हैं। विपक्ष का आरोप रहा है कि केंद्र सरकार ने मामले को ठीक से संभाला होता तो हिंसा इतनी नहीं भड़कती। मणिपुर की हिंसा में दो सौ से ज्यादा लोगों की मौत हुई है और 50 हजार से...

  • सबको धार्मिक ध्रुवीकरण की चिंता

    देश की राजनीति बुनियादी रूप से बदल चुकी है। सेकुलर राजनीति करने वाली पार्टियां भी धार्मिक ध्रुवीकरण की चिंता में फैसले कर रही हैं। रमजान के महीने में होने वाली पार्टियों के इफ्तार दावतें अब लगभग बंद हो गई हैं, जिसे सबने नोटिस किया। पिछले दिनों केरल की वायनाड सीट पर कांग्रेस नेता राहुल गांधी के नामांकन के समय कांग्रेस का झंडा इसलिए नहीं लहराया गया क्योंकि पार्टी नेताओं को डर था कि कांग्रेस के साथ साथ इंडियन यूनियन मुस्लिम लीग का झंडा भी लहराना होगा और भाजपा पहले की तरह दावा कर सकती है कि पाकिस्तान के झंडा लहराए...

  • रामनवमी के नाम पर वोट की अपील

    अयोध्या में राममंदिर का निर्माण होने और रामलला की प्रतिमा की प्राण प्रतिष्ठा के बाद पहली रामनवमी आ रही है। भारतीय जनता पार्टी इसे बड़ा आयोजन बना रही है। दूसरी खास बात यह है कि रामनवमी के दिन ही पहले चरण के लिए प्रचार समाप्त होगा और दो दिन के बाद यानी 19 अप्रैल को 102 लोकसभा सीटों पर मतदान होगा। तीसरी बात यह है कि बिहार, झारखंड से लेकर उत्तर प्रदेश और दिल्ली तक में कई इलाके ऐसे हैं, जहां रामनवमी के मौके पर हिंसक झड़प होती है या शांति भंग होती है। जुलूस की वजह से कई जगह...

  • आकाश आनंद, मायावती को नगीना की चिंता

    बहुजन समाज पार्टी की नेता मायावती और उनके घोषित उत्तराधिकारी आकाश आनंद को उत्तर प्रदेश की 80 लोकसभा सीटों में से सिर्फ एक सीट की चिंता सता रही है और वह सीट है नगीना की सुरक्षित सीट। इस सीट से ज्यादा अहम वहां से लड़ रहे चंद्रशेखर आजाद हैं। वे अपनी आजाद समाज  पार्टी की टिकट से चुनाव लड़ रहे हैं। पहले कहा जा रहा था कि समाजवादी पार्टी और कांग्रेस दोनों उनका समर्थन करेंगे। लेकिन बाद में समाजवादी पार्टी ने वहां से मनोज कुमार को उम्मीदवार बना दिया। भारतीय जनता पार्टी ने भी ओम कुमार को उम्मीदवार बनाया है।...

  • दिल्ली में सिर्फ केजरीवाल का मुद्दा

    दिल्ली में कांग्रेस पार्टी ने अपने कोटे के उम्मीदवारों के नाम तय नहीं किए हैं। आम आदमी पार्टी के कोटे के चारों उम्मीदवारों के नाम तय हो गए है और वे प्रचार भी कर रहे हैं। आम आदमी पार्टी चाहती है कि कांग्रेस जल्दी अपने उम्मीदवारों की घोषणा करे ताकि साझा प्रचार हो सके। इस बीच मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की गिरफ्तारी से उनकी पार्टी को एक मुद्दा मिल गया है। अब कांग्रेस हो या आप या भारतीय जनता पार्टी हो सबका मुद्दा सिर्फ अरविंद केजरीवाल हैं। अब दिल्ली में किसी दूसरे मुद्दे की चर्चा नहीं हो रही है। कांग्रेस अध्यक्ष...

  • प्रियंका प्रचार में क्यों नहीं जा रही हैं

    कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा बिना विभाग के महासचिव हैं। महीनों से वे बिना विभाग के हैं। मल्लिकार्जुन खड़गे ने जितने महासचिव बनाए सबको काम बांट दिए गए लेकिन प्रियंका को कोई काम नहीं दिया गया। तो ऐसा लग रहा है कि वे कोई काम भी नहीं कर रही हैं। वैसे पिछले साल हुए विधानसभा चुनावों में उन्होंने प्रचार में खूब भागदौड़ की थी और चुनावी रैलियां की थीं लेकिन हिंदी पट्टी के सभी राज्यों में कांग्रेस के हारने के बाद वे घर बैठ गईं। लोकसभा चुनाव के लिए वे अभी तक प्रचार के लिए नहीं निकली हैं। वे दिल्ली...

  • भाजपा का शुरू मुस्लिम,आंतक राग

    पहले चरण के मतदान के लिए प्रचार बंद होने से 10 दिन पहले भाजपा का चुनाव उन असली मुद्दों पर लौट आया है, जिन पर वह दशकों से चुनाव लड़ती रही है। इसके अलावा नए मुद्दे भी हैं लेकिन जिन मुद्दों पर उसने अपना वोट आधार बनाया है और ध्रुवीकरण की राजनीति की है वे सारे मुद्दे उठाए जाने लगे हैं। अब प्रचार में पाकिस्तान की भी एंट्री हो गई है, मुस्लिम लीग की भी एंट्री हो गई है, तीन तलाक, इटैलियन मानसिकता, राम मंदिर, भारत में घर में घुस कर मारता है, आतंकवादियों को मारने सीमा पार चले जाएंगे...

और लोड करें