अमेरिकी सांसदों ने कश्मीर में पत्रकारों को जाने देने की मांग की

वाशिंगटन। अमेरिका के छह सांसदों ने अमेरिका में भारत के राजदूत हर्षवर्धन श्रृंगला को एक पत्र लिख कर कश्मीर में विदेशी पत्रकारों और सांसदों की पहुंच की मांग की और दावा किया कि भारत द्वारा पेश की जा रही घाटी की तस्वीर उनके पक्ष द्वारा दी जानकारी से अलग है। अमेरिका के कश्मीर में राजनीतिक और आर्थिक स्थिति सामान्य करने के लिए ‘खाका’ तैयार करने और राजनीतिक बंदियों को तत्काल रिहा करने की मांग करने के बाद सांसदों ने श्रृंगला ने यह पत्र लिखा। संबंधित खबरें: नाजुक वक्त और कश्मीर के सवाल सांसदों ने पत्र में कहा कि हम पूरी पारदर्शिता में विश्वास करते हैं और इसे पत्रकारों और कांग्रेस के सदस्यों को क्षेत्र में पहुंच प्रदान करके ही हासिल किया जा सकता है। हम स्वतंत्र मीडिया के हित में और संचार बढा़ने के मद्देनजर भारत को जम्मू-कश्मीर को देश-विदेश के पत्रकारों और अन्य अंतरराष्ट्रीय आगंतुकों के लिए खोलने के लिए प्रोत्साहित करते हैं। संबंधित खबरें: जीसी मुर्मु जम्मू कश्मीर और आर के माथुर लद्दाख के उपराज्यपाल होंगे सांसद डेविड सिसिलिन, डीना टाइटस, क्रिसी हौलाहन, एंडी लेविन, जेम्स मैकगोवर्न और सूसन वाइल्ड ने यह पत्र लिखा है। 24 अक्टूबर को लिखे इस पत्र के कहा गया इसमें श्रृंगला द्वारा 16… Continue reading अमेरिकी सांसदों ने कश्मीर में पत्रकारों को जाने देने की मांग की

और लोड करें