बूढ़ा पहाड़
नक्सलियों से कैसे निपटें?

छत्तीसगढ़ के टेकलगुड़ा के जंगलों में 22 जवान मारे गए और दर्जनों घायल हुए। माना जा रहा है कि इस मुठभेड़ में लगभग 20 नक्सली भी मारे गए। यह नक्सलवादी आंदोलन बंगाल के नक्सलबाड़ी गांव से 1967 में शुरु हुआ था। इसके आदि प्रवर्तक चारु मजूमदार, कानू सान्याल और कन्हाई चटर्जी जैसे नौजवान थे। ये कम्युनिस्ट थे लेकिन माओवाद को इन्होंने अपना धर्म बना लिया था। मार्क्स के ‘कम्युनिस्ट मेनिफेस्टो’ के आखिरी पेराग्राफ इनका वेदवाक्य बन गया है।ये सशस्त्र क्रांति के द्वारा सत्ता-पलट में विश्वास करते हैं। इसीलिए पहले बंगाल, फिर आंध्र व ओडिशा और फिर झारखंड और मप्र के जंगलों में छिपकर ये हमले बोलते रहे हैं और कुछ जिलों में ये अपनी समानांतर सरकार चलाते हैं। इस समय छत्तीसगढ़ के 14 जिलों में और देश के लगभग 50 अन्य जिलों में इनका दबदबा है। ये वहां छापामारों को हथियार और प्रशिक्षण देते हैं और लोगों से पैसा भी उगाहते रहते हैं। ये नक्सलवादी छापामार सरकारी भवनों, बसों और नागरिकों पर सीधे हमले भी बोलते रहते हैं। जंगलों में रहने वाले आदिवासियों को भड़का कर ये उनकी सहानुभूति अर्जित कर लेते हैं और उन्हें सब्जबाग दिखा कर अपने गिरोहों में शामिल कर लेते हैं। ये गिरोह इन जंगलों में… Continue reading नक्सलियों से कैसे निपटें?

नक्सलियों के खिलाफ तेज होगी कार्रवाई

जगदलपुर। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने नक्सलियों के खिलाफ कार्रवाई तेज करने का ऐलान किया है। उन्होंने कहा है कि नक्सलियों के खिलाफ लड़ाई निर्णायक मोड़ पर पहुंच गई है और इसे अंजाम तक पहुंचाया जाएगा। छत्तीसगढ़ के बीजापुर और सुकमा जिले की सीमा पर शनिवार को नक्सली हमले में 22 जवानों के मारे जाने की घटना के बाद केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह सोमवार को बस्तर पहुंचे और शहीद जवानों को श्रद्धांजलि दी। इसके बाद उन्होंने वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बैठक की। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल भी उनके साथ थे। गृह मंत्री सोमवार की सुबह सीमा सुरक्षा बल के विशेष विमान से बस्तर जिले के जगदलपुर पहुंचे। इस दौरान मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और केंद्रीय सुरक्षा बलों और राज्य की पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी भी मौजूद थे। शाह और बघेल ने पुलिस लाइन पहुंच कर शहीद जवानों को श्रद्धांजलि दी। शाह ने जगदलपुर में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, राज्य के वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों और केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल के अधिकारियों के साथ बैठक की। गौरतलब है कि त्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित बीजापुर और सुकमा जिले की सीमा पर शनिवार को सुरक्षा बलों और नक्सलियों के बीच हुई मुठभेड़ में सुरक्षा बल के 22 जवान शहीद हो गए थे जबकि 31 अन्य… Continue reading नक्सलियों के खिलाफ तेज होगी कार्रवाई

Bijapur Naxalite Attack: अमित शाह छत्तीसगढ़ रवाना, सुरक्षा स्थिति का लेंगे जायजा

नई दिल्ली। छत्तीसगढ़ के Bijapur में हुए नक्सली हमले के बाद सुरक्षा स्थिति की समीक्षा करने के लिए केंद्रीय गृह मंत्री Amit Shah आज Chhattisgarh रवाना हो गए हैं। इस हमले में 22 सुरक्षाकर्मी मारे गए हैं। इस दौरान शाह हमले में घायल हुए सुरक्षाकर्मियों से भी मिलेंगे, साथ ही उस जगह का भी दौरा करेंगे जहां सुरक्षाकर्मियों और नक्सलियों के बीच मुठभेड़ हुई थी। इससे पहले शाह ने रविवार को राष्ट्रीय राजधानी में अपने निवास पर हमले की समीक्षा की थी, जिसमें उन्होंने कहा था कि नक्सलियों के खिलाफ लड़ाई जारी रहेगी और हम इसे अंत तक ले जाएंगे। चुनावी प्रचार के लिए Assam गए गृह मंत्री हमले की जानकारी मिलते ही तत्काल दिल्ली लौटे थे और फिर गृह मंत्रालय, खुफिया ब्यूरो और केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बलों के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बैठक की थी। इसे भी पढ़ें – Drug Case में गिरफ्तार एजाज खान कोरोना Corona Positive, अब एनसीबी अधिकारियों में हड़कंप बीजापुर जिले में 300 सदस्यीय पीपुल्स लिबरेशन गुरिल्ला आर्मी (PLGA) के एक दल के साथ सुरक्षाबलों की मुठभेड़ में 22 सुरक्षाकर्मी मारे गए हैं और 31 घायल हुए हैं। केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (CRPF) के राकेश्वर सिंह मन्हास की अर्धसैनिक बल की कोबरा (कमांडो बटालियन फॉर रिजॉल्यूट… Continue reading Bijapur Naxalite Attack: अमित शाह छत्तीसगढ़ रवाना, सुरक्षा स्थिति का लेंगे जायजा

संदिग्ध नक्सलियों ने की जवान की हत्या

छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित बीजापुर जिले में संदिग्ध नक्सलियों ने धारदार हथियार से पुलिस के एक जवान की हत्या कर दी है। बीजापुर जिले के पुलिस अधिकारियों ने

और लोड करें