मोदी है तो मुमकिन है: आप मत लेना दिवाली में चाइनीज लाइट, भले सरकार चीन से करती रहे रिकार्ड आयात ( आंकड़ों पर बात)

देश में मोदी सरकार के आने के बाद से भारत-पाकिस्तान और भारत-चीन के रिश्ते को लेकर समय-समय पर विवाद चिढ़ता रहा है. आपके पास भी तो दिवाली में चाइनीस लाइट नहीं खरीदने के मैसेज तो व्हाट्सएप पर आए होंगे. लेकिन आज हम आपको जो बताना जा रहे हैं यह सुनकर आपको भी धक्का लग सकता है. यह तो सबको पता है कि भारत और चीन के बीच गहरा व्यापारिक संबंध है. इसके बाद भी देश के लोगों को चुनाव के समय देश के लोगों को बरगलाने की कोशिश की जाती है. ऐसा हम इसलिए कह रहे हैं क्योंकि चीन से आयात कभी कम हुआ ही नहीं बल्कि साल दर साल बढ़ता ही गया है. आंकड़ों के अनुसार 2018 19 देश में कुल आयात का 13.6% हिस्सा चीन का था. इसके बाद 2019-20 में या आंकड़ा बढ़कर 13.73% हो गया. अब शायद आपको भी झटका लग सकता है कि 2020-21 में यहां पड़ा सर्वाधिक 16.92% पहुंच गया. मतलब साफ है देश की सरकार चीनी सामानों का विरोध से दिवाली और चुनाव के समय करना चाहती है जिससे उनके वोट बैंक में विस्तार हो सके. चीन की ग्रोथ रेट बढ़ाने में भारत का बड़ा योगदान 2022 की आखिरी तिमाही जनवरी-मार्च में भारत… Continue reading मोदी है तो मुमकिन है: आप मत लेना दिवाली में चाइनीज लाइट, भले सरकार चीन से करती रहे रिकार्ड आयात ( आंकड़ों पर बात)

Corona ने सिखाई एकजुटता, पाकिस्तान में भारत के कोरोना हालातों पर संवेदनाएं कर रही है Trend

New Delhi: भारत-पाकिस्तान की सरकारों के बीच भले ही कितना विवाद क्यों न हो. लेकिन अक्सर ऐसा देखा गया है कि दोनों देशों की आवाम एक दूसरे के लिए अपना प्यार जाहिर करती रही है. एक बार फिर भारत में कोरोना के कहर और ऑक्सीजन की किल्लत को देखते हुए पाकिस्तान के लोगों का भारतीयों के प्रति प्रेम सामने आया है. पाकिस्तान की आवाम ने प्रधानमंत्री इमरान खान (Imran Khan) को भारत की मदद करने की अपील की है. पाकिस्तान के ट्विटर हैंडल पर तेजी से  #इंडियन लाइव्ज मैटर, #पाकिस्तानस्टैंडविदइंडिया, #इंडियानीडऑक्सिजन, #पाकिस्तानविदइंडिया जैसे  #trend कर रहे हैं. इतना ही नहीं पाकिस्तान के समाजसेवी अब्दुल सत्तार इडी के बेटे फैसल इदी में भी प्रधानमंत्री को पत्र लिखा है और भारत में बढ़ते कोरोना संक्रमण मामलों पर चिंता जताई है इसके साथ ही उन्होंने हर संभव मदद का भी ऐलान किया है. 50 एम्बुलेंस भेजने का प्रस्ताव फैसल ने प्रधानमंत्री मोदी को लिखे गए अपने खत में लिखा है कि हम इस मुश्किल की घड़ी में भारत के साथ हैं. उन्होंने लिखा कि कोरोना देश की सीमाओं को नहीं देखता. ऐसे में अगर भारत सरकार हमें किसी भी काबिल समझे तो यह हमारे लिए खुशनसीबी की बात होगी. फैजल ने भारत की… Continue reading Corona ने सिखाई एकजुटता, पाकिस्तान में भारत के कोरोना हालातों पर संवेदनाएं कर रही है Trend

बड़ा खुलासा! पाकिस्तान के उकसाने पर भारत सरकार बड़ी सैन्य कार्रवाई को तैयार

वाशिंगटन। भारत-पाकिस्तान के रिश्तों (India Pakistan Relationship) पर जमीं बर्फ हाल ही के दिनों में जैसे ही पिघलती नजर आती दिखी, वैसे ही एक अमरीकी रिपोर्ट (US intelligence report) के खुलासे ने एक बार फिर से तहलका मचा दिया है। इस खुलासे के बाद पाकिस्तान में हड़कंप मच गया है। आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में दोहरा मापदंड अपनाने वाले पाकिस्तान को बीते कुछ सालों में भारतीय सेना का सामना करना पड़ा है। यह भी पढ़ें:- कितना कुछ बदल गया एनुअल थ्रेट असेसमेंट ऑफ द इंटेलिजेंस कम्यूनिटी रिपोर्ट 2021 में खुलासा हुआ है कि पाकिस्तान ने अगर भारत को उकसाने की कोशिश की तो पीएम नरेंद्र मोदी (Minister Narendra Modi) की अगुवाई में भारत इस्लामाबाद पर बड़ी सैन्य कार्रवाई भी कर सकता है। यह भी पढ़ें:- भारत कुछ करके दिखाए रिपोर्ट में कहा गया है कि नरेंद्र मोदी की सरकार भारत की पिछली सरकारों की तरह शांत नहीं रहेगी, बल्कि मोदी के नेतृत्व में भारत पाकिस्तान पर सैन्य कार्रवाई करने से पीछे नहीं हटेगा। पहले की तुलना अब पीएम मोदी के नेतृत्व में भारत के पाकिस्तान की ओर से उकसावे का सैन्य जवाब देने की संभावनाएं ज्यादा है। रिपोर्ट में यह भी कहा गया है कि दोनों देशों के बीच युद्ध की संभावना… Continue reading बड़ा खुलासा! पाकिस्तान के उकसाने पर भारत सरकार बड़ी सैन्य कार्रवाई को तैयार

भारत के साथ रिश्ते बहाल करने को बेताब पाकिस्तान, जल्द हो सकती है पीएम मोदी और इमरान खान की मुलाकात!

इस्लामाबाद। भारत और पाकिस्तान के बीच रिश्तों में जमी बर्फ के अब पिघलने के संकेत दिखाई दे रहे हैं। दोनों ही देश एक बार फिर से आपसी संबंधों को बहाल कर आगे बढ़ने को लेकर तत्परता दिखा रहे हैं। ऐसे में ये कयास भी लगाए जा रहे हैं कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ( narendra modi ) और पाकिस्तान के पीएम इमरान खान ( Imran Khan )  बहुत जल्द मुलाकात कर सकते हैं। ब्रिटिश अखबार फाइनेंशियल टाइम्स ने सूत्रों के हवाले से ये दावा किया है कि दोनों शीर्ष नेताओं की मुलाकात के लिए कवायद शुरू कर दी गई है। पाकिस्तानी सेना प्रमुख कमर जावेद बाजवा इसके लिए भारतीय अधिकारियों के साथ बातचीत कर रहे हैं ताकि पीएम मोदी और इमरान खान के बीच मुलाकात का रास्ता साफ हो सके। यह भी पढ़ें:-कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए प्रवासी मजदूरों के लिए शुरु हुई 7 स्पेशल ट्रेनें, ऐसे करवाएं बुकिंग ब्रिटिश अखबार के दावे के अनुसार भारत-पाकिस्तान के बीच रिश्तों में जमी बर्फ को पिघलाने के पीछे संयुक्त अरब अमीरात भूमिका में है। दोनों देषों के बीच शांति और बातचीत को बहाल करने में संयुक्त अरब अमीरात मदद कर रहा है। रिपोर्ट में दावा किया गया है कि पाकिस्तानी सेना… Continue reading भारत के साथ रिश्ते बहाल करने को बेताब पाकिस्तान, जल्द हो सकती है पीएम मोदी और इमरान खान की मुलाकात!

पाकिस्तान का शीर्षासन

पाकिस्तान ने गजब की पलटी खाई है। यह किसी शीर्षासन से कम नहीं है। उसके मंत्रिमंडल की आर्थिक सहयोग समन्वय समिति ने परसों घोषणा की कि वह भारत से 5 लाख टन शक्कर और कपास खरीदेगा लेकिन 24 घंटे के अंदर ही मंत्रिमंडल की बैठक हुई और उसने इस घोषणा को रद्द कर दिया। यहां पहला सवाल यही है कि उस समिति ने यह फैसला कैसे किया ? उसके सदस्य मंत्री लोग तो हैं ही, बड़े अफसर भी हैं। क्या वे प्रधानमंत्री से सलाह किए बिना भारत-संबंधी कोई फैसला अपने मनमाने ढंग से कर सकते हैं ? बिल्कुल नहीं। उन्होंने प्रधानमंत्री इमरान खान की इजाजत जरुर ली होगी। लेकिन जैसे ही परसों दोपहर उन्होंने यह घोषणा की, पाकिस्तान के विरोधी दलों ने इमरान सरकार पर हमला बोलना शुरु कर दिया। उन्हें कश्मीरद्रोही कहा जाने लगा। कट्टरपंथियों ने इस फैसले के विरोध में प्रदर्शनों की धमकी भी दे डाली। इमरान इतने मजबूत आदमी हैं कि वे इन धमकियों की भी परवाह नहीं करते, क्योंकि उन्हें अपने कपड़ा-उद्योग और आम आदमियों की तकलीफों को दूर करना था। कपास के अभाव में पाकिस्तान का कपड़ा उद्योग ठप्प होता जा रहा है, लाखों मजदूर बेरोजगार हो गए हैं और शक्कर की मंहगाई ने पाकिस्तान… Continue reading पाकिस्तान का शीर्षासन

भारत पाकिस्तान के साथ काम करना चाहता है, युद्ध नहीं : अख्तर

लाहौर। पाकिस्तान के पूर्व तेज गेंदबाज शोएब अख्तर का मानना है कि भारत तो पाकिस्तान के साथ काम करने के लिए मरा जा रहा है और वह इस्लामाबाद से कभी युद्ध नहीं करना चाहता है। अख्तर ने एक टीवी चैट शो में कहा भारत बहुत ही बेहतरीन जगह है और वहां के लोग भी बहुत ही अच्छे हैं। मुझे तो कभी ऐसा नहीं लगा कि उन्हें पाकिस्तान से कोई दुश्मनी है या किसी तरह का युद्ध चाहिए, लेकिन जब कभी भी मैं उनके टीवी को देखता हूं तो ऐसा लगता है मानो कल ही युद्ध होने वाली है। उन्होंने कहा मैं भारत के काफी जगहों पर गया हूं और उस देश को बहुत ही पास से देखा है। आज मैं यह कह सकता हूं कि भारत पाकिस्तान के साथ काम करने को मर रहा है। कोरोनावायरस के मुद्दे पर पूर्व तेज गेंदबाज ने कहा मुझे उम्मीद है भारत इस घाटे को आने नहीं देगा। मैं उम्मीद करता हूं कि वो बेहतर करें, लेकिन जो कुछ भी इस वक्त हो रहा है वो तो बहुत ही दुर्भाग्यशाली है।

भारत-पाक ने एटमी संस्थानों की सूची साझा की

नई दिल्ली। नए साल के पहले दिन बुधवार को परमाणु हथियारों से लैस भारत और पाकिस्तान ने अपने-अपने एटमी संस्थानों की सूची साझा की। विदेश मंत्रालय ने बुधवार को कहा कि यह सिलसिला पिछले 29 साल से चल रहा है। दोनों देश एक दूसरे के परमाणु संस्थानों और सुविधाओं पर हमला नहीं करने के समझौते के तहत यह सूची साझा करते हैं। यह प्रक्रिया नई दिल्ली और इस्लामाबाद में कूटनीतिक माध्यमों से एक साथ पूरी की गई। भारत और पाकिस्तान के बीच 31 दिसंबर 1988 को यह समझौता किया गया था। इसे 27 जनवरी 1991 को लागू किया गया था और पहली सूची एक जनवरी 1992 को साझा की गई थी। इसके बाद से हर साल एक जनवरी को दोनों देश यह सूची साझा करते हैं। भारत और पाकिस्तान के बीच एटमी खतरे को लेकर भी समझौता है, जिसे 2017 में पांच साल के लिए बढ़ाया गया था। यह समझौता एटमी हथियारों से जुड़े हादसों का खतरा कम करने के लिए किया गया था। इस समझौते के तहत दोनों देश अपने क्षेत्र में परमाणु हथियारों से हादसा होने पर एक दूसरे को सूचना देंगे। ऐसा इसलिए, क्योंकि रेडिएशन की वजह से सीमा पार भी नुकसान हो सकता है। यह समझौता… Continue reading भारत-पाक ने एटमी संस्थानों की सूची साझा की

नूर-सुल्तान में खेला जाएगा भारत-पाकिस्तान डेविस कप टाई

भारत और पकिस्तान के बीच डेविस कप टाई 29 और 30 नवंबर को कजाकिस्तान की राजधानी नूर-सुल्तान में खेला जाएगा। अखिल भारतीय टेनिस संघ (एआईटीए) के सचिव हिरमोनी चटर्जी ने मंगलवार को आईएएनएस से कहा, “हमें अंतर्राष्ट्रीय टेनिस महासंघ (आईटीएफ) ने एक मेल भेजा है।

और लोड करें