इलाहाबाद हाईकोर्ट ने ‘जोधा-अकबर’ के रिश्ते का उदाहरण देते हुए रद्द की जमानत याचिका, कहा- सिर्फ शादी के लिए धर्मांतरण गलत

इलाहाबाद हाईकोर्ट धर्मांतरण से जुड़े एक मामले पर सुनवाई कर रहा था. इसी पर टिप्पणी करते हुए कोर्ट ने कहा कि अकबर और जोधा बाई की शादी से सबक लेकर सिर्फ शादी के लिए धर्म परिवर्तन से बचना चाहिए.

अखंडता में एकता : मुस्लिम परिवार ने दिखायी मानवता, दशकों से अनाथ को बेटी की तरह पालने के बाद हिंदू रीति-रिवाजों से कराई शादी

विजयपुर में यह परिवार किसी सेलिब्रिटी से कम नहीं आंका जा रहा. सोशल मीडिया में भी लोग इस परिवार की खुलकर तारीफ कर रहे हैं. बताया जा रहा है कि युवती अनाथ थी और पिछले एक दशक से इस परिवार के साथ ही रह रही थी.

लव जिहादः 16 साल की किशोरी के साथ बहला-फुसला कर की शादी, शारीरिक शोषण और पहले से शादीशुदा होने का भी आरोप..

लव जिहादः 16 साल की किशोरी के साथ बहला-फुसला कर की शादी, शारीरिक शोषण और पहले से शादीशुदा होने का भी आरोप..

सच्चे प्यार के दुश्मन : परिवार वालों की सहमति से दिव्यांग करना चाहती थी साथ में पढ़ने वाली दूसरे धर्म के लड़के से शादी लेकिन …

नासिक | Enemies of True Love : देशभर में धर्मांतरण और लव जिहाद को लेकर एक अजीब सा माहौल तैयार हो गया है. इस महोदय कारण अब आम लोगों और सच्चे प्यार करने वाले लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है. ऐसा ही एक मामला महाराष्ट्र के नासिक से सामने आया है. यहां रहने बाली एक दिव्यांग लड़की की शादी उसी के साथ में पढ़ने वाले एक मुस्लिम लड़के से होने वाली थी तो कुछ धार्मिक संगठनों ने शादी को जबरन रुकवा दिया. लगातार बन रहे दबाव के कारण लड़की के मां-बाप को भी शादी रोकने का फैसला करना पड़ा. हालांकि शादी करके रोक जाने के बाद भी दोनों पक्ष एक दूसरे के साथ खड़े नजर आए और उनका कहना था कि दोनों परिवारों की सहमति से इस विवाह को संपन्न कराया जा रहा था. क्या है मामला Enemies of True Love : नासिक में एक 28 साल की दिव्यांग लड़की को जब ढूंढे दूल्हा नहीं मिल रहा था तो परिवार वाले भी परेशान हो गए. इसके बाद लड़की ने खुद ही अपने परिवार वालों को बताया कि वह अपने साथ में पढ़ने वाले एक मुस्लिम लड़के से शादी करना चाहती है. दोनों परिवार एक दूसरे से मिले… Continue reading सच्चे प्यार के दुश्मन : परिवार वालों की सहमति से दिव्यांग करना चाहती थी साथ में पढ़ने वाली दूसरे धर्म के लड़के से शादी लेकिन …

Love Jihad in Kashmir : अपने घर लौटी अगवा की गई एक लड़की, घर और सिख समुदाय ने शादी करवाकर भेजा दिल्ली

नई दिल्ली | Love Jihad in Kashmir : जम्मू कश्मीर में कथित तौर पर लव जिहाद का मामले ने काफी तूल पकड़ा. ताजा जानकारी के अनुसार अब एक लड़की वापस अपने घर आ गई है. लड़की के वापस लौटने के तुरंत बाद उसका सिख समुदाय के एक युवक से विवाह भी करा दिया गया. शादी के बाद कश्मीर से दिल्ली के लिए रवाना भी हो गया है. इस विवाह के बाद से इस में जोड़े को शुभकामनाएं देने का सोशल मीडिया में ताता लग गया है. बता दें कि अभी 2 दिन पहले जम्मू-कश्मीर में लव जिहाद के मुद्दे पर जमकर बवाल मचा था. इस मसले पर दिल्ली से लेकर कश्मीर तक सिख समुदाय के लोगों ने सड़क पर उतर कर प्रदर्शन किया था. एक लड़की अभी भी नही आई वापस Love Jihad in Kashmir: अभी भी एक लड़की वापस अपने घर लौट कर नहीं आई है. बताया जा रहा है कि लड़की ने कोर्ट में बयान दिया है कि वह अपने पति के साथ ही रहना चाहती है. हालांकि परिवार वालों का कहना है कि लड़की की मानसिक स्थिति ठीक नहीं है और उसे डरा धमका कर रखा जा रहा है. इतना ही नहीं लड़की के मां-बाप का कहना… Continue reading Love Jihad in Kashmir : अपने घर लौटी अगवा की गई एक लड़की, घर और सिख समुदाय ने शादी करवाकर भेजा दिल्ली

2 युवतियों के जबरन धर्मांतरण और शादी के खिलाफ भड़का सिख समाज, कहा-मौलाना और मुफ्ती चुप क्यों हैं ?

लखनऊ | Kashmir case conversion Issue : उत्तर प्रदेश में अभी धर्मांतरण का मामला ठीक से सुलझा भी नहीं है और अब श्रीनगर में यह मामला तूल पकड़ चुका है. जानकारी के अनुसार कश्मीर में रहने वाली 2 लड़कियों का जबर्दस्ती धर्म परिवर्तन कर निकाह कर दिया गया. आरोप है कि कश्मीर में आए दिन इस तरह के मामले बढ़ते जा रहे हैं. प्रदर्शन करने वाले सिख समुदाय के लोगों का कहना है कि कभी बहला-फुसलाकर तो कभी दबाव बनाकर लड़कियों का धर्म परिवर्तन कराया जा रहा है. यहां बता दें कि लड़कियों का पक्ष अभी तक सामने नहीं आया है हालांकि हाई कोर्ट द्वारा उन्हें सुरक्षा मुहैया करवा दी गई है. आज मौलाना और मुफ्ती चुप क्यों हैं Kashmir case conversion Issue : आरोप है कि 2 युवतियों को गन पॉइंट पर अगवा कर लिया गया. इसके बाद जबरदस्ती उनका तो मुस्लिम युवकों से निकाह पढ़ा दिया गया. जब मामले ने तूल पकड़ा और मामला हाईकोर्ट गया तो हाई कोर्ट में मां-बाप को अंदर तक जाने नहीं दिया गया. सिख समुदाय का कहना है कि जब प्रदर्शन पड़ गया तब रात के 10:30 बजे एक युवती को कोर्ट से बाहर भेज दिया गया. सिख समुदाय का कहना है कि… Continue reading 2 युवतियों के जबरन धर्मांतरण और शादी के खिलाफ भड़का सिख समाज, कहा-मौलाना और मुफ्ती चुप क्यों हैं ?

ईसा के नाम पर कैसा जुल्म ?

अमेरिका और कनाडा दुनिया के सबसे अधिक सभ्य और मालदार देश माने जाते हैं। दुनिया के ईसाई भी उन पर गर्व करते हैं लेकिन कनाडा के ब्रिटिश कोलंबिया प्रांत से एक ऐसी खबर आई है, जो रोंगटे खड़े तो कर ही देती है, वह ईसाइयत और अमेरिकी सभ्यता पर कालिख भी पोत देती है। इस प्रांत में 19 वीं सदी के उत्तरार्ध से 20 वीं सदी के उत्तरार्ध तक एक ऐसा स्कूल चलता रहा, जिसके कब्रिस्तान में 215 छात्रों के शव मिले हैं। इनमें तीन-तीन साल के बच्चे भी थे। इन शवों को एक नई तकनीक के द्वारा खोजा गया है। ये बच्चे कौन थे और ये क्यों मर गए थे ? बच्चों के स्कूल-परिसर में कब्रिस्तान की जरुरत क्यों थी ? ये बच्चे कनाडा के आदिवासियों के थे। यह भी पढ़ें: हिंदी पत्रकारिता दिवस पर बधाई जब यूरोप के गोरे अमेरिकी महाद्वीप में गए तो उन्होंने वहां के आदिवासियों की ज़मीनों पर कब्जा तो किया ही, उन्हें खत्म करने की भी कोशिश की। उनके बच्चों को जबर्दस्ती अपने स्कूलों में भर्ती करने और उन्हें छात्रावासों में रहने के लिए मजबूर किया जाता था। उन स्कूलों का नाम अक्सर ‘इंडियन’ स्कूल हुआ करता था। अमेरिका में अब भी वहां के… Continue reading ईसा के नाम पर कैसा जुल्म ?

मध्यप्रदेश में धर्म परिवर्तन बना दंडनीय अपराध, जबरिया शादी और धर्म बदलने पर रोक के लिए आया यह कानून

भोपाल | जोर-जबरदस्ती से धर्म परिवर्तन कराने और धोखा देकर विवाह रचाने की वारदात पर रोक लगाने के लिए मध्य प्रदेश में धार्मिक स्वतंत्रता अधिनियम 2021 लागू किया गया है। गौरतलब है कि राज्य में बीते साल धार्मिक स्वतंत्रता अधिनियम लागू किए जाने का प्रस्ताव कैबिनेट में पारित किया गया था। विधानसभा में भी इस अधिनियम को पारित किया गया था। भाजपा की सत्ता में हुई वापसी के बाद इसकी चर्चा जोरों पर थी। विधानसभा द्वारा पारित अधिनियम राज्यपाल की अनुमति के बाद मध्यप्रदेश के राजपत्र में 27 मार्च 2021 को इस कानून को प्रकाशित कर दिया गया है। मध्यप्रदेश धार्मिक स्वतंत्रता अधिनियम के तहत अब एक धर्म से दूसरे धर्म में परिवर्तन दंडनीय अपराध माना गया है। इसी तरह धर्म परिवर्तन करने के आशय के साथ किया गया विवाह भी अकृत तथा शून्य माना जाएगा। इस संबंध में संपरिवर्तित व्यक्ति खुद के साथ उसके माता—पिता अथवा सहोदर भाई—बहन न्यायालय की अनुमति से याचिका लगा सकेंगे। धर्म परिवर्तन में व्यक्ति ही नहीं बल्कि कोई संस्था या संगठन इस अधिनियम के किसी उपबंध का उल्लंघन करता है, उसे भी सजा होगी। इस अधिनियम के अधीन मामलों की जांच उप निरीक्षक स्तर व उससे उच्च अफसर ही कर सकेंगे। Must Read :… Continue reading मध्यप्रदेश में धर्म परिवर्तन बना दंडनीय अपराध, जबरिया शादी और धर्म बदलने पर रोक के लिए आया यह कानून

29 साल के मैनुद्दीन ने एक साल पहले मन्नू यादव बनकर 20 साल की युवती से मंदिर में की थी शादी, ऐसे हुआ खुलासा

Gorakhpur:  देश में बीते कुछ महीनों में  लव जिहाद(love jihad) को लेकर काफी विवाद हुआ था. जिसके बाद देश  के कई राज्यों में इस पर कानून बनाने को लेकर भी विवाद शुरु हो गया था. इन सबके बाद एक बाद एक बार फिर से यूपी से  ‘लव जिहाद’  का मामला सामने आया है. यहां बता दें कि लव जिहाद पर योगी आदित्यनाथ(Yogi Adityanath) ने कानून बना दिया था. इसके बाद भी सनसनीखेज मामला सामने आया है. जानकारी के अनुसार यूपी में मैनुद्दीन नाम के एक व्यक्ति ने मन्नू यादव ने बनकर मंदिर में एक महिला से शादी रचा ली. शादी के लगभग एक साल बाद जब यवती को पता चला कि उसके पति का नाम मन्नू यादव नहीं बल्कि मैनुद्दीन है तो उसके तो तोते ही उड़ गये. युवती ने तुरंत थाने जा कर अपने साथ हुए धोखे के बारे में पुलिस को बता दिया उसे ये भी पता चला कि उसका पति अब किसी मुस्लिम महिला से शादी करने की योजना बना रहा है. यूपी में  ‘लव जिहाद’ के खिलाफ कानून(LAW)  को को मंजूरी दे चुकी है. इसके साथ ही  10 साल तक जेल( Jail)  की सजा का भी  प्रावधान है. इसे भी पढ़ें- उत्तराखंड में भाजपा का मास्टर स्ट्रोक,… Continue reading 29 साल के मैनुद्दीन ने एक साल पहले मन्नू यादव बनकर 20 साल की युवती से मंदिर में की थी शादी, ऐसे हुआ खुलासा

‘विदआउट रिमॉर्स’ में माइकल बी. जॉर्डन संग शामिल हुए ब्रेट गेलमैन

‘फ्लीबैग’, ‘स्ट्रेंजर थिंग्स’ और ‘लव’ में अपने प्रदर्शन से दर्शकों के दिलों को जीतने वाले ब्रेट गेलमैन, टॉम क्लैंसी के ‘विदाउट रिमॉर्स’ के रुपांतरण में माइकल बी.जॉर्डन संग शामिल हुए हैं। वैरायटी के मुताबिक, जेमी बेल और जोडी-टर्नर स्मिथ भी इस फिल्म में हैं। जॉर्डन एक संचालन अधिकारी जॉन क्लार्क के किरदार में नजर आएंगे जिसे जॉन टेरेंस केली के नाम से भी जाना जाता है, वह एक पूर्व नौसेना सील है और सीआईए (सेंट्रल इंटेलीजेंस एंजेसी) के लिए काम करता है। बेल, रॉबर्ट रिटर का किरदार निभाएंगे जो सीआईए के डिप्टी संचालन निदेशक हैं और क्लैंसी के इस उपन्यास का एक मुख्य पात्र हैं। पटकथा लेखक टेलर शेरिडन द्वारा लिखी गई स्क्रिप्ट को फिल्मकार स्टेफानो सोलीमा निर्देशित करेंगे।

और लोड करें